Top
राष्ट्रीय

लाल किला उपद्रव मामले में एक और आरोपी मनिंदर सिंह गिरफ्तार, दीप सिद्धू और इकबाल की पहले हो चुकी है गिरफ्तारी

Janjwar Desk
17 Feb 2021 4:16 AM GMT
लाल किला उपद्रव मामले में एक और आरोपी मनिंदर सिंह गिरफ्तार, दीप सिद्धू और इकबाल की पहले हो चुकी है गिरफ्तारी
x
उसकी गिरफ्तारी दिल्ली के प्रीतमपुरा इलाके से हुई है, लाल किला उपद्रव मामले के मुख्य आरोपी दीप सिद्धू और एक अन्य इकबाल सिंह को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है..

जनज्वार। 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर दिल्ली के लाल किले में हुई घटना के मामले में एक और आरोपी मनिंदर सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। मनिंदर सिंह को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की टीम ने गिरफ्तार किया है।

बताया जा रहा है कि उसकी गिरफ्तारी दिल्ली के प्रीतमपुरा इलाके से हुई है। लाल किला उपद्रव मामले के मुख्य आरोपी दीप सिद्धू और एक अन्य इकबाल सिंह को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है।

दिल्ली पुलिस के मुताबिक लाल किला उपद्रव मामले के आरोपी मनिंदर सिंह के स्वरूप नगर स्थित आवास से दो तलवार बरामद किए गए हैं और मामले में उसकी संलिप्तता को लेकर आगे पूछताछ और जांच की जा रही है।


इससे पहले दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बीते 8 फरवरी की रात को हरियाणा में करनाल बाइपास के पास से दीप सिद्धू को गिरफ्तार किया था। सिद्धू को कोर्ट ने 9 फरवरी को सात दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया था। पुलिस ने यह कहते हुए दस दिन की हिरासत मांगी थी कि ऐसे वीडियो में हैं जिनमें सिद्धू कथित रूप से घटनास्थल पर देखा जा सकता है।


वहीं एक और आरोपी इकबाल को 9 फरवरी, मंगलवार को पंजाब के होशियारपुर से गिरफ्तार किया गया। उसके ऊपर 50 हजार रुपये इनाम भी रखा गया था। वहीं पुलिस ने दीप सिद्धू, जुगराज सिंह, गुरजोत सिंह और गुरजंत सिंह के बारे में सूचना देने वालों को एक लाख रुपये का नकद इनाम देने की घोषणा की थी।

पुलिस ने जजबीर सिंह, बूटा सिंह, सुखदेव सिंह और इकबाल सिंह के बारे में सूचना देने वालों के लिए 5० हजार रुपये का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की थी।

बता दें कि केंद्र सरकार के तीन नये कृषि कानूनों को वापस लेने की किसान संगठनों की मांग के समर्थन में 26 जनवरी के दिन किसानों ने ट्रैक्टर परेड निकाली थी। इसके दौरान दिल्ली में कुछ जगहों पर हिंसक झड़प हुई थीं। इसके बाद कुछ प्रदर्शनकारी लाल किले पर पहुंच गए थे। उन्होंने लाल किला की प्राचीर पर धार्मिक झंडा लगा दिये थे।

गौरतलब है कि 26 जनवरी को हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी दिल्ली में दाखिल हो गये थे और आईटीओ सहित अन्य स्थानों पर पुलिस से झडपें हुई थीं। इस दौरान कई लोग ट्रैक्टर चलाते हुए लाल किला पहुंच गये और उसकी प्राचीर पर एक धार्मिक झंडा लगा दिया।

Next Story

विविध

Share it