Top
उत्तर प्रदेश

हाथरस कांड में एसआईटी टीम के सदस्य रहे डीआईजी की पत्नी का शव संदिग्ध हालत में मिला

Janjwar Desk
24 Oct 2020 8:23 AM GMT
हाथरस कांड में एसआईटी टीम के सदस्य रहे डीआईजी की पत्नी का शव संदिग्ध हालत में मिला
x
हाथरस में दलित युवती के साथ कथित बलात्कार व मौत के मामले में एसआईटी जांच टीम में चंद्रप्रकाश भी शामिल थे...

जनज्वार, लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आज शनिवार पीटीएस उन्नाव में तैनात डीआईजी चंद्रप्रकाश की पत्नी पुष्पा का शव उनके अंसल स्थित अपार्टमेंट में संदिग्ध परिस्थितियों में मिला है। लोहिया अस्पताल के डॉक्टरों ने मृतका के शव को कोरोना जांच के लिए भेजा है। कोरोना जांच के बाद शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। जिसके बाद मौत की स्थिति साफ हो पाएगी।

बता दें कि हाथरस में दलित युवती के साथ कथित बलात्कार व मौत के मामले में एसआईटी जांच टीम में चंद्रप्रकाश भी शामिल थे। मामला थाना सुशांत गोल्फ सिटी के अंसल का है। जानकारी के मुताबिक पीटीएस उन्नाव में तैनात डीआईजी चंद्रप्रकाश की 36 वर्षीय पत्नी पुष्पा का शव उनके अंसल स्थित अपार्टमेंट में संदिग्ध हालातों में मिलने से हड़कंप मच गया।

आस-पास के लोगों की मदद से उन्हें लोहिया अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने पुष्पा को मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस टीम घटना की जांच पड़ताल में जुटी है। मौके पर लखनऊ के पुलिस कमिश्नर समेत कई थानों की फोर्स मौजूद है।

चंद्रप्रकाश उन्नाव जिले में पीडीएस में डीआईजी के पद पर तैनात हैं। उनका आवास सुशांत गोल्फ सिटी लखनऊ में है। हाथरस घटना एसआईटी जांच टीम में डीआईजी चन्द्र प्रकाश भी शामिल हैं। डीआईजी चंद्रप्रकाश की पत्नी कि डेड बॉडी आज 24 अक्टूबर की सुबह अपार्टमेंट स्थित घर मे मिली है।

संदिग्ध परिस्थितियों में हालात बिगड़ने के बाद परिजन शव को लोहिया हॉस्पिटल ले गए। जहां डॉक्टरों ने चेकअप के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया। स्थानीय पुलिस का कहना है कि उन्हें भी जानकारी हॉस्पिटल से मिली है।

Next Story

विविध

Share it