राष्ट्रीय

Gorakhpur Murder Case : पिता की मौत के 75 घंटे बाद भी 4 साल के मासूम को उम्मीद, पापा ऑफिस गये हैं घर आयेंगे, देखकर रो पड़ती है पत्नी

Janjwar Desk
30 Sep 2021 7:35 AM GMT
kanpur news
x

(4 वर्षीय बेटे अभिराज के साथ जनज्वार से बात करती हुईं मिनाक्षी गुप्ता)

Gorakhpur Murder Case : मिनाक्षी ने पति के साथ हुई घटना के बाद अपना ट्वीटर अकाउंट बनाया था। उन्हें लगा की आजकल सोशल मीडिया से बात जल्दी पहुँचाई जा सकती है इसी उम्मीद में ट्वीटर पर अकाउंट बनाया है...

मनीष दुबे की रिपोर्ट

Gorakhpur Murder Case (जनज्वार) : कानपुर के थाना बर्रा निवासी मनीष गुप्ता हत्याकांड को 75 घंटे से अधिक का समय हो चुका है। ताजा जानकारी ये है की अभी सुबह मृतक की डेड बॉडी अंतिम संस्कार के लिए जा चुकी है। मृतक मनीष गुप्ता के घर सहित पूरी गली का माहौल गमगीन था। हर किसी की परिवार के साथ संवेदनाएं जुड़ी नजर आईं। घर में रिश्तेदारों और शुभचिंतकोंका आना-जाना लगा हुआ है।

सुबह लगभग 8 बजे 'जनज्वार' संवाददाता जब वहां पहुँचा तो देखा की पुलिस का कड़ा बंदोबस्त था। स्थानीय थाने के एसीपी से लगाकर 60 से 70 पुलिसवाले घर के आस-पास फैले हुए थे। यह कवायद इसलिए थी क्योंकि आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) का कानपुर आगमन है। ऐसे में किसी तरह की पॉलिटिकल मूवमेंट को रोकने के लिए पुलिस बल की तैनाती की गई थी।

घर के आस-पास तैनात भारी पुलिस बल

डेड बॉडी के जाने के बाद मृतक मनीष गुप्ता की पत्नी मिनाक्षी (Minakshi Gupta) अपने दो मंजिला घर के बाहर कुछ महिलाओं के साथ बैठी हुईं थीं। हमने उनकी मां से कुछ बात करा देने की गुजारिश की। मां ने हमसे कहा बेटा जब से घटना हुई है तब से गोरखपुर से लेकर कानपुर तक बोलते और बताते हम लोग थक चुके हैं। फिर भी उन्होने मिनाक्षी से हमें बात कराने की हामी भरी। कुछ देर इंतजार के बाद मृतक की पत्नी बाहर आईं और हमसे बात की।

4 साल के मासूम की बात सुन रो देते हैं लोग

गोरखपुर घटना में मृतक मनीष गुप्ता का चार साल का पुत्र अभिराज गुप्ता अभी तक भी अपने पिता की मौत पर भरोसा नहीं कर पा रहा है। उसका मानना है पापा आफिस गये हैं और शाम को वापस आ जाएंगे। उसकी बातें सुनकर पत्नी मिनाक्षी रोने लगती हैं। पत्नी के रोते ही आस-पास बैठे लोगों की आंखों में भी आंसुओं का सैलाब निकल पड़ता है।

पति की मौत के बाद बनाया ट्वीटर अकाउंट

कल यानी बुधवार रात हमने सोशल मीडिया पर मिनाक्षी का ट्वीटर अकाउंट (Twitter Account) भी खंगाला था। उनके अकाउंट में वो सभी वीडियो पड़े थे जो इस समय पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए शेयर किए जा रहे थे। हमने इस बारे में जानकारी ली तो पता चला मिनाक्षी ने पति के साथ हुई घटना के बाद अपना ट्वीटर अकाउंट बनाया था। उन्हें लगा की आजकल सोशल मीडिया से बात जल्दी पहुँचाई जा सकती है इसी उम्मीद में ट्वीटर पर अकाउंट बनाया है।

6 लोगों को फॉलो किया मिनाक्षी ने

मीनाक्षी ने पति मनीष की मौक के बाद बनाए गये ट्वीटर अकाउंट से 6 लोगों को फॉलो किया है। जिनमें योगी आदित्यनाथ, येगी आदित्यनाथ आफिस, सीएम आफिस गो यूपी अखिलेश यादव, अभिषेक कौशिक सहित दो अन्य लोग शामील हैं। इस बीच महज तीन दिन में ही मिनाक्षी से तकरीबन 1400 से अधिक लोग जुड़ चुके हैं साथ ही न्याय के लिए उनकी 'लड़ाइ में साथ हैं' जैसी बातें कर रहे हैं।

10 लाख का चेक किया वापस

मिनाक्षी ने पुलिस कमिश्नर असीम अरूण की मौजूदगी में एसडीएम को हाथों मिला 10 लाख रूपये का चेक लौटा दिया है। उनका कहना है कि यह हमने मांगा ही नहीं। उन्हें रूपया नहीं न्याय चाहिए। हमने 6 पुलिसवालों के खिलाफ लिखित शिकायत दी थी, लेकिन सिर्फ तीन पुलिसकर्मियों पर ही मुकदमा लिखा गया है। मिनाक्षी का सवाल है की बाकी को किसके इशारे पर बचाया जा रहा है।

योगी आदित्यनाथ से मिलने की जिद

मृतक की पत्नी मिनाक्षी आज शहर आ रहे सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर न्याय की गुहार लगाना चाहती है। उनका कहना है कि इसलिए ही मैने उनकी भेजी गई 10 लाख रूपये की चेक उनके अधिकारियों को वापस कर दी है। डीसीपी साउथ रवीना त्यागी ने मिनाक्षी से कहा है कि योगी शहर आकर आज उनसे मुलाकात करेंगे। मिनाक्षी को भी पूरी उम्मीद है कि मुख्यमंत्री उनसे जरूर मिलेंगे और उनको न्याय दिलाएंगे।

डीएम-एसएसपी ने बनाया था केस ना करने का दबाव

मृतक के घर पर मौजूद कमिश्नर (file photo)

मीनाक्षी ने 'जनज्वार' से हुई बातचीत में बताया कि उनपर गोरखपुर (Manish Gupta Murder Case) में थाने के भीतर वहां के डीएम और एसएसपी ने केस ना करने का दबाव बनाया था। जिलाधिकारी विजय किरन आंनंद व एसएसपी विपिन ताड़ा ने मिनाक्षी से मुकदमें के बाद की चुनौतियां गिनाते हुए कहा था कि तमाम दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। अदालत के चक्कर काटते हुए सालों गुजर जाएंगे। बता दें कि डिएम विजय किरन आनंद इससे पहले भी तमाम विवादों में रहे हैं।

पत्नी की ये हैं 6 मांगें

मृतक मनीष गुप्ता की पत्नी मिनाक्षी की योगी सरकार से 6 मांगे हैं। जिनमें 50 लाख रूपये का मुआवजा, एक सरकारी नौकरी, केस को कानपुर नगर में ट्रांसफर किया जाए, हत्याकांड की सीबीआई जांच हो, जिस होटल में हत्याकांड हुआ उसपर कार्रवाई हो, दोषी पुलिसवालों और अधिकारियों पर सख्त कार्वाई की जाए।

Next Story

विविध

Share it