बिहार

सांसद प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर NDA में घमासान, मांझी बोले-बताएं कौन शूद्र है और कौन आतंकवादी

Janjwar Desk
15 Dec 2020 2:30 AM GMT
सांसद प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर NDA में घमासान,  मांझी बोले-बताएं कौन शूद्र है और कौन आतंकवादी
x
जीतनराम मांझी ने यह भी मांग की है कि एससी-एसटी को शूद्र कहने वाली बीजेपी सांसद देश के दलितों से माफ़ी माँगें, उन्होंने कहा कि अपने बयान से प्रज्ञा ठाकुर हमेशा दलितों को अपमानित करतीं हैं...

जनज्वार ब्यूरो/पटना। बीजेपी की सांसद प्रज्ञा ठाकुर के 'शूद्र' शब्द के साथ दिए गए एक बयान के बाद जहां वे विपक्षी दलों के निशाने पर आ गई हैं, वहीं एनडीए के घटक दल भी उनसे खफा हो गए हैं। हालांकि उनके बयान को लेकर बीजेपी की ओर से अभी कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।

एनडीए के घटक दल हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के प्रमुख व बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी इस बयान से खासे खफा हो गए हैं और उन्होंने सीधे बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को समझाने की मांग कर दी है। साथ ही उन्होंने सांसद प्रज्ञा ठाकुर से माफी मांगने की मांग भी की है।

जीतनराम मांझी ने सांसद प्रज्ञा ठाकुर के शूद्र संबन्धी दिए गए बयान पर पलटवार करते हुए यह भी मांग की है कि एससी-एसटी को शूद्र कहने वाली बीजेपी सांसद देश के दलितों से माफ़ी माँगें। उन्होंने कहा कि अपने बयान से हमेशा दलितों को अपमानित करतीं हैं प्रज्ञा ठाकुर।

जीतन राम मांझी ने सोमवार को ट्वीट करते हुए लिखा 'बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से आग्रह है कि अपने बड़बोली सांसद प्रज्ञा ठाकुर को समझाएँ कि वह SC/ST समाज को अपमानित मत करें। प्रज्ञा ठाकुर हमें मत बताएं कि कौन शुद्र है और कौन आतंकवादी।'


उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश के सीहोर में एक कार्यक्रम के दौरान सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने एक विवादित बयान दिया था। प्रज्ञा ठाकुर ने कहा था 'जब हम किसी क्षत्रिय को क्षत्रिय कहते हैं तो उसे बुरा नहीं लगता है। यदि हम किसी ब्राह्मण को ब्राह्मण कहते हैं तो उसे बुरा नहीं लगता है। यदि हम किसी वैश्य को वैश्य कहते हैं तो उसे बुरा नहीं लगता है। लेकिन यदि हम किसी शूद्र को शूद्र कहते हैं तो वह बुरा मान जाता है। कारण क्या है? क्योंकि वे बात को समझते नहीं हैं।'

सीहोर में अपने कार्यक्रम के दौरान प्रज्ञा सिंह ठाकुर यहीं नहीं रूकीं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रहित में क्षत्रियों को अधिक बच्चे पैदा करना चाहिए। उन्होंने कहा कि क्षत्रिय कुल खत्म हो जाएगा तो राष्ट्र की रक्षा कौन करेगा। उन्होंने कहा कि देश की रक्षा के लिए संतान पैदा कीजिए और उन्हें सैनिक बनाइए।

इसके बाद विपक्षी दलों ने सांसद प्रज्ञा ठाकुर पर निशाना साधा था। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल पूछा था कि इसे लेकर क्या वे सांसद प्रज्ञा ठाकुर के विरुद्ध कार्रवाई करेंगे। हालांकि प्रज्ञा ठाकुर ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर भी खूब हमले किए थे।

उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर तंज कसते हुए कहा था कि वे कुंठित हो गई हैं। ठाकुर ने कहा, 'वे तिलमिला गई हैं। उनको समझ लेना चाहिए कि जहां पर वह शासन कर रही हैं वह भारत है, पाकिस्तान नहीं।' पश्चिम बंगाल में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हुए हमले को लेकर वे अपनी प्रतिक्रिया दे रही थीं।

प्रज्ञा ठाकुर ने आगे कहा, ''वह (ममता बनर्जी) हताश हो गई हैं, क्योंकि उनको लगने लगा है कि उनका शासन खत्म होने वाला है. ठाकुर ने दावा किया कि अगले विधानसभा चुनाव के बाद पश्चिम बंगाल में बीजेपी का शासन आएगा और वहां हिंदू राज होगा।'

Next Story

विविध

Share it