Top
राष्ट्रीय

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जानसन ने रद्द किया भारत दौरा, गणतंत्र दिवस समारोह के थे मुख्य अतिथि

Janjwar Desk
6 Jan 2021 3:07 AM GMT
ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जानसन ने रद्द किया भारत दौरा, गणतंत्र दिवस समारोह के थे मुख्य अतिथि
x

(file photo)

ब्रिटेन प्रशासन ने जानकारी देते हुए कहा है कि प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने मंगलवार को भारत के प्रधानमंत्री मोदी से बात की और भारत नहीं जा पाने के लिए खेद व्यक्त किया...

जनज्वार। इस बार के गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने अपना भारत दौरा रद्द कर दिया है। समाचार एजेंसी रायटर्स के मुताबिक, कोरोना के नए स्ट्रेन के चलते उन्होंने अपना भारत दौरा रद्द किया है। इस पर उन्होंने खेद भी जताया है।

डाउनिंग स्ट्रीट के एक प्रवक्ता ने कहा कि पीएम ने आज सुबह प्रधानमंत्री मोदी से बात की और कहा कि वह इस महीने के अंत में भारत का दौरा करने में असमर्थ होंगे।

कहा जा रहा है कि फोन पर बातचीत में दोनों देशों के नेताओं ने द्विपक्षीय संबंधों के लिए अपनी साझा प्रतिबद्धता को रेखांकित किया। बोरिस जॉनसन ने पीएम मोदी से कहा कि वह 2021 की पहली छमाही में भारत का दौरा करने में सक्षम होने की उम्मीद करते हैं।

ब्रिटेन प्रशासन ने जानकारी देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने मंगलवार को प्रधानमंत्री मोदी से बात की और भारत नहीं जा पाने के लिए खेद व्यक्त किया।

बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री से बात करते हुए जॉनसन ने कहा कि जिस गति से ब्रिटेन में नया कोरोना वायरस संस्करण फैल रहा है, उनके लिए ब्रिटेन में रहना महत्वपूर्ण है, ताकि वह वायरस की घरेलू प्रतिक्रिया पर ध्यान केंद्रित कर सकें।

बीते साल 15 दिसंबर को ब्रिटेन के विदेश मंत्री ने पत्रकारों से बाततीच में कहा था कि हमारे प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने भारत के गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि बनने के निमंत्रण को स्वीकार कर लिया है

बता दें कि कोरोना संक्रमण के नए स्ट्रेन के कारण ब्रिटेन में एक बार फिर से लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। लॉकडाउन का ऐलान करते हुए प्रधानमंत्री बोरिस जानसन ने कहा कि कोरोना के कारण फरवरी के मध्य तक नया नेशनल लॉकडाउन लागू किया जा रहा है।

बोरिस ने सोमवार रात को देश को संबोधित करते हुए कहा कि यह देश के लिए कठिन समय है। देश में कोरोना के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। फिलहाल, लोगों को लॉकडाउन के दौरान घर में ही रहना होगा वह सिर्फ जरुरी काम के लिए घर से बाहर निकल सकते हैं।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें कॉल करके औपचारिक तौर पर आमंत्रित किया था। न्यौता स्वीकार करने के बाद भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने खुशी जाहिर करते हुए कहा था कि ये भारत और ब्रिटेन के संबंधों में नए युग की शुरुआत होगी।

बता दें कि काफी समय बाद ब्रिटेन के प्रधानमंत्री गणतंत्र दिवस के अवसर पर भारत आने वाले थे। आखिरी बार वर्ष 1993 में ब्रिटेन के तत्काल प्रधानमंत्री जॉन मेजर गणतंत्र दिवस के अवसर पर मुख्य अतिथि बनकर भारत आए थे।

Next Story

विविध

Share it