Top
मध्य प्रदेश

MP के राजगढ़ में पत्नी ने लगाया पति को जलाकर मारने का आरोप, पुलिस ने जलती चिता में से निकाली लाश

Janjwar Desk
13 Oct 2020 3:15 AM GMT
MP के राजगढ़ में पत्नी ने लगाया पति को जलाकर मारने का आरोप, पुलिस ने जलती चिता में से निकाली लाश
x
मामले पर परिवार का कहना है कि प्रेम तंवर जमशेरपुरा गांव को छोड़कर शहर के करीब खोयरी रोड़ पर रहने लगा था, इस दौरान वहां रहने के कारण वो दिनभर शराब का सेवन करता रहता था....

जनज्वार। मध्य प्रदेश के राजगढ़ में स्थित जमशेरापुरा में 35 वर्षीय प्रेम नानूराम तंवर को मार कर उसका अंतिम संस्कार करने का मामला सामने आया है। जमशेरपुरा गांव के रहने वाला प्रेम नानू राम तंवर पिछले 35 सालों से खोयरी रोड़ पर रहा था। परिवार के अन्य सदस्य का कहना है कि नानूराम शराब का आदी था जो लगातार शराब के नशे में रहता था, जिसके चलते परिवार के लोग भी नानूराम से परेशान थे। नानूराम के ज्यादा शराब पीने के कारण उसकी पत्नी ने उसे छोड़ अपने बेड़ाकापुरा स्थित मायके में रहने लगी थी। एक दिन पहले शनिवार को प्रेम नानूराम शराब के नशे में था और कुछ खा पी भी नहीं रहा था, जिसके बाद उसके परिवार के लोगों ने ज्यादा तबीयत बिगड़ती देख उसे नजदीक के प्राइवेट डॉक्टर को दिखाने के लिए ले गए, जहां पर वह जमीन में गिर कर बेहोश हो गया।

इसके बाद परिजन उसको घर ले आए जहां उसकी मौत हो गई। मृत के बाद परिजनों ने सुबह 7 बजे मृतक प्रेम को खोयरी स्थित श्मशान में ले जाकर जला दिया। इसी बीच मृतक की पत्नी ने थाने पहुंच पति को मारकर जलाने की बात कह दी, पुलिस ने शव को जलती चिता से निकाल शव को अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

मामले पर परिवार वालो का कहना है कि प्रेम तंवर जमशेरपुरा गांव को छोड़कर शहर के करीब खोयरी रोड़ पर रहने लगा था। इस दौरान वहां रहने के कारण वो दिनभर शराब का सेवन करता रहता था। नशे के चलते उसका खाने पीने का भी कोई ठिकाना नहीं था। इसी की चलते उसकी तबीयत काफी ज्यादा बिगड़ गई और उसे करीब 3 बजे पास में ही एक प्राइवेट क्लीनिक में ले जाया गया। जहां वो अचानक जमीन पर गिर गया, इसी दौरान उसकी संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई थी।

मामले पर पुलिस का कहना है कि इसकी जानकारी उन्हें सुबह 7 बजे मिली, लेकिन इसी बीच मृतक की पत्नी जब कोतवाली थाने पहुंची तो पुलिस ने तुरंत मामले को गंभीरता से लेते हुए श्मशान घाट पहुंची। इस दौरान परिजनों ने चिता को आग के हवाले कर दिया था, जिसके बाद श्मशान घाट में पहुंच कर डंडों व लकड़ी के मदद से पुलिस व अन्य लोगों ने मृतक के शव को चिता से निकाला। इस दौरान आग के कारण मृतक का हाथ व चेहरा पूरी तरह से झुलस चुका था। वहीं सिर के बाल भी जल गए थे। इसके बाद आठ बजे पुलिस शव को लेकर अस्पताल पहुंची, जहां मृतक के शव को पोस्टमार्टम कर परिजनों को सौंप दिया गया।

घटना पर थाने के एसआई डीएस पलैया का कहना है कि पत्नी की शिकायत के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को आग के बीच से कड़ी मशक्कत के बाद निकालकर पोस्टमार्ट के लिए भेज, पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद मृतक के कारणों का पता लगने के बाद किसी तरह की कार्रवाई की जाएगी।

Next Story

विविध

Share it