दिल्ली

Delhi Violence : जहांगीरपुरी दंगे पर राज ठाकरे का भड़काऊ बयान, कहा - 'मुझे लगता है इस तरह की बातों का ऐसे ही जवाब दिया जाना चाहिए'

Janjwar Desk
17 April 2022 8:33 AM GMT
Raj Thackeray के खिलाफ औरंगाबाद में केस दर्ज, 16 में 12 शर्तों का किया उल्लंघन, DGP बोले - किसी को नहीं छोड़ेंगे
x

Raj Thackeray के खिलाफ औरंगाबाद में केस दर्ज, 16 में 12 शर्तों का किया उल्लंघन, DGP बोले - 'किसी को नहीं छोड़ेंगे'

Delhi Violence : जहांगीरपुरी हिंसा पर राज ठाकरे ने कहा कि मुझे लगता है कि इस तरह की बातों का ऐसे ही जवाब दिया जाना चाहिए, नहीं तो वो लोग नहीं समझेंगे।

Delhi Violence : हनुमान जयंती ( Hanuman Jayanti ) यानि 16 अप्रैल को शोभायात्रा के दौरान दिल्ली की जहांगीर पुरी में भड़की हिंसा ( Jahangirpuri Violence ) को लेकर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ( MNS ) के प्रमुख राज ठाकरे ( Raj Thackeray ) से भड़काऊ बयान दिया हे। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि इस तरह की बातों का ऐसे ही जवाब दिया जाना चाहिए, नहीं तो वो लोग नहीं समझेंगे। अब समझाये बगैर कम नहीं चलेगा। मनसे प्रमुख राज ठाकरे 5 जून को भगवान राम की नगरी अयोध्या ( Ayodhya ) जाएंगे। उसके बाद वह अपनी अगली जनसभा एक मई को औरंगाबाद में करेंगे।

हम देंगे नहीं चाहते

मनसे प्रमुख राज ठाकरे ( Raj Thackeray ) ने लाउडस्पीकर के मुद्दे पर कहा कि हम महाराष्ट्र में दंगे नहीं चाहते। नमाज अदा करने का किसी ने विरोध नहीं किया लेकिन अगर मुसलमान लाउडस्पीकर ( Loudspeaker ) पर उपयोग करेंगे तो हम भी लाउडस्पीकर का इस्तेमाल करेंगे। मुसलमानों को समझना चाहिए कि धर्म कानून से बड़ा नहीं है। 3 मई के बाद मैं देखूंगा कि क्या करना है।

सियासी परिवार में सियासी जंग चरम पर

दूसरी तरफ ठाकरे परिवार में एक बार फिर से सियासी जंग चरम पर है। महाराष्ट नवनिर्माण् सेना प्रमुख राज ठाकरे ( Raj Thackeray ) जहां धर्म विशेष के खिलाफ विवादित बयान देकर चर्चा में हैं तो वहीं शिवसेना के नेताओं के द्वारा भी पलटवार किया जा रहा है। ठाकरे परिवार के बीच जंग का एक और उदाहरण तब देखने को मिला जब मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे और मंत्री आदित्य ठाकरे ने जैसे ही मई के पहले सप्ताह में अयोध्या जाने की घोषणा की वैसे ही उनके चाचा राज ठाकरे ने भी पांच जून को अयोध्या जाने का एलान कर दिया है। ऐसा लग रहा है कि राज ठाकरे अब पूरी तरह से सियासी मूड में आ गए हैं।

बात समझ नहीं आती तो हम मस्जिद के सामने बजाएंगे हनुमान चालीसा

मनसे सुप्रीमो राज ठाकरे ने कहा क‍ि आखिर नमाज के लिए रास्ते और फुटपाथ क्यों चाहिए? घर पर पढ़िए। प्रार्थना आपकी है, हमें क्यों सुना रहे हो। अगर इन्हें हमारी बात समझ नहीं आती तो आपकी मस्जिद के सामने हनुमान चालीसा बजाएंगे।

उन्होंने महाराष्ट्र सरकार को चेतावनी भरे लहजे में कहा है कि राज्य सरकार को हम कहते हैं कि हम इस मुद्दे से पीछे नहीं हटेंगे। आपको जो करना है करो। उन्‍होंने कहा क‍ि ऐसा कौन सा धर्म है जो दूसरे धर्म को तकलीफ देता है। हम होम डिपार्टमेंट को कहना चाहते हैं हमें दंगे नहीं चाहिए। 3 तारीख तक सभी लाउडस्पीकर मस्जिद से हटने चाहिए हमारी तरफ से कोई तकलीफ़ नहीं होगी।

Next Story