राष्ट्रीय

Chandni Chowk Fire: चांदनी चौक के भागीरथ पैलेस में लगी आग, 12 घंटे बाद भी नहीं पाया जा सका काबू, इलेक्ट्रॉनिक मार्केट जल कर हुई खाक

Janjwar Desk
25 Nov 2022 4:21 AM GMT
Chandni Chowk Fire: चांदनी चौक के भागीरथ पैलेस में लगी आग, 12 घंटे बाद भी नहीं पाया जा सका काबू, इलेक्ट्रॉनिक मार्केट जल कर हुई खाक
x

Chandni Chowk Fire: चांदनी चौक के भागीरथ पैलेस में लगी आग, 12 घंटे बाद भी नहीं पाया जा सका काबू, इलेक्ट्रॉनिक मार्केट जल कर हुई खाक

Chandni Chowk Fire: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के चांदनी चौक इलाके के इलेक्ट्रॉनिक मार्केट (Electronic Market Fire) पूरी रतभर आग से धधकती रही। हालांकि बड़ी मुश्किल से आग पर काबू पा लिया गया है।

Chandni Chowk Fire: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के चांदनी चौक इलाके के इलेक्ट्रॉनिक मार्केट (Electronic Market Fire) पूरी रतभर आग से धधकती रही। हालांकि बड़ी मुश्किल से आग पर काबू पा लिया गया है। रात 9 बजकर 19 मिनट पर दमकल विभाग (Fire Department) को आग लगने की सूचना मिली थी, जिसके बाद शुरुआत में दमकल की 18 गाडिय़ां भेजी गईं। लेकिन, जब स्थिति काबू में नहीं आई तो अन्य टेंडर और टीमें मौके पर भेजी गईं।

दमकल की 40 गाड़ियों ने आग पर काबू पाने पाया। यह आग भागीरथ पैलेस (Bhagirath Palace) के इलेक्ट्रॉनिक मार्केट में लगी थी। वही इस हादसे का वीडियो वायरल (Video Viral) भी हो रहा है। वीडियो में आग की तेज लपटें दिखाई दे रही हैं। वही चांदनी चौक के इस इलाके की गलियां इतनी संकरी हैं कि रेस्क्यू ऑपरेशन में मुश्किलें आ रही थी। दिल्ली दमकल सेवा के निदेशक अतुल गर्ग ( Atul Garg) ने शुक्रवार को बताया कि पुरानी दिल्ली के चांदनी चौक (Old Delhi Chandni Chowk) में गुरुवार रात आग लग गई।

अभी हालात बहुत अच्छे नहीं हैं। एक इमारत का बड़ा हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया है। उन्होंने आगे बताया कि दमकल की 40 गाड़ियों की मदद से सुबह तक आग पर काबू पा लिया गया। यह रेस्क्यू ऑपरेशन करीब 8 घंटे चला। वही अभी तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।

जिस जगह पर आग की घटना हुई, वहां संकरी गलियों और अतिक्रमण के चलते दमकल गाड़ियों को पहुंचने में बड़ी दिक्कत हुई। पुलिस को गुरुवार रात करीब 9.19 बजे सूचना मिली थी कि भगीरथ पैलेस की दुकानों में आग लग गई है। जिस दुकान से आग शुरू हुई वो नंबर-1868 बताई गई है। आग ने जल्द ही बाकी दुकानों को भी अपनी चपेट में ले लिया। घटना के समय ज्यादातर दुकानें बंद हो चुकी थीं। आग की लपटें दूर-दूर तक दिखाई दे रही थीं। हादसे के बाद पूरे इलाके की लाइट बंद करनी पड़ी। दमकल विभाग के करीब 150 कर्मचारी और फायर फाइटर्स मौके पर आग बुझाते देखे गए। दुकानों में बिजली का सामान होने के कारण आग तेजी से फैली। हालांकि दमकल विभाग की तत्परता से आग आगे नहीं फैल सकी।

Next Story

विविध