राजस्थान

Rajasthan News: 'झगड़ालू होती हैं महिलाएं, इसलिए पुरुषों से पीछे' महिलाओं को लेकर शिक्षा मंत्री का विवादित बयान

Janjwar Desk
13 Oct 2021 8:50 AM GMT
Rajasthan News: झगड़ालू होती हैं महिलाएं, इसलिए पुरुषों से पीछे महिलाओं को लेकर शिक्षा मंत्री का विवादित बयान
x

(राजस्थान के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा) Courtsey: Google

शिक्षा मंत्री के अनुसार महिलाओं के झगड़े के कारण स्कूलों के पुरुष स्टॉफ परेशान रहते हैं... उन्होंने कहा कि महिलाओं के झगड़े के कारण स्कूल में पुरुष शिक्षकों और प्रधानाचार्यों को सिरदर्द की गोली खानी पड़ती है...

Rajasthan News (जनज्वार): राजस्थान के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने महिलाओं को लेकर एक विवादित बयान दे दिया है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि महिलाएं झगड़ालू होती हैं और इसी कारण से वे पुरुषों से आगे नहीं निकल पाती हैं। सबसे हैरानी की बात तो यह है कि ये बातें उन्होंने अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर एक कार्यक्रम को संबोधित करने के दौरान कही। शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का महिलाओं को लेकर ऐसे टिप्पणी के बाद चारों तरफ उनकी आलोचना हो रही है।

'झगड़ालू होने के कारण पुरुषो से पीछे रहती हैं'

सोमवार 11 अक्टूबर को राजधानी जयपुर में अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम में राजस्थान के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा बालिकाओं को संबोधित कर रहे थे। लेकिन यहां जो उन्होंने कहा उससे उनकी महिलाओं के प्रति सोच पर सवाल उठने लगे हैं। शिक्षा मंत्री ने कहा कि जिन स्कूलों में महिला शिक्षकों और कर्मचारियों की संख्या अधिक होती है, वहां झगड़े भी ज्यादा होते हैं। डोटासरा ने कहा कि उनकें पास ऐसी कई रिपोर्ट आती हैं। महिलाओं के झगड़ने की प्रवृत्ति के कारण ही वे पुरुषों से आगे नहीं निकल पाती।

डोटासरा ने महिलाओं के स्वभाव पर चुटकी लेते हुए कहा कि, 'प्रमुख रूप से मेरे विभाग के लिए मुझे यह बताना होगा कि अधिक महिला कर्मचारियों वाले स्कूलों में विभिन्न कारणों से अधिक झगड़े होते हैं। यदि आप इन छोटी-छोटी बातों को सुधार लेते हैं, तो आप हमेशा अपने आप को पुरुषों से आगे पाएंगे।' शिक्षा मंत्री के अनुसार महिलाओं के झगड़े के कारण स्कूलों के पुरुष स्टॉफ परेशान रहते हैं। उन्होंने कहा कि महिलाओं के झगड़े के कारण स्कूल में पुरुष शिक्षकों और प्रधानाचार्यों को सिरदर्द की गोली खानी पड़ती है।

शिक्षा मंत्री डोटासरा ने महिला कर्मचारियों वाले स्कूलों में अधिक झगड़े होने की बात को कहते हुए सरकार के महिलाओं के प्रति संकल्प को भी गिनावाया। डोटासरा ने राज्य की कांग्रेस सरकार का बखान करते हुए कहा कि राज्य में कांग्रेस सरकार ने महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के साथ-साथ उन्हें नौकरियों और पदोन्नति में प्राथमिकता दी है। हमारी सरकार महिलाओं के मुद्दे पर प्राथमिकता से काम करती है।

कर्नाटक के मंत्री ने भी किया था महिलाओं पर टिप्पणी

बता दें डोटासरा का महिलाओं को लेकर विवादित बयान तब आया है जब हाल में ही कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री डॉ के सुधाकर ने महिलाओं को लेकर एक आपत्तिजनक स्टेटमेंट देकर फंस गए थे। बता दें कि कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. सुधाकर ने कहा था कि आधुनिक भारतीय महिलाएं कुंवारे रहना चाहती हैं, शादी के बाद भी बच्चे को जन्म देने के लिए तैयार नहीं हैं। आजकल की महिलाएं सरोगेसी द्वारा बच्चों की इच्छा रखती हैं। आज, मुझे यह कहते हुए खेद हो रहा है कि भारत कि आधुनिक महिलाएं अविवाहित रहना चाहती हैं। भले ही वे शादी कर लें, लेकिन वे बच्चे को जन्म नहीं देना चाहती हैं। ये बातें उन्होंने राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य और तंत्रिका विज्ञान संस्थान में विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस के दौरान कहा था। जिसपर काफी विवाद हुआ।


Next Story

विविध

Share it