दिल्ली

Jahangirpuri Demolition: BJP को ज़ोरदार तमाचा, जहांगीरपुरी में बुलडोजर कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक, जानें क्या कहा?

Janjwar Desk
20 April 2022 6:28 AM GMT
Jahangirpuri Demolition: BJP को ज़ोरदार तमाचा, जहांगीरपुरी में बुलडोजर कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक, जानें क्या कहा?
x

Jahangirpuri Demolition: BJP को ज़ोरदार तमाचा, जहांगीरपुरी में बुलडोजर कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक, जानें क्या कहा?

Jahangirpuri Demolition: दिल्ली के जहांगीरपुरी में हुई हिंसा के बाद एनडीएमसी की आज सुबह से बुलडोजर से ढहाए जा रहे अवैध घरों पर हो रही कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट ने तत्काल रोक लगा दी है.

Jahangirpuri Demolition: दिल्ली के जहांगीरपुरी में हुई हिंसा के बाद एनडीएमसी की आज सुबह से बुलडोजर से ढहाए जा रहे अवैध घरों पर हो रही कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट ने तत्काल रोक लगा दी है. कोर्ट ने कहा है कि इस कार्रवाई पर तुरंत रोक लगाई जाए. बता दें कि नॉर्थ एमसीडी ने आज सुबह 10 बजे से अतिक्रमण विरोधी अभियान चला रखा था जिसके तहत बुलडोजर से अवैध घरों को तोड़ा जा रहा था.

सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश पर उत्तरी दिल्ली नगर निगम के मेयर राजा इकबाल सिंह ने कहा कि हम सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करेंगे और उसके अनुसार कार्रवाई करेंगे. सुप्रीम कोर्ट ने हिंसा प्रभावित जहांगीरपुरी, दिल्ली में नागरिक निकाय द्वारा किए जा रहे विध्वंस अभियान पर यथास्थिति बनाए रखने का आदेश दिया है.

बुलडोजर को लेकर ओवैसी का हमला

दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में अवैध कब्जों पर बुलडोजर से कार्रवाई के फैसले को लेकर एआईएमआईएम (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने बीजेपी सरकार सहित दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर जमकर निशाना साधा है. ओवैसी ने इस फैसले को 'बीजेपी का गरीबों पर जंग का ऐलान बताया है'. वहीं इस फैसले पर दिल्ली के सीएम अरिविंद केजेरीवाल की भूमिका को संदिग्ध बताया है.

असदुद्दीन ओवैसी ने अपने ट्वीट में लिखा कि बीजेपी ने गरीबों के खिलाफ जंग का ऐलान कर दिया है. बीजेपी अतिक्रमण के नाम पर यूपी और एमपी की तरह दिल्ली में भी घरों को तबाह करने जा रही है. कोई नोटिस नहीं, अदालत जाने का मौका नहीं, बस गरीब मुसलमानों को जिंदा रहने की सजा देना. अरविंद केजरीवाल को अपनी संदिग्ध भूमिका को स्पष्ट करना चाहिए. क्या उनकी सरकार का पीडब्ल्यूडी इस 'विध्वंस अभियान' का हिस्सा है? क्या जहांगीरपुरी के लोगों ने उन्हें इस तरह के विश्वासघात और कायरता के लिए वोट दिया? उनका बार-बार बचना 'पुलिस हमारे नियंत्रण में नहीं है' यहां काम नहीं करेगा.

दिल्ली के जहांगीरपुरी हिंसा के आरोपियों के खिलाफ कानून का शिकंजा कसता जा रहा है. इस बीच जहांगीरपुरी क्षेत्र में 20 और 21 अप्रैल को अवैध निर्माण पर अतिक्रमण अभियान चलाया जायेगा. एमसीडी ने इस दौरान दिल्ली पुलिस से 400 जवानों को कानून-व्यवस्था संभालने के लिए कहा है.

Next Story