Top
राष्ट्रीय

ABP न्यूज रिपोर्टर हत्याकांड का कुंडा कनेक्शन, वरिष्ठ पत्रकार ने इस रहस्यमयी हत्या पर खड़े किए गंभीर सवाल

Janjwar Desk
16 Jun 2021 4:07 AM GMT
ABP न्यूज रिपोर्टर हत्याकांड का कुंडा कनेक्शन, वरिष्ठ पत्रकार ने इस रहस्यमयी हत्या पर खड़े किए गंभीर सवाल
x

प्रतापगढ़ में एबीपी न्यूज रिपोर्टर की हत्या पर वरिष्ठ पत्रकार दीपक शर्मा ने खड़े किए गंभीर सवाल.

'पत्रकारों की क्या हैसियत,क्या प्रतापगढ़ के पुलिस कप्तान भी कुंडा वालों से घबराते हैं? जो कप्तान नहीं घबराते उनका क्या तबादला कर दिया जाता है? क्या कुंडा वालों के दबाव में 2 साल में 5 कप्तान बदले गये?...

जनज्वार, लखनऊ। प्रतापगढ़ में एबीपी न्यूज के पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव हत्याकांड में लंबे अर्से से पत्रकारिता में सक्रिय वरिष्ठ पत्रकार दीपक शर्मा ने कुंडा कनेक्शन होने का अंदेशा जताया है। पत्रकार का कहना है कि उस तरह की हत्याओं का छोर अक्सर कुंडा तहसील पर ही आकर रूकता है।

दीपक शर्मा ने अपने ट्वीट में लिखा है कि 'प्रतापगढ़ की ऐसी रहस्यमय हत्याओं का छोर अकसर कुंडा तहसील पर आकर रूकता है। क्या ABP के रिपोर्टर सुलभ, कुंडा से संरक्षण पाये एक शराब माफिया को लगातार एक्सपोज कर रहे थे? क्या सुलभ की हत्या से पहले ही ये माफिया जेल चला गया था? क्या माफिया ने सुलभ से निपटने की धमकी दी थी?'

अपने दूसरे ट्वीट में शर्मा लिखते हैं कि 'पत्रकारों की क्या हैसियत,क्या प्रतापगढ़ के पुलिस कप्तान भी कुंडा वालों से घबराते हैं? जो कप्तान नहीं घबराते उनका क्या तबादला कर दिया जाता है? क्या कुंडा वालों के दबाव में 2 साल में 5 कप्तान बदले गये? और क्या ये सही है कि मौजूदा कप्तान, सुलभ की हत्या को पहले दुर्घटना बता रहे थे?'

लगातार किए गए तीसरे ट्वीट में दीपक शर्मा लिखते हैं कि 'क्या ये सही है इसी प्रतापगढ़ में कुंडा से शरण पाये अपराधियों ने इंस्पेक्टर अनिल कुमार की हत्या कर दी थी? हत्या के जब तथ्य दबाये गये तो सीबीआई जांच हुई। क्या ये सही है कि सीबीआई के हाथ भी कुंडा वालों के चेहरे से नकाब खींचने में कांप गये? क्या कुंडावालों को सरकार का संरक्षण है?'

गौरतलब है कि एबीपी न्यूज के पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की कथित शराब मापियाओं द्वारा उस समय हत्या कर दी गई थी, जब वह एक कवरेज के बाद अपने घर लौट रहे थे। पत्नी की तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया जा चुका है, लेकिन इस हत्याकांड में अब तक पुलिस के हाथ खाली हैं।

Next Story

विविध

Share it