मध्य प्रदेश

Khargone Violence: पुलिस अधीक्षक पर गोली चलाने का आरोपी गिरफ्तार, जानिए कौन है आरोपी?

Janjwar Desk
23 April 2022 9:25 AM GMT
Khargone Violence: पुलिस अधीक्षक पर गोली चलाने का आरोपी गिरफ्तार, जानिए कौन है आरोपी?
x

Khargone Violence: पुलिस अधीक्षक पर गोली चलाने का आरोपी गिरफ्तार, जानिए कौन है आरोपी?

Khargone Violence: खरगोन हिंसा में शामिल उपद्रवियों के खिलाफ लगातार पुलिस की कार्रवाई जारी है, जहां हिंसा के दौरान एसपी सिद्धार्थ चौधरी पर गोली चलाने वाले मुख्य आरोपी मोहसिन को पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

Khargone Violence: खरगोन हिंसा में शामिल उपद्रवियों के खिलाफ लगातार पुलिस की कार्रवाई जारी है, जहां हिंसा के दौरान एसपी सिद्धार्थ चौधरी पर गोली चलाने वाले मुख्य आरोपी मोहसिन को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. मोहसीन को पुलिस ने खरगोन के पास कसरावद से पकड़ा है, जहां मोहसिन कसरावद से भागने की फिराक में था, लेकिन उसके वहां से भागने से पहले ही पुलिस ने मोहसिन को गिरफ्तार कर लिया. हिंसा के दौरान आरोपी मोहसिन ने एसपी सिद्धार्थ चौधरी पर गोली चलाई थी, जो उनके पैर में लगी थी.

आरोपी पर पहले से दर्ज हैं 4 मामले

पुलिस महानिरीक्षक ने बताया कि पुलिस की एक टीम ने शुक्रवार को कसरावद थाना क्षेत्र से मोहसिन को गिरफ्तार किया. मोहसिन के खिलाफ पहले से ही चार आपराधिक मामले दर्ज हैं, जिसमें अवैध हथियारों की बिक्री और हमले से जुड़े मामले शामिल हैं. उन्होंने कहा कि पुलिस आरोपी से उसके साथियों के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए पूछताछ करेगी. वहीं खरगोन के एसपी सिद्धार्थ चौधरी फिलहाल अवकाश पर हैं, क्योंकि पैर में गोली लगने के बाद उनका इलाज चल रहा है.

कर्फ्यू में 9 घंटे की ढील मिली

10 अप्रैल को रामनवमी पर खरगोन शहर में सांप्रदायिक दंगे हुए थे इस दौरान पथराव और आगजनी कर दुकानों और घरों को क्षतिग्रस्त कर दिया गया था और वाहनों को आग लगा दी गई थी. हिंसा के बाद शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया था. लेकिन स्थानीय प्रशासन 14 अप्रैल से दो घंटे के अंतराल के लिए कर्फ्यू में ढील दे रहा है. अधिकारियों ने बताया कि खरगोन शहर में कर्फ्यू में शनिवार सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे तक लगातार 9 घंटे की ढील दी गई. बुधवार को इसमें 6 घंटे की ढील दी गई.

धार्मिक स्थल अभी बंद रहेंगे

आदेश के अनुसार स्थानीय कृषि बाजार, पेट्रोल पंप और सार्वजनिक वितरण प्रणाली (PDS) की दुकानों से मिट्टी के तेल की बिक्री के लिए कर्फ्यू में छूट लागू नहीं होगी. कर्फ्यू में ढील की अवधि के दौरान दूध, सब्जी, दवा आदि दुकानों को खुले रहने की अनुमति दी गई है, लेकिन धार्मिक स्थलों को बंद रखने को कहा गया है. वहीं इस उपद्रव को लेकर पुलिस ने 3 आरोपियों पर भी रासुका भी लगाई है. उपद्रव के मामले में अब तक 64 प्रकरण दर्ज हुए हैं. 168 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

Next Story

विविध