राष्ट्रीय

Maharashtra Crime News : नुपुर शर्मा को लेकर पोस्ट करने पर महाराष्ट्र में हुआ एक और मर्डर, उदयपुर जैसा ही है हत्या का तरीका

Janjwar Desk
2 July 2022 8:08 AM GMT
Maharashtra News : अमरावती हत्याकांड को NIA ने बताया आतंकी वारदात, आरोपियों का मकसद था दहशत फैलाना
x

Maharashtra News : अमरावती हत्याकांड को NIA ने बताया आतंकी वारदात, आरोपियों का मकसद था दहशत फैलाना

Maharashtra Crime News : महाराष्ट्र (Maharashtra) के अमरावती जिले में 54 वर्षीय केमिस्ट उमेश प्रहलादराव कोल्हे की 21 जून को हत्या कर दी गई थी, इस मामले की जांच कर रही टीम का अब मानना है कि कोल्हे को कथित तौर पर बीजेपी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा का समर्थन करने वाली सोशल मीडिया पोस्ट के बदले में मारा गया था...

Maharashtra Crime News : राजस्थान (Rajasthan) के उदयपुर (Udaipur) में टेलर कन्हैया लाल की हत्या (Kanhaiya Lal Murder Case) से ठीक एक हफ्ता पहले महाराष्ट्र (Maharashtra) के अमरावती जिले में 54 वर्षीय केमिस्ट उमेश प्रहलादराव कोल्हे की 21 जून को हत्या कर दी गई थी। इस मामले की जांच कर रही टीम का अब मानना है कि कोल्हे को कथित तौर पर बीजेपी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा का समर्थन करने वाली सोशल मीडिया पोस्ट के बदले में मारा गया था।

उमेश कोल्हे के हत्यारे गिरफ्तार

बता दें कि उमेश कोल्हे के बेटे संकेत कोल्हे की शिकायत के बाद अमरावती में सिटी कोतवाली पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है। 23 जून को दो व्यक्तियों मुदस्सीर अहमद और 25 वर्षीय शाहरुख पठान को गिरफ्तार किया गया। उनसे पूछताछ में 4 लोगों की संलिप्तता का पता चला। उनमें से तीन, 24 वर्षीय अब्दुल तौफीक, 22 वर्षीय शोएब खान और अतिब राशिद को 25 जून को गिरफ्तार किया गया था। एक शमीम अहमद उर्फ फिरोज अहमद अभी भी फरार है।

बता दें कि यह घटना बीते 21 जून को रात 10:00 से 10:30 के बीच हुई थी, जब उमेश अपने दुकान अमित मेडिकल स्टोर बंद करके घर जा रहे थे। संकेत अपनी पत्नी वैष्णवी के साथ दूसरे स्कूटर पर सवार थे।

ऐसे दिया हत्या को अंजाम

मृतक के बेटे संकेत ने अपनी शिकायत में पुलिस को बताया है कि 'हम प्रभात चौक से जा रहे थे और हमारे स्कूटर महिला कॉलेज न्यू हाई स्कूल के गेट पर पहुंच गए थे। मोटरसाइकिल पर सवार दो आदमी अचानक मेरे पिता की स्कूटी के सामने आ गए। उन्होंने मेरे पिता की बाइक रोक दी और उनमें से एक ने उनकी गर्दन के बाईं ओर चाकू से वार कर दिया। मेरे पिता गिर गए और खून बह रहा था। मैंने अपना स्कूटर रोका और मदद के लिए चिल्लाने लगा। एक अन्य व्यक्ति आया और तीनों मोटरसाइकिल पर मौके से फरार हो गए।' आसपास के लोगों की मदद से कोल्हे को पास के एक्सन अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

हत्या के बाद भागने के लिए मुहैया कराए गए रुपए

अमरावती शहर पुलिस के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी का कहना है कि 'अब तक गिरफ्तार किए गए 5 आरोपियों ने हमें बताया है कि उन्होंने एक अन्य आरोपी की मदद मांगी, जिसने उन्हें एक कार और भागने के लिए 10000 रुपए मुहैया कराए।' साथ ही अधिकारी ने कहा कि फरार आरोपियों में से एक ने हत्या के लिए अन्य पांच को जिम्मा सौंपा था। उसने उनमें से दो को उमेश कोल्हे पर नजर रखने और मेडिकल स्टोर से बाहर निकलने पर अन्य टीम को सतर्क करने के लिए कहा था। अन्य तीनों ने कोल्हे को रोका और उसके साथ मारपीट की संकेत की शिकायत के बाद सिटी कोतवाली थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

नूपुर शर्मा के समर्थन में हत्या की आशंका

इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर के अनुसार जांच के दौरान पता चला है कि उमेश कोल्हे ने व्हाट्सएप पर नूपुर शर्मा का समर्थन करते हुए एक पोस्ट किया था। गलती से उसने मुस्लिम समुदाय वाले एक समूह पर भी यह पोस्ट कर दिया, जो उसके ग्राहक भी थे। गिरफ्तार किए गए आरोपियों में से एक ने कहा कि यह पैगंबर का अपमान है इसलिए उन्हें मारना चाहिए।

Next Story

विविध