राष्ट्रीय

Azam Khan News : आजम खान ने सरकार से मांगी Z कैटेगरी सुरक्षा, बोले - मुझे और मेरे परिवार को जान का खतरा

Janjwar Desk
23 July 2022 4:48 PM GMT
Azam Khan News : आजम खान ने सरकार से मांगी Z कैटेगरी सुरक्षा, बोले - मुझे और मेरे परिवार को जान का खतरा
x

Azam Khan News : आजम खान ने सरकार से मांगी Z कैटेगरी सुरक्षा, बोले - मुझे और मेरे परिवार को जान का खतरा

Azam Khan News : आजम खान ( Azam Khan ) ने कहा है कि मुझे और मेरे परिवार को बहुत धमक‍ियां मिल रही हैं, मैं यूपी सरकार से अपील करता हूं कि वह मुझे मेरी जेड श्रेणी की सुरक्षा वापस कर दें...

Azam Khan News : समाजवादी पार्टी ( Samajwadi Party ) के नेता और रामपुर ( Rampur ) से विधायक आजम खान ( Azam Khan News ) ने उत्तर प्रदेश ( Uttar Pradesh ) की योगी आदित्यनाथ ( सीएम Yogi Adityanath ) की सरकार से मांग की है कि उन्हें जेड श्रेणी की सुरक्षा ( Z category security ) फिर से मुहैया कराई जाए। बता दें कि आजम खान ने खुद को और अपने परिवार की सुरक्षा को खतरा बताया है। गौरतलब है कि आजम खान ( Azam Khan News ) को इस समय वाई कैटिगरी की सुरक्षा मिली हुई है।

आजम खान और उनके परिवार को मिल रही हैं धमकियां

आपको जानकारी के लिए बता दें कि समाजवादी पार्टी के नेता और रामपुर से विधायक आजम खान ( Azam Khan News ) ने आज शनिवार (23 जुलाई) को कहा है कि 'मुझे और मेरे परिवार को बहुत धमक‍ियां मिल रही हैं। मैं यूपी सरकार से अपील करता हूं कि वह मुझे मेरी जेड श्रेणी की सुरक्षा वापस कर दें। इस समय मुझे वाई कैटिगरी की सुरक्षा मिली हुई है जिसकी कोई प्रासंगिकता नहीं है।'

साल 2017 वापस ले ली गई थी आजम खान Z कैटेगरी सुरक्षा

आपको जानकारी के लिए बता दें कि आजम खान को मिली हुई जेड कैटेगरी की सुरक्षा उस समय वापस ले ली गई थी। जब साल 2017 में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार सत्ता में आई थी। बता दें कि इस समय आजम खान पर कई मुकदमे चल रहे हैं। वह सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court ) से जमानत मिलने के बाद रामपुर लौटे हैं। आजम खान करीब दो साल से जेल में बंद थे।

जानिए क्या है Z और Y कैटगरी की सुरक्षा में अंतर

आपको जानकारी के लिए बता दें कि किस वीआईपी को किस श्रेणी की सुरक्षा मिलनी है, इसका आकलन खतरे को देखते हुए किया जाता है। जान का खतरा होने पर सुरक्षा देना सरकार का काम होता है। जिस भी वीआईपी को जेड श्रेणी की सुरक्षा दी जाती है, उसके साथ 22 सुरक्षाकर्मी और 5 एनएसजी कमांडो होते हैं, जबकि वाई श्रेणी की सुरक्षा में 11 सुरक्षाकर्मियों के साथ 2 कमांडो और एक्स श्रेणी की सुरक्षा में 5 या 2 सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की जाती है।

Next Story

विविध