Top
उत्तर प्रदेश

उतर प्रदेश में चाईल्ड पोर्नोग्राफी का हुआ भंडाफोड़, शिकायत के बाद दिल्ली से पहुँची थी CBI टीम

Janjwar Desk
26 Sep 2020 5:17 AM GMT
उतर प्रदेश में चाईल्ड पोर्नोग्राफी का हुआ भंडाफोड़, शिकायत के बाद दिल्ली से पहुँची थी CBI टीम
x
बताया जा रहा है कि सर्विलांस के जरिए सीबीआई टीम आरोपी के सोनभद्र स्थित एक ठिकाने तक पहुंची। हालांकि आरोपी सीबीआई के पहुंचने से पहले ही वहां से भाग चुका था। मौके से सीबीआई को कुछ स्मार्ट फोन मिले हैं। जिसे कब्जे में लिया गया है। बरामद किए गए स्मार्ट फोन से सीबीआई को कुछ तथ्य मिलने की उम्मीद है।

जनज्वार। उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में शुक्रवार को चाइल्ड पोर्न फोटोग्राफी के धंधे का खुलासा हुआ है। इस मामले में सीबीआई की विशेष यूनिट ऑनलाइन बाल यौन शोषण और शोषण निवारण तथा जांच ने कोतवाली अनपरा में एक शख्स के खिलाफ केस दर्ज किया है। जांच में पर्याप्त सबूत मिलने के बाद यह कार्रवाई की गई है। टीम ने आरोपी को पकड़ने के लिए दबिश दी। लेकिन वह मौके से फरार हो गया।

अनपरा थाने में दर्ज हुआ केस

प्राप्त जानकारी के मुताबिक बीते काफी समय से सोशल मीडिया पर सक्रिय कुछ बच्चों और महिलाओं की पोर्न तस्वीरें वायरल हो रही थी। आरोप है सोनभद्र जिले के अनपरा बाजार निवासी एक युवक तस्वीरों से छेड़छाड़ कर उन्हें सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफार्मों पर डाल रहा है। यही नहीं वह पीड़ित परिवारों को तस्वीरें दिखा कर ब्लैकमेल भी कर रहा था तथा पैसों की मांग कर रहा था। इस बात की शिकायत दिल्ली में सीबीआई से की गई। जिसके बाद सीबीआई दिल्ली की टीम ने शुक्रवार को सोनभद्र के अनपरा में मुकदमा दर्ज कराया है।

सर्विलांस के जरिए ठिकाने पर पहुंची सीबीआई

बताया जा रहा है कि सर्विलांस के जरिए सीबीआई टीम आरोपी के सोनभद्र स्थित एक ठिकाने तक पहुंची। हालांकि आरोपी सीबीआई के पहुंचने से पहले ही वहां से भाग चुका था। मौके से सीबीआई को कुछ स्मार्ट फोन मिले हैं। जिसे कब्जे में लिया गया है। बरामद किए गए स्मार्ट फोन से सीबीआई को कुछ तथ्य मिलने की उम्मीद है।

अलग-अलग ई-मेल आईडी का हुआ इस्तेमाल

सीबीआई के अनुसार आरोपी इंटरनेट का मास्टर है। उसने इस कृत्य को करने के लिए अलग अलग ईमेल आईडी बना रखी थीं, जिनका वह बखूबी इस्तेमाल करता था ताकि उस तक पहुंचना आसान न हो। आरोपी ने अलग आईएस के जरिए क्लाउड स्टोरेज और फाइल होस्टिंग सेवा पर कई खाते खोल रखे हैं।

पैसा नहीं मिला तो वायरल कर दी तस्वीरें

सीबीआई को जांच में यह पता चला कि आरोपी ने पहले तो धोखे से बच्चों और महिलाओं की अश्लील तस्वीरें बना ली। फिर उनके परिजनों को दिखा कर ब्लैकमेल किया। पैसों की मांग की। रूपए मिलने के बाद आरोपी ने उन तस्वीरों को वॉट्सएप, इंस्टाग्राम, टेलीग्राम समेत अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वॉयरल कर दिया।

Next Story

विविध

Share it