राष्ट्रीय

PM in Gorakhpur: CM सीटी गोरखपुर पर पीएम मोदी का तंज, 7 दिसंबर की रैली से पहले करें शहर को कूड़ा मुक्त!

Janjwar Desk
2 Dec 2021 6:40 AM GMT
UP Election 2022 : अबतक यूपी में भाजपा के 13 मंत्रियों-विधायकों ने छोड़ी पार्टी, देखिये BJP छोड़ने वालों की पूरी लिस्ट
x

अबतक यूपी में भाजपा के 13 मंत्रियों-विधायकों ने छोड़ी पार्टी

PM in Gorakhpur: नरेंद्र मोदी ने योगी के अफसरों को सख्त हिदायत देते हुए कहा कि उनके आने से पहले गोरखपुर को कूड़ामुक्त कर दें। मोदी ने कहा कि जब वे आएं तो उन्हें कहीं भी कूड़ा-कचरा देखने को नहीं मिलना चाहिए...
PM in Gorakhpur: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) 7 दिसंबर को योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के शहर गोरखपुर (Gorakhpur) आ रहे हैं। यहां पर वे खाद कारखाना और अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) का लोकार्पण करेंगे। उनकी आने की तैयारियां यूपी में जोरों से चल रहीं है। इसी क्रम में नरेंद्र मोदी ने मंगलवार 30 नवंबर को राज्य के अफसरों से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए बात की और उन्हें कार्यक्रम के दौरान स्वच्छता को लेकर अहम जिम्मेदारी सौंपी हैं। नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने योगी के अफसरों को साफ सफाई को लेकर सख्त हिदायत देते हुए कहा कि उनके आने से पहले गोरखपुर (Modi in Gorakhpur) को कूड़ामुक्त कर दें। मोदी ने कहा कि जब वे आएं तो उन्हें कहीं भी कूड़ा-कचरा देखने को नहीं मिलना चाहिए।

बता दें कि 7 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गोरखपुर जिले में हिंदुस्तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (Gorakhpur AIIMS) और बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज स्थित रीजनल मेडिकल रिसर्च सेंटर के 9 लैबों का लोकार्पण करेंगे। गोरखपुर में पीएम के कार्यक्रम के मद्देनजर जिले में तैयारिया तेजी से चल रही हैं। मंगलवार 30 नवंबर को पीएम मोदी ने यूपी के अफसरों के साथ कार्यक्रम को लेकर होरही तैयारियों की समीक्षा बैठक की। वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए हुई इस बैठक में राज्य के मुखिया योगी आदित्यनाथ (UP CM Yogi) भी मौजूद रहें। इस बैठक में पीएम मोदी ने स्वच्छता को लेकर योगी के अफसरों को कड़ी हिदायत दी और कहा कि कार्यक्रम से पहले पूरे शहर में कहीं भी उन्हें कूड़ा नजर नहीं आना चाहिए।

रैली के बाद आयोजन स्थल पर न दिखे कचरा

प्रधानमंत्री ने अफसरों से बातचीत के दौरान यह भी स्पष्ट किया कि रैली से पहले साफ सफाई तो होगी ही, लेकिन रैली खत्म होने के बाद भी आयोजन स्थल पर कूड़ा नहीं नजर आना चाहिए। उन्होंने कहा कि वे खुद इसकी मॉनिटरिंग भी कराएंगे कि कार्यक्रम के बाद सभा स्थल से कूड़ा कचड़ा उठाया गया या नहीं। प्रधानमंत्री के निर्देश के बाद मंगलवार रात से ही योगी के अफसर मोदी के आगमन से पहले सफाई व्यवस्था की रणनीति बनाने में जुट गए। बुधवार 1 दिसंबर से गोरखपुर के चौक चौराहे पर सफाई महाअभियान छेड़ दिया गया है।

मोदी के आगमन पर गोरखपुर का कायापलट

बता दें कि गोरखपुर (CM City Gorakhpur) मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गृह जिला है। 7 और 8 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गोरखपुर में कई कार्यक्रम निर्धारित है। पीएम के आगमन को लेकर गोरखपुर में कई दिनों से तैयारियां चल रही हैं। पीएम की रैली को लेकर साफ सफाई पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। पीएम मोदी ने भी अब अफसरों को स्वच्छता को लेकर विशेष जिम्मेदारी सौंपी है। ऐसे में खुद योगी आदित्यनाथ भी अपने गृह जिला को सुंदर बनाने में जुटे हुए हैं। वे पीएम मोदी को शिकायत का कोई मौका नहीं देना चाहते। यही वजह है कि उन्होंने अपने अधिकारियों से कहा कि प्रधानमंत्री के आने से पहले सभी तैयारियां नवंबर महीने में ही पूरी कर ली जाएं।

23 नवंबर को मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री (PM Modi) की जनसभा को देखते हुए अधिकारियों से सभी व्यवस्थाओं पर बात की। इस भव्य जनसभा में दो लाख से ज्यादा लोगों के पहुंचने की संभावना है। अनुमानित भीड़ को देखते हुए सभा स्थल पर 60 हजार से ज्यादा कुर्सियां रखने की योजना बनाई जा रही है। वाहनों के लिए 12 स्थानों पर पार्किंग की व्यवस्था की गई है। 7 दिसंबर को प्रधानमंत्री पहले सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के परिसर में पहुंचेंगे और यहां से खाद कारखाना जाएंगे। सीएम ने सफाई व्यवस्था के साथ ही खाद कारखाना और एम्स परिसर (AIIMS) का सौंदर्यीकरण को लेकर भी हिदायत दी है।

Next Story

विविध