Top
उत्तर प्रदेश

विकास दुबे के सभी सहयोगियों की मिलने लगी लोकेशन, गाड़ी न पलटी तो जाएंगे जेल

Janjwar Desk
4 Aug 2020 3:07 PM GMT
विकास दुबे के सभी सहयोगियों की मिलने लगी लोकेशन, गाड़ी न पलटी तो जाएंगे जेल
x
कानपुर एसपी (ग्रामीण) बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि पुलिस और एसटीएफ की टीमें फरार अरोपितों की तलाश में दबिश दे रही हैं, इन सभी की लोकेशन एनसीआर के बाद अब कानपुर के आसपास जिलों में मिल रही है....

मनीष दुबे की रिपोर्ट

कानपुर। यूपी के कानपुर एनकाउंटर में फरार चल रहे विकास दुबे के गुर्गों की लोकेशन लगातार कानपुर के आसपास जिलों में मिल रही है। माना जा रहा है कि गोपाल सैनी के सरेंडर के बाद अब अन्य फरार अरोपित भी कानपुर देहात कोर्ट में सरेंडर करने की फिराक में हैं। पुलिस और एसटीएफ की तीन टीमें कानपुर देहात, औरैया समेत आसपास के जिलों में ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही हैं।

बिकरू कांड के फरार आरोपितों का एसटीएफ और पुलिस भले ही सुराग नहीं लगा पा रही है, लेकिन फरार आरोपितों की लोकेशन कानपुर देहात, औरैया समेत अन्य जिलों में लगातार मिल रही है।

एसपी ग्रामीण बृजेश कुमार श्रीवास्वत ने बताया कि बिकरू कांड को करीब एक महीने पूरे होने को हैं। अब सभी आरोपित कोर्ट में सरेंडर करने की फिराक में हैं, जिसके लिए ये लगातार प्रयासरत हैं। यही वजह है कि इनकी लोकेशन कानपुर के आसपास जिलों में मिल रही है।

पुलिस व एसटीएफ ने कानपुर देहात के कई अधिवक्ताओं को भी रडार पर ले रखा है, जो आरोपितों को सरेंडर कराने का प्रयास कर रहे हैं। कुछ अधिवक्ताओं का मोबाइल कॉल व डिटेल पर भी सर्विलांस काम कर रही है।

एसपी ग्रामीण बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि पुलिस और एसटीएफ की टीमें फरार अरोपितों की तलाश में दबिश दे रही हैं। इन सभी की लोकेशन एनसीआर के बाद अब कानपुर के आसपास जिलों में मिल रही है। जल्द ही फरार आरोपितों को गिरफ्तार कर विधिक कार्रवाई के बाद जेल भेजा जाएगा।

इसके अलावा फरार चल रहे आरोपितों में एसटीएफ और पुलिस ने विकास के भांजे शिव तिवारी सहित उसके दाहिने हाथ कहे जाने वाले विष्णुपाल यादव उर्फ जिलेदार की तलाश तेज कर दी है।

इसके साथ ही राजाराम उर्फ प्रेम कुमार, राम सिंह, रामू बाजपेई, हीरू दुबे, बउअन शुक्ला, शिवम दुबे और बाल गोविंद समेत अन्य आरोपित अभी फरार है। पुलिस इन सभी आरोपितों की बिकरू कांड में मुख्य भूमिका सामने आने की बात कर रही है।

वर्दी पहनकर आ रहे बदमाश

जिस रात बिकरु गांव में 8 पुलिसकर्मियों को घेरकर हत्या की गई उस दिन विकास ने वहां मौजूद सबसे यही कहा था कि पुलिस की नकली वर्दी पहनकर बदमाश धावा बोलें। उसने यह भी चेतावनी दी थी कि उनमें से कोई भी बचकर नहीं जाना चाहिए।

जेल में बन्द विकास के गुर्गे गोपाल सैनी ने उस दिन की पूरी वारदात कबूली। गोपाल ने बताया कि विकास ने सभी से कहा था कि पुलिस के भेष में बदमाश गांव में हमला करने या रहे हैं। तैयार हो जाओ कोई भी बचकर नहीं जाना चाहिए।

Next Story

विविध

Share it