Top
उत्तर प्रदेश

उन्नाव की बांगरमऊ सीट के नामांकन में भाजपा प्रत्याशी ने नियमों की उड़ाई धज्जियां, बगलें झांकते रहे अधिकारी

Janjwar Desk
17 Oct 2020 4:05 AM GMT
उन्नाव की बांगरमऊ सीट के नामांकन में भाजपा प्रत्याशी ने नियमों की उड़ाई धज्जियां, बगलें झांकते रहे अधिकारी
x
उन्नाव में भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं के सामने प्रशासन मूकदर्शक बना रहा। चुनाव के सभी नियमों की धज्जियां भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने उड़ा दीं....

जनज्वार, उन्नाव। उत्तर प्रदेश के उन्नाव की चर्चित बांगरमऊ विधानसभा सीट पर हो रहे उप चुनाव में 3 नवंबर को मतदान होना है। यहां नामांकन का 16 अक्टूबर को अंतिम दिन रहा, जिसमें बीजेपी से टिकट पाए श्रीकांत कटियार ने नामांकन कराया है। कलेक्ट्रेट को छावनी में तब्दील किया गया था, लेकिन इसके बाद भी बीजेपी प्रत्याशी श्रीकांत कटियार के नामांकन में आदर्श आचार संहिता की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं।

नियमानुसार किसी कंडीडेट के साथ 2 प्रस्तावकों को कलेक्ट्रेट परिसर के अंदर जाने की अनुमति है, लेकिन उसके बाद भी नियमों को दरकिनार कर नेता कलेक्ट्रेट में घुसते रहे। ना पुलिस ने और ना ही प्रशासन ने उन्हें रोकना उचित समझा। अधिकारी खुद माननीयों को कुर्सी देते नजर आए। जुलूस के साथ सैकड़ों लोग लगातार नारेबाजी करते रहे। वहीं नामांकन कक्ष के बाहर भी सैकड़ों कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लगा रहा, तो माननीय कार्यकर्ताओं को बाहर करने की जगह सेल्फी लेते नजर आए ।

पूरे नामांकन के दौरान आदर्श आचार संहिता के अलावा कोविड -19 की महामारी और उसके तमाम कायदों सहूलियतों को ताक पर रख दिया गया। मामले में डीएम ने चुनाव आचार संहिता का हवाला देते हुए नियम के तहत कार्रवाई की बात कही है। डीएम खुलकर मामले में कुछ भी बोलने से बचते नजर आए। उन्होंने अधिकारियों से जांच कराकर कारवाई का दावा जरूर किया है।

गौरतलब है कि उन्नाव की बांगरमऊ सीट पर होने वाले उपचुनाव में नामांकन के लिए बीजेपी प्रत्याशी श्रीकांत कटियार अपने समर्थकों और जिले के सांसद साक्षी महाराज, कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह, सदर विधायक पंकज गुप्ता, सफीपुर विधायक बंबा लाल दिवाकर, पुरवा विधायक अनिल सिंह, एमएलसी अरुण पाठक समेत कई भाजपा नेताओं के साथ शामिल रहे। इस दौरान उन्नाव में चुनाव की आदर्श आचार संहिता की धज्जियां उड़ती रहीं। सैकड़ों समर्थक प्रत्याशी के साथ प्रतिबंधित कलेक्ट्रेट परिसर के अंदर घुस गए।


डीएम कार्यालय के सामने जिला पंचायत अध्यक्ष संगीता सेंगर के साथ कई समर्थक मौजूद रहे। इस दौरान जिला प्रशासन सहित तमाम अधिकारी मूकदर्शक और तमाशबीन बने रहे। कलेक्ट्रेट से पहले लगी बैरिकेडिंग बीजेपी कार्यकर्ताओं के लिए नाकाफी साबित हुई। कलेक्ट्रेट गेट के अंदर माननीयों के साथ कार्यकर्ता बाकायदा कुर्सी पर बैठे नजर आए।

यही नहीं कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह, जिले के विधायकों के अलावा बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने जिला पंचायत कार्यालय से एसपी कार्यालय तक नारेबाजी की, जबकि सपा, बसपा व कांग्रेस समेत अन्य राजनीतिक दलों के प्रत्याशियों के साथ दो लोगों से अधिक लोगों को कलेक्ट्रेट गेट के अंदर प्रवेश नहीं दिया गया।

भाजपा प्रत्याशी श्रीकांत कटियार ने मीडिया से बातचीत में कहा कि वह विकास के मुद्दे के साथ जनता के बीच जाएंगे। भाजपा सांसद साक्षी महाराज के फेसबुक पेज पर लिखे गए कमेंट के सवाल पर श्रीकांत कटियार ने कहा कि ऐसा कुछ भी नहीं है, सासंद साथ में हैं कहकर बात पलट गए। वहीं आदर्श आचार संहिता के सवाल पर भाजपा प्रत्याशी खुद को बचाते हुए आगे बढ़ गए।

भाजपा प्रत्याशी द्वारा नामांकन में आदर्श आचार संहिता की जमकर धज्जियां उड़ाने को लेकर डीएम रवीन्द्र कुमार से सवाल किया गया तो डीएम भारत निर्वाचन आयोग की गाइड लाइन का हवाला देते हुए चूक को छिपाते नजर आए। डीएम ने आयोग की गाइड लाइन को पढ़कर सुनाया और कहा कि प्रत्यशी के साथ दो लोग नामांकन चैंबर में जा सकते हैं। नामांकन कक्ष तक प्रत्याशी के साथ दो लोग गए हैं। डीएम ने कहा की कलेक्ट्रेट गेट पर जो स्थानीय मजिस्ट्रेट लगे हैं, उनसे रिपोर्ट ले रहा हूं। अगर कहीं भी आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन हुआ होगा तो करवाई की जाएगी। पूरी निष्पक्षता के साथ चुनाव कराया जाएगा।

पहले डीएम उन्नाव रवीन्द्र कुमार ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि आयोग की गाइड लाइन का सख्ती से पालन किया जाएगा, तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। आयोग ने इस बार नई गाइड लाइन दी है, पहले 5 लोग आते थे, इस बार प्रत्याशी के अलावा दो लोग ही नामांकन कक्ष तक जा सकेंगे। 200 मीटर के दायरे में दो गाडियां ही आ सकेंगी। आयोग की गाइड लाइन का पालन कराया जाएगा।

सपा प्रवक्ता एमएलसी सुनील सिंह साजन ने जिला प्रशासन पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि उन्नाव में भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं के सामने प्रशासन मूकदर्शक बना रहा। चुनाव के सभी नियमों की धज्जियां भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने उड़ा दीं। कल समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी नामांकन करने गए तब 3 लोगों की अनुमति थी अंदर जाने की। भाजपा प्रत्याशी के नामांकन में भीड़ को इंट्री दी गई और डीएम, कप्तान बगलें झांकते रहे। जनता देख रही है, यह जनता बांगरमऊ के उपचुनाव में करारा जवाब सरकार को भी देगी और प्रशासन को भी देगी।

Next Story

विविध

Share it