राष्ट्रीय

कानपुर : SNK समूह का सामने आया किंग खान कनेक्शन, शाहरुख की पत्नी गौरी के जरिए काली कमाई सफेद करने का अंदेशा

Janjwar Desk
1 Aug 2021 12:49 AM GMT
कानपुर : SNK समूह का सामने आया किंग खान कनेक्शन, शाहरुख की पत्नी गौरी के जरिए काली कमाई सफेद करने का अंदेशा
x

(शाहरूख खान की पत्नी गौरी की कंपनी एसीई डेवलपर से सामने आई नजदीकी)

रियल इस्टेट कारोबार में एसएनके समूह के जितने भी प्रोजेक्ट चल रहे हैं, सभी में गौरी खान की कंपनी को काम दिया गया है। माना जा रहा है कि कालेधन को सफेद करने के लिए भी यह रास्ता अख्तियार किया गया...

जनज्वार, कानपुर। कानपुर में एसएनके (SNK) पान मसाला बनाने वाले कारोबारी भाई नवीन कुरेले और प्रवीण कुरेले का कनेक्शन फिल्मस्टार शाहरुख खान और उनकी पत्नी गौरी खान की कंपनी से सामने आया है। एसएनके समूह की दिल्ली के कारोबारी की कंपनी एसीई इन्फ्रासिटी डेवलपर के साथ पार्टनरशिप है।

इनकम टैक्स (IT) डिपार्टमेंट की शनिवार लगातार चौथे दिन की जांच में सामने आया है कि एसीई इन्फ्रासिटी में गौरी खान की कंपनी 3 साल से एसोसिएट कंपनी के तौर पर काम कर ही है। गौरी की कंपनी इंटीरियर डिजाइनिंग व डेकोरेशन का काम करती है।

अमर उजाला में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, रियल इस्टेट कारोबार में एसएनके समूह के जितने भी प्रोजेक्ट चल रहे हैं, सभी में गौरी खान (Gauri Khan) की कंपनी को काम दिया गया है। माना जा रहा है कि कालेधन को सफेद करने के लिए भी यह रास्ता अख्तियार किया गया।

आईटी अब गौरी की कंपनी को भी जांच के दायरे में ले सकता है। इसके लिए कंपनी से जुड़ी गतिविधियों की पड़ताल की जा रही है। विभागीय सूत्रों ने बताया कि समूह के पार्टनर एसीई इन्फ्रासिटी (ACE Infracity) डेवलपर ने रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज के कानपुर कार्यालय में अगस्त 2012 में पंजीकरण कराया था।

इस दौरान कंपनी की शेयर कैपिटल 70 करोड़ 59 लाख रुपये थी। इसमें अब की गुना इजाफा होने की जानकारी मिली है। हालांकि यह कितना बढ़ा, अभी इसका खुलासा नहीं किया गया है। इस कंपनी के 11 आवासीय और छह व्यवसायिक समेत 17 प्रोजेक्ट दिल्ली और एनसीआर में चल रहे हैं। कंपनी का कार्यालय नोएडा में है।

आईटी अफसरों को संदेह है कि बड़े पैमाने पर कर चोरी करने के लिए कंपनी का पंजीकरण कानपुर में कराया गया है, जबकि यह काम दिल्ली में भी हो सकता था। शुक्रवार 30 जुलाई को खुलासा हुआ था कि एसएनके समूह के मालिकों ने 115 बोगस कंपनियों के जरिये तीन साल में दिल्ली स्थित रियल इस्टेट कारोबार में 226 करोड़ और 110 करोड़ रुपये पान मसाला कारोबार में लगाए हैं। दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद में रियल इस्टेट के सात बड़े प्रोजेक्ट चल रहे हैं। इनमें बड़े पैमाने पर काली कमाई खपाई गई है।

एसीई कंपनी के साथ हिस्सेदारी मिलने पर जांच का दायरा और बढ़ाया गया तो इसका गौरी खान की कंपनी से जुड़ाव मिला। पता लगाया जा रहा है कि गौरी की कंपनी के माध्यम से कितना लेनदेन हुआ। मालूम हो कि प्रधान आयकर निदेशक (जांच) राकेश गोयल के निर्देश पर आयकर विभाग की टीमों ने बुधवार को एसएनके पान मसाला के मालिक के कानपुर स्थित आवास, गोदाम, फैक्ट्री के अलावा दिल्ली, उरई, नोएडा में छापामारी की थी। अब टीमें कानपुर, दिल्ली, कोलकाता, गाजियाबाद, नोएडा के 31 ठिकानों पर जांच कर रही हैं।

शनिवार की छापेमारी में कंपनी के पास से काफी मात्रा में नकदी व सोना बरामद होने की बात भी सामने आ रही है। इसके अलावा कानपुर सहित आस-पास के जनपदों में एसएनके गुटखे की बेतहासा मांग के चलते गुटखे की कीमत में भी इजाफा हो गया है।

Next Story

विविध

Share it