कश्मीर

Kashmiri Pandits on target : जेके के कुलगाम में आतंकियों ने महिला टीचर की गोली मारकर हत्या की, यहां पर हुई मौत

Janjwar Desk
31 May 2022 5:47 AM GMT
Kashmiri Pandits on target  : जेके के कुलगाम में आतंकियों ने महिला टीचर की गोली मारकर हत्या की, यहां पर हुई मौत
x
Kashmiri Pandits on target : जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में आतंकियों ने महिला टीचर की हत्या की। महिला टीचर कुलगाम के गोपालपुरा स्कूल में बच्चों को पढ़ाती थी।

Kashmiri Pandits on target : जम्मू-कश्मीर ( Jammu-Kashmir ) के कुलगाम ( Kulgam ) से एक महिला टीचर ( Female Teacher Ranjni Bala ) की गोली मारकर हत्या का मामला सामने आया है। ताजा अपडेट के मुताबिक आतंकियों ने महिला टीचर की हत्या की है। आतंकियों ने स्कूल के अंदर घुसकर महिला टीचर रंजनी बाला को गोली मारी। वारदात के बाद से सुरक्षा बल के जवानों और कश्मीर पुलिस ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी है।

आतंकी हमले के बाद महिला टीचर ( Terrorist killed female teacher Ranjni Bala ) को अस्पताल ले जाया गया जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। दूसरी तरफ सुरक्षाबलों ने इलाके को घेरकर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है।

महिला टीचर ( Female Teacher Ranjni Bala ) कुलगाम ( Kulgam ) के गोपालपुरा स्कूल में बच्चों को पढ़ाती थी। मृतक महिला टीचर रंजनी बाला सांबा की रहने वाली थी। महिला टीचर कश्मीरी पंडित है। कश्मीर पुलिस ने इस घटना की पुष्टि की है। पुलिस का कहना है कि इस हमले में शामिल आतंकियों को जल्द पहचान की जाएगी और उन्हें इसकी सजा दी जाएगी।

Kashmiri Pandits on target : बता दें कि जम्मू कश्मीर ( Jammu-Kashmir ) में हाल ही में बडगाम में कश्मीरी पंडित राहुल भट्ट की आतंकियों ने तहसील परिसर में घुसकर हत्या कर दी थी। राहुल भट्ट सरकारी कर्मचारी थे। इसके बाद पुलवामा में आतंकियों ने पुलिसकर्मी रियाज अहमद ठाकोर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इससे पहले 25 मई को आतंकियों ने बडगाम के हिशरू इलाके में टीवी एक्ट्रेस अमरीन भट्ट की गोली मारकर हत्या कर दी थी।


(जनता की पत्रकारिता करते हुए जनज्वार लगातार निष्पक्ष और निर्भीक रह सका है तो इसका सारा श्रेय जनज्वार के पाठकों और दर्शकों को ही जाता है। हम उन मुद्दों की पड़ताल करते हैं जिनसे मुख्यधारा का मीडिया अक्सर मुँह चुराता दिखाई देता है। हम उन कहानियों को पाठक के सामने ले कर आते हैं जिन्हें खोजने और प्रस्तुत करने में समय लगाना पड़ता है, संसाधन जुटाने पड़ते हैं और साहस दिखाना पड़ता है क्योंकि तथ्यों से अपने पाठकों और व्यापक समाज को रू-ब-रू कराने के लिए हम कटिबद्ध हैं।

हमारे द्वारा उद्घाटित रिपोर्ट्स और कहानियाँ अक्सर बदलाव का सबब बनती रही है। साथ ही सरकार और सरकारी अधिकारियों को मजबूर करती रही हैं कि वे नागरिकों को उन सभी चीजों और सेवाओं को मुहैया करवाएं जिनकी उन्हें दरकार है। लाजिमी है कि इस तरह की जन-पत्रकारिता को जारी रखने के लिए हमें लगातार आपके मूल्यवान समर्थन और सहयोग की आवश्यकता है।

सहयोग राशि के रूप में आपके द्वारा बढ़ाया गया हर हाथ जनज्वार को अधिक साहस और वित्तीय सामर्थ्य देगा जिसका सीधा परिणाम यह होगा कि आपकी और आपके आस-पास रहने वाले लोगों की ज़िंदगी को प्रभावित करने वाली हर ख़बर और रिपोर्ट को सामने लाने में जनज्वार कभी पीछे नहीं रहेगा, इसलिए आगे आयें और जनज्वार को आर्थिक सहयोग दें।)

Next Story

विविध