राष्ट्रीय

Kanpur Triple Murder : दो दिन बाद भी पुलिस नहीं लगा पाई हत्यारों का सुराग, बेरहमी से किए गये कत्ल की बरकरार है दहशत

Janjwar Desk
3 Oct 2021 11:39 AM GMT
kanpur news
x
(बेरहमी से मारा है कातिलों ने बच्चे को भी नहीं छोड़ा image/jagran)
Kanpur Triple Murder : फजलगंज के तिहरे हत्याकांड को तीन बदमाशों ने अंजाम दिया है यह साफ है। तीनों घर का दरवाजा खुलवाकर अंदर दाखिल हुए और दो घंटे बाद वारदात कर वहां से फरार हुए...

Kanpur Triple Murder (जनज्वार) : कानपुर के थाना फजलगंज (Fazalganj) से कुछ कदम दूर शुक्रवार देर रात बदमाशों ने घर में घुसकर दंपती और उसके 12 साल के बेटे की निर्मम हत्या कर दी थी। तिहरे हत्याकांड का घटनास्थल बहुत विकराल नजर आया था। दंपती के हाथ रस्सी से खंभे और पैर तखत से बंधे थे। वहीं मासूम बच्चे के हाथ-पैर रस्सी से बंधे हुए थे। पास में चापड़ और लोहे की रॉड पड़ी थी।

जिस तरह से वारदात को अंजाम दिया गया, उससे हत्यारों की हैवानियत का अंदाजा लगाया जा सकता है। फोरेंसिक एक्सपर्ट ने बताया कि पहले आरोपियों ने बच्चे के सामने दंपती को मारा होगा। आखिर में बच्चे की हत्या कर वहां से फरार हुआ होगा। यह दावा कितना सही और कितना गलत यह खुलासे के बाद ही पता चलेगा।

तीन बदमाशों ने अंजाम दी घटना

फजलगंज के तिहरे हत्याकांड को तीन बदमाशों ने अंजाम दिया है यह साफ है। तीनों घर का दरवाजा खुलवाकर अंदर दाखिल हुए और दो घंटे बाद वारदात कर वहां से फरार हुए। घर के पास लगे एक सीसीटीवी कैमरे में उनकी फुटेज कैद हुई है। पुलिस इसी फुटेज के आधार पर तहकीकात आगे बढ़ा रही है। पुलिस दावा कर रही है कि वारदात का जल्द ही खुलासा किया जाएगा। फुटेज खंगालने पर पता चला कि देर रात डेढ़ बजे तीन युवक पैदल वहां पहुंचे थे।

दुकानदार की बाइक लेकर CCTV में भागते दिखे बदमाश

वारदात को अंजाम देने के बदमाश प्रेम किशोर की स्प्लेंडर बाइक भी लूट ले गए। पुलिस ने जब आसपास और चौराहों पर लगे कैमरों की फुटेज निकलवाई तो तकरीबन चार व सवा चार बजे के बीच एक बाइक पर दो शख्स गुजरते दिखाई दिए। पुलिस इनको संदिग्ध मानकर उनके बारे में जानकारी जुटा रही है। घर का सामान भी बिखरा पड़ा था। ऐसे में पुलिस लूट की आशंका जता रही है।

ACP को DCP से मिली फटकार

मृतकों के शव न दिखाने पर अड़े परिजनों को पुलिस मना कर रही थी। इससे प्रेम किशोर के बड़े भाई राज किशोर समेत अन्य सभी परिजन भड़क गए। इस दौरान एसीपी गोविंद नगर विकास पांडेय जबरन राज किशोर को वहां से हटाने लगे। ये देख डीसीपी संजीव त्यागी ने उनको फटकारा। एसीपी से कहा कि समझ नहीं आ रहा है कि हम बात कर रहे हैं। ये सुनकर एसीपी खामोश हो गए। वहां से किनारे चले गए।

पुलिस फुटेज से करा रही पहचान

पुलिस को सीसीटीवी कैमरे के फुटेज पर तीन लोग संदिग्ध दिखे हैं। इस संदिग्ध के सहारे पुलिस कातिलों तक पहुंचने की कोशिश कर रही है। पुलिस की टीम क्षेत्र के लोगों से भी संदिग्ध लोगों के फुटेज दिखाकर जानकारी लेने की कोशिश की है। अभी तक पुलिस को ठोस सुराग हाथ नहीं लगा है।

नहीं खुली दुकाने दहशत में लोग

शहर के फजलगंज में हुए तिहरे हत्याकांड से क्षेत्र में दहशत है। लोग दिन में भी घरों से नहीं निकल रहे हैं। सड़क पर दूर-दूर तक सन्नाटा है। घटनास्थल के आसपास की दुकानें तक बंद हैं। पुलिस सीसीटीवी कैमरे के फुटेज में दिखे संदिग्ध से तलाश कर रही है। क्षेत्रीय लोगों से सुराग लेने की कोशिशें पुलिस की अभी तक कामयाब नहीं हुई है।

भीड़-भाड़ वाले क्षेत्र बैजनाथ खेड़ा में प्रोविजन स्टोर चलाने वाले प्रेम प्रकाश कटियार, उनकी पत्नी ललिता व बेटे नैतिक की हत्या के बाद यहां के निवासियों के दिल दहल गए। घटना के दूसरे दिन रविवार को घरों से लोग नहीं निकले। यहां के दुकानदारों ने दूसरे दिन भी दुकानें नहीं खोली। क्षेत्र के लोग घटना को लेकर यह ही कह रहे है कि किसी ने कुछ नहीं देखा। क्षेत्रीय निवासी राज सिंह बोले कि प्रेम प्रकाश की हत्या हो जाएगी, यह विश्वास ही नहीं होता।

Next Story

विविध

Share it