Top
बिहार

बिहार: मधुबनी हत्याकांड के पीड़ित परिवार से मिले तेजस्वी, कहा इन्हें न्याय दिलाने के लिए जहां भी जाना होगा जाएंगे

Janjwar Desk
6 April 2021 4:29 PM GMT
बिहार: मधुबनी हत्याकांड के पीड़ित परिवार से मिले तेजस्वी, कहा इन्हें न्याय दिलाने के लिए जहां भी जाना होगा जाएंगे
x
मधुबनी के बेनीपट्टी थाना क्षेत्र में होली के दिन यानी 29 मार्च को अंधाधुंध गोलीबारी कर एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या कर दी गई थी, इस मामले में घायल एक व्यक्ति का अभी भी इलाज चल रहा है, विपक्ष इस मामले को लेकर लगातार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साध रहा है...

मधुबनी, बिहार। बिहार के मधुबनी जिले में होली के दिन पांच लोगों की हत्या के मामले में अब सियासत उबाल पर है। बिहार विधनसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव मंगलवार 6 अप्रैल को पीड़ित परिवार से मुलााकत की और उन्हें सांत्वना दी। तेजस्वी ने इस घटना को सत्ता संरक्षित और प्रायोजित बताया है। पीड़ित परिवार से मिलने के बाद तेजस्वी ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए सवालिया लहजे में कहा कि इस मामले में एक भी नामजद आरोपी की गिरफ्तारी क्यों नहीं हुई।

उन्होंने कहा, "इस घटना के एक सप्ताह के बाद भी पुलिस प्रशासन और सरकार सोई हुई है। पुलिस दोषियों को गिरफ्तार करने की बजाय उन्हें सुरक्षित स्थान पर पहुंचा रही है।"

राजद नेता ने कहा कि प्रदेश का दुर्भाग्य है कि ऐसी दर्दनाक घटना के बाद भी मुख्यमंत्री को घटना के बारे में पता ही नहीं होता। उन्होंने इस घटना पर कोई शोक संवेदना और खेद तक प्रकट नहीं किया।

तेजस्वी ने सवाल पूछा, "सत्ता संरक्षण में हुए इस नरसंहार में अगर किसी विधायक, मंत्री तथा उनकी किसी सेना की कोई संलिप्तता नहीं है तो मुख्यमंत्री किसी उच्च अधिकारी के नेतृत्व में विशेष जांच दल का गठन क्यों नहीं करते? मुख्यमंत्री को अविलंब जांच दल का गठन करना चाहिए।"

तेजस्वी ने कहा कि अपराधी का कोई जाति-धर्म नहीं होता। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार से बिहार नहीं संभल रहा। वे थक चुके हैं और अब हार कर अपमानित होकर भी मुख्यमंत्री बने हुए हैं। उन्होंने कहा कि बिहार में सुशासन नहीं 'राक्षस राज' आ गया है।

उल्लेखनीय है कि मधुबनी के बेनीपट्टी थाना क्षेत्र में होली के दिन यानी 29 मार्च को अंधाधुंध गोलीबारी कर एक ही परिवार के पांच लोगों की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में घायल एक व्यक्ति का अभी भी इलाज चल रहा है। विपक्ष इस मामले को लेकर लगातार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साध रहा है।

मधुबनी पीड़ितों से मिलने के बाद तेजस्वी ने ट्वीट किया है, 'दुर्भाग्य है कि मधुबनी नरसंहार पर मुख्यमंत्री जी ने कोई शोक संवेदना और खेद तक प्रकट नहीं किया। सत्ता संरक्षण में हुए इस नरसंहार में अगर किसी MLA, मंत्री की कोई संलिप्तता नहीं है तो अभी तक दोषियों को बचाया क्यों जा रहा है? DM/SP ने अभी तक घटनास्थल का दौरा क्यों नहीं किया?'

Next Story

विविध

Share it