Top
कश्मीर

शेहला राशिद को पिता ने बताया देशद्रोही, बेटी बोली - मेरे पिता पत्नी को पीटने वाले बुरे इंसान

Janjwar Desk
1 Dec 2020 4:55 AM GMT
शेहला राशिद को पिता ने बताया देशद्रोही, बेटी बोली - मेरे पिता पत्नी को पीटने वाले बुरे इंसान
x
शेहला राशिद ने सोशल मीडिया पर एक बयान जारी कर अपने पिता को बुरा इंसान बताया है और कहा है कि उनके खिलाफ कार्रवाई किए जाने की वजह से ही उन्होंने ऐसा आरोप लगाया है...

जनज्वार। जेएनयू छात्र आंदोलन से चर्चा में आयी इस विश्वविद्यालय की पूर्व छात्रा शेहला राशिद के मामले में एक नया मोड़ आया है। शेहला राशिद के पिता अब्दुल राशिद ने कहा है कि उनकी बेटी देश विरोधी गतिविधि में संलग्न हैं और उनसे उनकी जान को खतरा है। अब्दुल राशिद ने जम्मू कश्मीर के डीजीपी को तीन पन्ने का एक लंबा पत्र लिख कर मामले की जानकारी दी है और गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने खुद की सुरक्षा की मांग की है।

वहीं, शेहला राशिद ने अपने पिता के इन आरोपों को आधारहीन व गलत बताया है। शेहला राशिद ने कहा है कि परिवार में ऐसा नहीं होता है जैसा मेरे पिता ने किया है। उन्होंने कहा है कि आपमें से बहुत से लोगों ने मेरे जैविक पिता का वो वीडियो देखा होगा, जिसमें वो मेरी और मेरी मम्मी और बहन के खिलाफ अनाप-शनाप आरोप लगा रह हैं। शेहला राशिद ने अपने पिता को पत्नी की पिटाई करने वाला व अपमानजनक व बुरा इंसान बताया है। उन्होंने कहा कि हमने उनके खिलाफ कार्रवाई करने का निर्णय लिया है और उनका यह स्टंट इसी की प्रतिक्रिया है।

वहीं, इस मामले पर कश्मीर रेंज के आइजी विजय कुमार ने कहा है कि शेहला के पिता अब्दुल राशिद के आरोपों की जांच के लिए पत्र को श्रीनगर के एसएसपी को भेजा गया है। उसकी जांच के बाद इस मामले में समुचित कार्रवाई की जाएगी।

शेहला राशिद के पिता ने क्या आरोप लगाए हैं?

शेहला राशिद के पिता अब्दुल राशिद ने आरोप लगाया है कि साल 2017 में उनकी बेटी अचानक कश्मीर की राजनीति में आ गईं। पहले वह नेशनल कान्फ्रेंस में शामिल हुईं और उसके बाद जेकेपीएम में। जेकेपीएम की स्थापना आइएएस अधिकारी शाह फैसल ने की थी। अब्दुल राशिद के आरोपों के अनुसार, विधायक इंजीनियर राशिद और जुहूर वटाली ने उनकी बेटी को नई पार्टी में शामिल होने के लिए तीन करोड़ रुपये की पेशकश की।

अब्दुल राशिद के आरोपों के अनुसार, जून 2017 में दोनों नेताओं ने उन्हें श्रीनगर स्थित वटाली के घर पर बुलाया था और कहा था कि वे लोग नई पार्टी बनाने जा रहे हैं जिसमें उनकी बेटी को शामिल किया जाएगा। मालूम हो कि ट्रेरर फंडिंग मामले में इंजीनियर राशिद व जुहूर वटाली गिरफ्तार हैं।

शेहला के पिता के अनुसार, उस दिन मौके पर तीन करोड़ रुप्ये देने की बात कही गई लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया। इसके बाद उनकी बेटी से संपर्क किया गया। अब्दुल राशिद के अनुसार, उन्होंने कहा था कि जो पैसे उनकी बेटी को दिया जा रहा है वह गलत रास्ते से आए हैं, इसका प्रयोग भी गलत जगह पर हो रहा है। इसके बाद शेहला उस पार्टी से जुड़ गईं और जब उन्होंने इसके लिए बेटी को मना किया तो उन्हें चुप रहने को कहा गया। उन्हें बताया गया कि वे पैसे जहां पहुंचने थे वहां पहुंचा दिए गए और यह भी कहा गया कि आगे और भी पैसे आएंगे।

शेहला के पिता ने आरोप लगाया है कि इसके बाद उन्हें तंग किया जाने लगा। उनके घर कई लोगों का आना-जाना शुरू हो गया। उन्होंने जब इससे मना किया तो उन्हें धमकियां दी जाने लगीं। उन्हें घर से बाहर किए जाने का प्रयास किया गया और अब उन्हें अपनी जान का खतरा महसूस हो रहा है। उन्होने आरोप लगाया है कि उनकी बेटी अब देशद्रोही लोगों से जुड़ गईं हैं और ऐसे में उनकी हत्या की जा सकती है।

Next Story

विविध

Share it