Top
राष्ट्रीय

आजतक के दंगल में जयचंद-नकली हिंदू बोलने पर राजीव त्यागी की गयी जान, लोग बोले अरेस्ट करो संबित पात्रा को

Janjwar Desk
13 Aug 2020 3:11 AM GMT
आजतक के दंगल में जयचंद-नकली हिंदू बोलने पर राजीव त्यागी की गयी जान, लोग बोले अरेस्ट करो संबित पात्रा को
x
कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी की मौत के बाद भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा के द्वारा टीवी बहसों में प्रयोग किए जाने वाले शब्दों पर एक बार फिर सवाल उठ खड़ा हुआ है। वहीं, टीवी पत्रकारों, एंकरों व संपादकों की भूमिका पर पत्रकार व राजनेता दोनों सवाल उठा रहे हैं....

जनज्वार। कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी (Rajiv Tyagi) की मौत के बाद टीवी पर होने वाली राजनीतिक बहसों पर गंभीर सवाल उठा खड़ा हुआ है। टीवी डिबेट के तौर-तरीकों और उसमें प्रयोग किए जाने वाले जहरीले शब्दों पर टीवी पत्रकारों का एक वर्ग और कांग्रेस पार्टी दोनों सवाल उठा रहे हैं। बुधवार को राजीव त्यागी को कार्डियक अरेस्ट उस वक्त हुआ जब वे आज तक न्यूज चैनल पर कर्नाटक में भड़की हिंसा पर भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा (Sambit Patra) से बहस कर रहे थे। उस बहस के एंकर रोहित सरदाना (Rohit Sardana) थे। रोहित सरदाना के बहस को माॅडरेट करने के तरीकों पर भी सवाल उठाया जा रहा है। आजतक न्यूज चैनल में ही लंबे समय तक काम कर चुके पत्रकार दीपक शर्मा ने बिना नाम का उल्लेख किए अपने ट्वीट में इस ओर संकेत किया है।

वहीं, कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि राजीव त्यागी से बहस के दौरान भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा उन्हें नकली हिंदू कहा। जयचंद कहा और कहा कि टीका लगाने से कोई हिंदू नहीं बना जाता है। जयचंद शब्द ऐतिहासिक वजहों से भारत में धोखे, विश्वासघात व राष्ट्रद्रोह का प्रतीक है। राजीव त्यागी बहस में माथे पर तिलक लगाए हुए दिखते हैं।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने यशोदा अस्पताल के डाॅक्टर का बयान वाला वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा : 'कब तक जहरीली डिबेट और विषैले प्रवक्ता संयम और सादगी की जबान की जान लेते रहेंगे? कब तक इस बहस से टीआरपी का धंधा चलेगा? कब तक हिंदू-मुसलमान के विभाजन का जहर इस देश की आत्मा को लीलता रहेगा? कब तक'?

कांग्रेस नेता श्रीनिवास बीवी ने फेसबुक पर लिखा कि डिबेट के दौरान राजीव त्यागी को जयचंद कहा गया, उन्हें फर्जी हिंदू कहा गया, उनके धर्म पर सवाल उठाए गए, जिसके बाद उन्हें हार्ट अटैक आया, डाॅक्टरों ने डिबेट के दौरान हार्ट अटैक आने की पुष्टि की, आज जो हुआ उसके लिए कौन है जिम्मेदार?



कई लोगों ने टीवी बहस का फुटेज ट्वीट कर कहा कि राजीव त्यागी की मौत एक साइकलाॅजीकल मर्डर है। एक व्यक्ति ने लिखा कि एक मनोरोगी द्वारा उनके चरित्र हनन से उनकी मौत हुई। #arrestsambitpatra हैशटैग पर लोग ट्वीट कर संबित पात्रा की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं।

सोशल मीडिया पर यशोदा अस्पताल के उस डाॅक्टर का वीडियो भी वायरल हुआ है, जिसने गंभीर हालत में अस्पताल लाए जाने के बाद राजीव त्यागी का इलाज किया था। इस वीडियो को पत्रकार, राजनेता व आमलोग ट्वीट कर रहे हैं। इस वीडियो में डाॅक्टर ने यह कहा है कि राजीव त्यागी घर पर टीवी बहस में शामिल हुए थे और बहस के दौरान ही उन्हें हार्ट अटैक हुआ, जिसके बाद बेहद गंभीर हालत में उन्हें बुधवार (12 August 2020) शाम साढे छह बजे अस्पताल लाया गया था।

अपनी रिपोर्टिंग को लेकर चर्चित रहे टीवी पत्रकार व वर्तमान में आइएएनएस के संपादक दीपक शर्मा ने ट्वीट किया : 'कांग्रेस नेता राजीव त्यागी, अब कभी स्टूडियो नहीं लौटेंगे। उनकी असामयिक मौत का ट्रिगर प्वाइंट सबको पता है। वक्त आ गया है कि सारे टीवी संपादक और एंकर, अंतः करण से विचार करें कि क्या डिबेट को हिस्ट्रिया और उन्माद से मुक्त करना चाहिए। बहस मौत में तब्दील होगी तो इल्जाम आपके सर भी आएगा'।

पत्रकार आलोक पुतुल ने ट्विटर पर लिखा : 'पत्रकारिता पढ रहे बच्चों की आंखों में इन जैसा ही बन जाने का सपना पलता रहता है। वैम्पायर के बारे में कल्पना की जाती है कि वह जिसे काटता है, वह भी पिशाच में बदल जाता है। चैनलों पर जो कुछ चल रहा है, वह ब्राम स्ट्रोकर और स्टेफनी मेयेर की कल्पना को यथार्थवादी विस्तार ही तो है'।

मो आसिफ खान के नाम के ट्विटर हैंडल से एक टीवी बहस का एक फुटेज शेयर किया गया है, जिसमें रोहित सरदाना राजीव त्यागी को कर्नाटक मामले पर कुछ कहते हुए सुने जा रहे हैं। इस ट्वीट में लिखा गया है कि इसके बाद ही उनकी तबीयत बिगड़ी। त्यागी सरदाना की बातें सुनते हुए हाथ से माथे का पसीना पोछते हुए दिख रहे हैं।


राजीव त्यागी का पार्थिव शरीर।



Next Story

विविध

Share it