Top
झारखंड

महेंद्र सिंह धोनी के गृहप्रदेश झारखंड से उठी रांची में फेयरवेल आयोजित करने की मांग

Janjwar Desk
16 Aug 2020 3:27 AM GMT
महेंद्र सिंह धोनी के गृहप्रदेश झारखंड से उठी रांची में फेयरवेल आयोजित करने की मांग
x
महेंद्र सिंह धोनी द्वारा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का एलान किए जाने के बाद उनके गृहप्रदेश झारखंड की ओर से रांची में भव्य फेयरवेल मैच आयोजित करने की मांग उठनी शुरू हो गई है...

जनज्वार, रांची। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) द्वारा शनिवार (15 August 2020) शाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का एलान यूं तो पूरे देश व दुनिया में उनके प्रशंसकों के लिए एक भावुक मौका है, लेकिन उनके गृहप्रदेश झारखंड के लोगों के लिए विशेष रूप से और अधिक भावुक मौका है। ऐसे में झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बीसीसीआइ से यह मांग रखी है कि धोनी का फेयरवेल रांची में आयोजित किया जाए।

हेमंत सोरेन ने ट्विटर पर लिखा कि देश और झारखण्ड को गर्व और उत्साह के अनेक क्षण देने वाले माही ने आज अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास ले लिया है। हम सबके चहेते झारखण्ड का लाल माही को नीली जर्सी पहने नहीं देख पायेंगे। पर देशवासियों का दिल अभी भरा नहीं। मैं मानता हूँ हमारे माही का एक फ़ेयरवेल मैच राँची में हो जिसका गवाह पूरा विश्व बनेगा।

हेमंत सोरेन एक ट्वीट बीसीसीआइ को टैग करते हुए लिखा कि मैं बीसीसीआइ से अपील करना चाहूंगा कि माही का एक फेयरवेल मैच कराया जाये जिसकी मेजबानी पूरा झारखंड करेगा।

हेमंत सोरेन की इस मांग के समर्थन का दायरा अब बढता जा रहा है। मुख्यमंत्री के इस मांग का समर्थन धौनी के बचपन के क्रिकेट कोच चंचल भट्टाचार्य ने भी इसका समर्थन किया है। चंचल भट्टाचार्य ने हेमंत की मांग का समर्थनक हुए कहा है कि यह शानदार आइडिया है, मैं भी बीसीसीआइ से यह मांग करूंगा कि रांची में एक मैच आयोजित किया जाए।

वहीं, झारखंड में विपक्ष के नेता बाबूलाल मरांडी ने धोनी के संन्यास पर कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के द्वारा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद क्रिकेट के एक स्वर्णिम युग का समापन हो गया। स्टेडियम में दर्शकों द्वारा धोनी-धोनी का वह शोर अब हमेशा के लिए गुम हो गया। खोल प्रेमियों के लिए यह खबर सदमे से कम नहीं है। परंतु देर सबेर सबको इस दौर से गुजरना पड़ता है। धोनी ने भारतीय क्रिकेट को बहुत कुछ दिया। एक छोटे से शहर रांची से निकल कर देश-दुनिया में इन्होंने क्रिकेट का जो परचम लहराया, उनकी यह अविश्वसनीय उपलब्धियां भारतीय क्रिकेट इतिहास में सदैव स्वर्ण अक्षरों में दर्ज रहेंगी। मरांडी ने धौनी के जीवन की दूसरी पारी के लिए शुभकामनाएं एवं बधाई दी है। हालांकि झारखंड भाजपा ने अभी आधिकारिक रूप से धोनी के संन्यास पर कुछ नहीं कहा है।

आजसू के अध्यक्ष सुदेश महतो ने ट्विटर पर लिखा, अगला एमएस धोनी फिर कभी नहीं मिलेगा। भारतीय क्रिकेट को नई ऊंचाइयों तक लेने जानेवाले दुनिया के सबसे बेहतरीन कप्तान, झारखण्ड की शान एवं युवाओं के प्रेरणास्रोत महेंद्र सिंह धोनी आप हमेशा हम सभी देशवासियों के दिल में रहोगे। भविष्य के लिए अनंत शुभकामनाएं।


Next Story

विविध

Share it