बिहार

तेजस्वी की नीतीश को चेतावनी, एक महीने के भीतर 19 लाख नौकरियां दो अन्यथा होंगे राज्यव्यापी प्रदर्शन

Janjwar Desk
23 Nov 2020 2:54 PM GMT
तेजस्वी की नीतीश को चेतावनी, एक महीने के भीतर 19 लाख नौकरियां दो अन्यथा होंगे राज्यव्यापी प्रदर्शन
x
तेजस्वी ने नीतीश कुमार को चेतावनी देते हुए कहा कि लगभग 1.56 करोड़ लोगों ने शिक्षा, सिंचाई, दवा और रोजगार के मुद्दों पर हमपर भरोसा किया है, हम उस विश्वास को नहीं तोड़ने देंगे। हमारी मजबूत लड़ाई जारी रहेगी....

पटना। राजद नेता तेजस्वी यादव ने सोमवार को कहा कि अगर भाजपा-जदयू सरकार अब से एक महीने में 19 लाख नौकरियां देने में विफल रही तो उनकी पार्टी राज्यव्यापी आंदोलन शुरू करेगी।

तेजस्वी ने कहा कि वह अपने मतदाताओं को निराश नहीं करेंगे जिन्होंने राजद के नेतृत्व वाले महागठबंधन को बदलाव और रोजगार पाने की उम्मीद के साथ वोट दिया। यदि भाजपा-नीतीश सरकार अपने वादे के अनुसार एक महीने के भीतर 19 लाख नौकरियां नहीं देती है, तो राज्य भर में खेतों से लेकर सड़कों तक व्यापक आंदोलन होगा।

उन्होंने नीतीश कुमार को चेतावनी देते हुए कहा कि लगभग 1.56 करोड़ लोगों ने शिक्षा, सिंचाई, दवा और रोजगार के मुद्दों पर हमपर भरोसा किया है, हम उस विश्वास को नहीं तोड़ने देंगे। हमारी मजबूत लड़ाई जारी रहेगी।

हाल ही में संपन्न बिहार चुनावों में दो प्रमुख गठबंधनों के बीच कड़ी टक्कर देखी गई, जिसमें बेरोजगारी सबसे बड़ा चुनावी मुद्दा था। तेजस्वी के नेतृत्व वाले महागठबंधन ने पहली कैबिनेट में ही 10 लाख सरकारी नौकरियों का वादा किया था, वहीं एनडीए ने 19 लाख नौकरियों के अवसर पैदा करने का वादा किया था।

एनडीए को आखिरकार 125 सीटें हासिल हुईं और इसके साथ ही मुख्यमंत्री का ताज चौथी बार नीतीश कुमार कुमार के सिर पर बंध गया।

राजद के अंदरूनी सूत्रों का कहना है कि पार्टी नौकरियों के मुद्दे पर आक्रामक होगी और आने वाले दिनों में सरकार को उसी के कटघरे में खड़ा करेगी।

बेरोजगारी बिहार चुनावों का मुख्य मुद्दा बना रहा और लगभग सभी दल इसपर बोलने के लिए मजबूर हुए, तेजस्वी ने 10-लाख के नौकरी के वादे से वोटरों को खूब लुभाया लेकिन भाजपा ने भी अपने घोषणापत्र में 19 लाख नौकरियां देने की बात कह दी थी।

Next Story

विविध