Top
उत्तर प्रदेश

'ट्रांसजेंडर' कहे जाने पर उत्तर प्रदेश में एक किशोर ने की आत्महत्या

Janjwar Desk
17 Jun 2020 10:03 AM GMT
ट्रांसजेंडर कहे जाने पर उत्तर प्रदेश में एक किशोर ने की आत्महत्या
x
Representative Image
पीड़ित के छोटे भाई ने पुलिस को बताया, 'अपने जीवन को समाप्त करने से एक दिन पहले मेरे भाई ने कहा था कि जब सुशांत सिंह राजपूत जैसे अभिनेता आत्महत्या कर सकते हैं, तो वह भी ऐसा कर सकता है।'

जनज्वार ब्यूरो/बरेली। उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में एक 16 वर्षीय लड़के ने फांसी लगा ली। उसने सुसाइड नोट में कहा है कि वह अपने जीवन को समाप्त कर रहा है क्योंकि उसके सहपाठियों ने उसे स्त्री जैसे दिखने पर ट्रांसजेंडर कहा था।

उसने सुसाइड नोट में लिखा, 'पापा, मुझे माफ करना क्योंकि मैं एक अच्छा बेटा नहीं बन सका। मैं आपकी तरह नहीं कमा सकता। मैं लड़कियों जैसा हूं, यहां तक कि मेरा चेहरा भी उनके जैसा है। लोग मुझ पर हंसते हैं। मुझे भी लगने लगा है कि मैं किन्नर हूं। मेरा जीवन आपके जीवन में भी समस्याएं ला देगा और इसलिए मेरा मरना जरूरी है। कृपया मुझे आशीर्वाद दें कि मैं एक लड़की के रूप में जन्म लूं। यदि हमारे परिवार में लड़की का जन्म हो तो आप मान लेना कि मैं वापस आ गया हूं।'

घटना सुभाष नगर इलाके की है और सोमवार रात की है। पुलिस ने उसके बिस्तर पर पड़े सुसाइड नोट को बरामद किया, जो उसके पिता को संबोधित करके लिखा गया था। पीड़ित के छोटे भाई ने पुलिस को बताया, 'अपने जीवन को समाप्त करने से एक दिन पहले मेरे भाई ने कहा था कि जब सुशांत सिंह राजपूत जैसे अभिनेता आत्महत्या कर सकते हैं, तो वह भी ऐसा कर सकता है।' जाहिर है अभिनेता की आत्महत्या की खबर ने कक्षा 10 के इस छात्र के लिए ट्रिगर का काम किया।

लड़के की मां का निधन चार साल पहले हो गया था। पीड़ित के पिता ने संवाददाताओं से कहा, 'मेरा बेटा सामान्य था, लेकिन मेरे रिश्तेदारों सहित कुछ लोगों ने उसे गलत समझा और उस पर बेतुके कमेंट किए। मेरा बेटा अपने छोटे भाई के बहुत करीब था और उसकी देखभाल करता था। वह मेरी अनुपस्थिति में खाना बनाता था। कभी-कभी वह एक महिला की तरह मेकअप करके डांस करता था जो उसकी उम्र के किसी भी बच्चे के लिए असामान्य नहीं है।'

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) रवींद्र कुमार ने कहा, 'पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने पुष्टि की है कि लड़के ने आत्महत्या की है। हमने एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है। परिवार किसी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई नहीं चाहता है।' सुभाष नगर एसएचओ हरिश्चंद्र जोशी ने कहा कि शव को पोस्टमार्टम के बाद परिवार को सौंप दिया गया था।

Next Story
Share it