मध्य प्रदेश

MP News : भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा के बिगड़े बोल, 'दिग्विजय सिंह को बताया जिन्ना की औलाद'

Janjwar Desk
27 April 2022 9:50 AM GMT
MP News : भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा के बिगड़े बोल,
x

MP News : भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा के बिगड़े बोल, 'दिग्विजय सिंह को बताया जिन्ना की औलाद'

MP News : भाजपा विधायक शर्मा बोलते समय इतने गुस्से में थे कि उन्होंने कह दिया कि पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह जिन्ना की औलाद की तरह हिंदू और मुस्लिमों में दरार पैदा कर रहे हैं।

MP News : मध्य प्रदेश ( Madhya Pradesh ) के खरगोन में रामनवमी के दिन हुई हिंसक घटना और बुलडोजर की कार्रवाई के बाद से प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ( Digvijay Singh ) लगातार शिवराज सरकार के खिलाफ बयान दे रहे हैं। उनके बयानों से भाजपा के विधायक रामेश्वर शर्मा ( Rameshwar Sharma ) ने दिग्विजय सिंह पर हमला बोल दिया है। उन्होंने कहा कि दिग्विजय सिंह ने हिंदू-मुसलमान की खाई को और गहरा कर दिया है। भाजपा विधायक शर्मा बोलते समय इतने गुस्से में थे कि उन्होंने कह दिया कि पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह जिन्ना की औलाद की तरह वह हिंदू और मुस्लिमों में दरार पैदा कर रहे हैं।

दिग्विजय सिंह सुधर जाओ

भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ( Rameshwar Sharma ) ने कहा कि तथ्यों को चेक किए बगैर वह बोलते हैं जबकि वो एमपी में दस साल तक सीएम रहे हैं। बिना तथ्य चेक किए मस्जिद का फोटो डाल दिया। बिना तथ्य चेक किए मुसलमानों पर आरोप लगा दिए। दिग्विजय सिंह, सुधर जाओ। पाकिस्तान के साथ तुम्हारी चैट पकड़ी गई है। जाकिर नाइक के साथ तुम्हारी दोस्ती सामने आ चुकी है। तुम आतंकवादियों को पाल-पोस रहे हो।

क्या कहा था दिग्विजय सिंह ने?

दरअसल, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह सोमवार रात नीमच जिले की जावद विधानसभा के ग्राम मोड़ी में एक दलित कार्यकर्ता के घर रात्रि विश्राम किया था। उसके बाद मंगलवार सुबह जनजागरण रैली में शामिल हुए। इस दौरान मोड़ी माता के दर्शन भी किए।

इस दौरान पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ( Digvijay Singh ) ने पत्रकारों से बातचीत में भाजपा सरकार पर गंभीर आरोप लगाए। दिग्विजय सिंह ने कहा कि भाजपा के लोग कुछ गरीब मुसलमान लड़कों को पैसा देकर खुद ही पत्थर फिंकवाते हैं। दिग्विजय सिंह ने यह भी साफ किया कि उन्हें ऐसी शिकायतें मिल रही हैं। इनकी जांच उन्होंने नहीं कराई है। जल्द ही जांच भी करवाएंगे।

इससे पहले भी दिग्विजय सिंह खरगोन हिंसा को लेकर भाजपा पर कई गंभीर आरोप लगा चुके हैं। कुछ दिनों पहले ही उन्होंने एक ट्वीट कर भाजपा पर साम्प्रदायिक उन्माद फैलाने का आरोप लगाया था। उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा था कि 'भाजपा यह जानती है कि बिना पत्थर उछाले कुर्सी नहीं मिलती है। इस वजह से हथियार के रूप में लोगों की भावनाओं को सियासी हथियार के रूप में इस्तेमाल करती है। साम्प्रदायिक उन्माद भाजपा का सबसे ख़तरनाक राजनीतिक हथियार है। जिस जिले में दंगा होगा उसकी पूरी जवाबदेही जिला कलेक्टर व एसपी की होगी, यदि यह संदेश मुख्यमंत्री दें तो कभी दंगा नहीं हो सकता। मेरे 10 वर्ष के कार्यकाल में एक भी सांप्रदायिक दंगा नहीं हुआ।

बता दें कि खरगोन हिंसा को लेकर उनके गलत फोटो पोस्ट करने को लेकर भाजपा ने उन पर एफआईआर दर्ज कराई है। दिग्विजय सिंह ने भूल का अहसास होने के बाद उस ट्विट को डिलिट कर दिया था।

दिग्विजय की अक्ल पर पत्थर पड़ गए हैं - सारंग

माध्य प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने कहा कि दिग्विजय सिंह की अक्ल पर पत्थर पड़ गए हैं। वह रोजाना अर्नगल बातें कर समाज में विभेद पैदा करने की कोशिश करते हैं। दो बाद प्रदेश का मुख्यमंत्री रहने के बावजदू वह धर्म को धर्म से लड़ाने की बात कर रहा है। उनके कहने का मतलब है कि मुसलमान बिकाऊ हैं। एफआईआर होने के डर से बयान वापस भी ले लिया। दिग्विजय सिंह बिना तथ्य के आरोप लगवा रहे हैं। भाजपा समाज को तोड़ती नहीं, बल्कि जोड़ने वाली पार्टी है। दंगा करना और करवाना कांग्रेस का काम है।

Next Story

विविध