राष्ट्रीय

ममता के खिलाफ कांग्रेस की टिप्पणी पर RJD ने कसा तंज तो ट्वीटर पर जारी है पार्टी सर्मथकों के बीच जंग

Janjwar Desk
25 Oct 2021 10:48 AM GMT
ममता के खिलाफ कांग्रेस की टिप्पणी पर RJD ने कसा तंज तो ट्वीटर पर जारी है पार्टी सर्मथकों के बीच जंग
x

बिहार कांग्रेस और आरजेडी के बीच सियासी जंग चरम।  

ममता के समर्थन आने के बाद ट्वीटर पर कांग्रेस और आरजेडी के समर्थक जमकर एक-दूसरे को कोस रहे हैं। कांग्रेस समर्थकों का कहना है कि लालू और मुलायम के समर्थन से ही भाजपा को पनपे का मौका मिला।

RJD vs Congress। बिहार में आरजेडी ( RJD ) और कांग्रेस ( Congress ) के बीच पिछले कुछ दिनों से जारी जंग लालू प्रसाद यादव ( Lalu Prasad Yadav ) की टिप्पणी के बाद अब पश्चिम बंगाल से होते हुए सोशल मीडिसा प्लेटफॉर्म ट्वीटर पर पहुंच गया है। दरअसल, सोमवार को पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ( Mamata Banerjee ) पर कांग्रेस की टिप्पणी आरजेडी को रास नहीं आई। इसके बाद आरजेडी ने एक ट्वीट कर कांग्रेस पर तंज कसा है। ट्विट में लिखा है कि खुद भाजपा ( BJP ) को हराएंगे नहीं, दूसरों को हराने नहीं देंगे।



इतना ही नहीं, कांग्रेस पर हमला बोलते हुए आरजेडी ने एक मीम भी पोस्ट किया है। इसमें लिखा है - कांग्रेस हर दूसरे दल आरजेडी, सपा, बसपा और टीएमसी को बीजेपी की बी टीम बता रही है। कटाक्ष के तौर पर इसमें लिखा गया है कि तू क्या मीम पढ़ रहा है। तू भी तो टीम बी है।

कांग्रेस को ममता से नहीं थी बेरुखी की उम्मीद

खास बात यह है कि पश्चिम बंगाल में कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव 2021 के दौरान ममता बनर्जी की राह आसान करने के लिए अपने पैर वापस खींच लिए थे। राहुल और प्रियंका बंगाल में प्रचार तक नहीं करने गए। इस पर बीजेपी ने सवाल भी उठाए थे। उस दौरान ममता बनर्जी ने एसओएस मैसेज भी सोनिया गांधी समेत विपक्ष के तमाम नेताओं को भेजे थे, लेकिन चुनाव जीतने के बाद टीएमसी प्रमुख के तेवर बदले। अब वह बीजेपी के खिलाफ खुद को खड़ा कर रही हैं। कांग्रेस को भाव देने से बच रही है। कांग्रेस को इस बात का अंदाजा नहीं था कि बंगाल में जीतने के बाद ममता बनर्जी उनकी राह में ही कांटे बोने लग जाएंगी।

तुम्हारा लीडर तो चारा तक खा जाता है

कांग्रेस और ममता के बीच जारी इस सियासी खेल पर आरजेडी ने अपने अंदाज में सोशल मीडिया में रिएक्ट किया है। छोटे पंडित नाम के यूजर ने आरजेडी पर कटाक्ष करते हुए लिखा कि ये गुंडे मवालियों की गोद में बैठने वाली पार्टी पर हमें कभी भरोसा नहीं होता है। तुमको कुर्सी मिली तो पूरे बिहार में आए दिन घाट और तेरहवीं होगी। भाजपा वाले तो कम से कम जवाबदेह हैं, लेकिन तुम्हारे सुप्रीम लीडर का पेट इतना बड़ा है कि जानवरों का चारा तक हजम कर गया। शहाबुद्दीन याद है हमें।

भाजपा को किसने पनपने दिया

वहीं प्रवीण तिवारी ने लिखा है कि वो लालू और मुलायम ही थे जिसके कारण भाजपा चमकी। न लालू ने आडवाणी को पकड़ा होता और न मुलायम ने गोली चलवाई होती तो आज भी भाजपा दहाई में ही रहती। लालू और मुलायम कांग्रेस से लड़ने वाले लोग थे न कि भाजपा से। दोनों भाजपा के समर्थन से ही पनपे हैं। आशीष चतुर्वेदी ने लिखा - आठवीं फेल के दम पर बीजेपी को हरा सकते हो तो हरा लो। कांग्रेस ने रोका थोड़े है। इम्तियाज आलम ने आरजेडी पर तंज कसते हुए लिखा है कि चलो माना कांग्रेस की हैसियत नहीं है बिहार में, पर 15 साल से आरजेडी के कितने सीएम हुए। लोकसभा मे 2009 हारे, 2014 हारे, 2019 हारे। 2010 और 2020 एसेंबली हारे। क्या अब भी कांग्रेस को ही कोसते रहोगे।

कांग्रेस और भाजपा में अंतर नहीं

तेजस्वी यादव नाम के यूजर के हैंडल से ट्वीट किया गया कि कांग्रेस और भाजपा दोनों एक हैं, तभी तो कभी कांग्रेस के विधायक और सांसद भाजपा में चले जाते हैं और कभी भाजपा वाले विधायक और सांसद कांग्रेस में आ जाते हैं।

Next Story

विविध