Top
राष्ट्रीय

पिता द्वारा जान का खतरा और देश विरोधी ठहराये जाने पर शेहला बोलीं, उन्होंने मेरे नहीं अपने बारे में कही ये बातें

Janjwar Desk
2 Dec 2020 5:36 AM GMT
पिता द्वारा जान का खतरा और देश विरोधी ठहराये जाने पर शेहला बोलीं, उन्होंने मेरे नहीं अपने बारे में कही ये बातें
x

photo : social media

पिता द्वारा एंटी नेशनल और विदेशों से टेरर फंडिंग लेने के बाद सुर्खियों में आई JNU की पूर्व छात्रा शेहला रशीद ने अपने पिता को कठघरे में खड़ा किया, उन्होंने कहा उनके पिता ने जो कुछ कहा है, वह मेरे बारे में नहीं बल्कि अपने बारे में ही कहा है....

जनज्वार। पिता द्वारा एंटी नेशनल और विदेशों से टेरर फंडिंग लेने के बाद सुर्खियों में आई जेएनयू की पूर्व छात्रा शेहला रशीद ने अपने पिता को कठघरे में खड़ा किया है। उन्होंने ट्वीटर के जरिये कहा है कि उनके पिता ने जो कुछ कहा है, वह मेरे बारे में नहीं बल्कि अपने बारे में ही कहा है।

गौरतलब है कि पिता को ही एंटी नेशनल बताने से पहले शेहला रशीद ने पिता पर घरेलू हिंसा का आरोप लगाया था। शेहला ने सोशल मीडिया पर ही कहा था कि पिता के उत्पीड़न के विरोध में वह अपनी बहन और मां का साथ दे रही हैं।

पूर्व जेएनयू छात्रा शेहला रशीद ने पिता द्वारा उन्हें एंटी नेशनल और टेरर फंडिंग लेने वाले बयान के बाद ट्वीट किया था? 'मेरे पिता स्पष्ट रूप से मेरे बारे में ऐसा बयान देना चाहेंगे, लेकिन इस बार यह मेरे बारे में नहीं है। यह उन्हीं के बारे में है।'

सोशल मीडिया पर शेहला के समर्थन और विरोध में काफी लोगों ने टिप्पणियां करनी शुरू कर दी हैं। जहां एक बड़ी जमात शेहला के पिता के समर्थन में उतरकर उन्हें टुकड़े—टुकड़े गैंग और देश विरोधी ठहरा रहे हैं, वहीं बड़ी तादाद में नामी लोग उनके समर्थन में उतर आये हैं। बॉलीवुड अभिनेत्री और सामाजिक-राजनीतिक रूप से सक्रिय रहने वाली स्वरा भास्कर ने उन्हें पूरा समर्थन दिया है।

स्वरा भास्कर ने ट्वीट किया है, 'शेहला, तुम एक स्टार और योद्धा हो! मजबूती से खड़ी रहो।'

वहीं पत्रकार प्रशांत कन्नौजिया ने ट्वीट किया है, यह बहुत हिम्मत वाला काम है अपने घर के मर्दों से लड़ना। हर व्यक्ति नहीं लड़ पाता, बेटे तो बच निकलते हैं पर बीवी, बहन और बेटी हमेशा पितृसत्ता का शिकार होती हैं। सलाम है आपके जज़्बे को।

वहीं शेहला ने अपने समर्थकों का आभार व्यक्त करते हुए एक दूसरे ट्वीट में लिखा है 'हम लोग आपसे मिले समर्थन के लिए आभारी हैं। हम अभी किसी भी टीवी चैनल पर ना तो इंटरव्यू देंगे ना ही किसी डिबेट में हिस्सा लेंगे, क्योंकि यह हमारी परवरिश के खिलाफ है कि हम अपने किसी पारिवारिक सदस्य की सार्वजनिक रूप से छवि धूमिल करें। मीडिया के साथी नीचे दिए गए बयान को कोट कर सकते हैं।'

इसके अलावा शेहला ने ट्विटर पर एक आदेश को भी शेयर किया है। इसमें शेहला ने बताया है कि कोर्ट ने उनके पिता के घर आने पर रोक लगाई हुई है। इसके बाद पुलिस महानिदेशक को सुरक्षा प्रदान करवाने के लिए कहा गया था।

गौरतलब है कि अब्दुल रशीद शौरा ने सोमवार को अपनी बेटी शेहला रशीद के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाते हुए कहा कि उन्हें अपनी ही बेटी से जान का खतरा है। उसने बताया कि उनकी बेटी देश विरोधी गतिविधियों में शामिल है। इसमें उनकी पत्नी जुबेदा शौर, बड़ी बेटी असमां रशीद और एक पुलिसकर्मी साकिब अहमद शामिल है। इतना ही नहीं शेहला के पिता ने यह भी दावा किया था कि शेहला को सपोर्ट करने वाला पुलिसकर्मी साकिब बताया जाता है।

शेहला के पिता ने दावा किया कि वर्ष 2017 में शेहला रशीद एकदम से कश्मीर की राजनीति में आयी। पहले वह नैशनल कॉन्फ्रेंस में शामिल हुई थी, उसके बाद जेकेपीएम में शामिल हुई थी। टेरर फंडिंग मामले में पहले ही इंजीनियर रशीद और जुहूर वटाली गिरफ्तार हैं। इन नेताओं ने शेहला रशीद को नई पार्टी में शामिल होने के लिए तीन करोड़ रुपये देने के पैकेज की पेशकश की थी।

शेहला के पिता ने यह भी आरोप लगाया कि जून 2017 में इन दोनों नेताओं ने उसे वटाली के घर पर बुलाया था, जोकि श्रीनगर में है। इस पत्र को लेकर जांच शुरू करवाई गई है। आईजी कश्मीर अब इस मामले की जांच कर रहे हैं।

Next Story

विविध

Share it