राष्ट्रीय

अब तौकते तूफान का सामना करने के लिए हो जाइये तैयार, तूफान को लेकर हाई अलर्ट जारी

Janjwar Desk
16 May 2021 3:16 AM GMT
अब तौकते तूफान का सामना करने के लिए हो जाइये तैयार, तूफान को लेकर हाई अलर्ट जारी
x
Photo- PTI
दक्षिण पूर्वी अरब सागर के ऊपर भारी दबाव का क्षेत्र बना है। यह भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील हो चुका है। तूफान को तौकते नाम म्यामां ने दिया है। जिसका अर्थ होता है छिपकली। इस साल भारत में यह पहला तूफान है।

भारत के तटीय राज्यों में एक बड़ा तूफान दस्तक देने के लिये तैयार है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की माने तो यह तूफान बहुत भयंकर चक्रवाती तूफान है। तूफान तौकते को देखते हुए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार 15 मई को दिल्ली में एक उच्च स्तरीय मीटिंग की थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मीटिंग में चक्रवाती तूफान के दौरान आवश्यक सामानों की आपूर्ति और तैयारियों की समीक्षा की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए सभी लोगों की सुरक्षा और सलामती के लिए प्रार्थना भी की है। तूफान को देखते हुए गृह मंत्रालय ने सभी संबंधित राज्यों के साथ संपर्क बना रखा है। तूफान से राहत के लिए मंत्रालय ने राज्य आपदा नियंत्रण विभाग की टीमें तैनात कर दी हैं।

इस तूफान के चलते तेज हवाओं के साथ तटीय राज्यों में भारी बारिश की संभावना है। तौकते तूफान के कारण केरल व कर्नाटक के तटीय क्षेत्र में भारी बारिश जारी है। इस चक्रवाती तूफान से भारत के तटीय राज्य केरल, उड़ीसा, महाराष्ट्र, गुजरात, गोवा,कर्नाटक, तमिलनाडु व केंद्र शाशित प्रदेश लक्ष्यदीप के सर्वाधिक प्रभावित होने की संभावना है। मौसम विज्ञान के अनुमान के अनुसार तूफ़ान की रफ़्तार 175 किलोमीटर प्रति घंटा तक हो सकती है ।


तूफान तौकते को देखते हुये राहत एवं बचाव कार्य के लिये एनडीआरएफ ने अपनी टीमों की संख्या 53 से बढ़ाकर 100 कर दी है। एनडीआरएफ के महानिदेशक ट्वीट करते हुये बताया कि ये टीमें केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, गोवा, गुजरात और महाराष्ट्र के तटीय क्षेत्रों कि ओर जाने को तैयार है। शुक्रवार को उन्होंने 53 दलों के बारे में जानकारी दी थी। मौसम विज्ञान विभाग द्वारा मिली नयी जानकारी के बाद टुकड़ियों कि संख्या को बड़ा दिया गया है।


दक्षिण पूर्वी अरब सागर के ऊपर भारी दबाव का क्षेत्र बना है। यह भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील हो चुका है। तूफान को तौकते नाम म्यामां ने दिया है। जिसका अर्थ होता है छिपकली। इस साल भारत में यह पहला तूफान है।

Next Story

विविध