उत्तर प्रदेश

Fatehpur news: HIV पीड़ित युवक ने बीमारी छिपाकर की शादी, अब पत्‍नी और 11 माह का बेटा भी हुआ संक्रमित

Janjwar Desk
24 Jun 2022 1:15 PM GMT
Fatehpur news: HIV पीड़ित युवक ने बीमारी छिपाकर की शादी, अब पत्‍नी और 11 माह का बेटा भी हुआ संक्रमित
x

एचआईवी पीड़ित आयशा अपने मासूम बच्चे के साथ पहुंची पुलिस के पास, लगायी न्याय की गुहार

Fatehpur latest news: हम तो डूबे हैं सनम, तुमको भी ले डूबेंगे... कहावत को हक़ीक़त में बदलने वालों की इस दुनिया में कमी नहीं है। हालात तब ऐसे हैं जब सरकारें और स्‍वास्‍थ्‍य तंत्र गंभीर बीमारियों के निदान और जागरूकता के लिये समय-समय पर प्रचार-प्रसार के साथ करोड़ों रुपये खर्च करती हैं।

Fatehpur latest news: हम तो डूबे हैं सनम, तुमको भी ले डूबेंगे... कहावत को हक़ीक़त में बदलने वालों की इस दुनिया में कमी नहीं है। हालात तब ऐसे हैं जब सरकारें और स्‍वास्‍थ्‍य तंत्र गंभीर बीमारियों के निदान और जागरूकता के लिये समय-समय पर प्रचार-प्रसार के साथ करोड़ों रुपये खर्च करती हैं। जी हां, ऐसा ही चौंकाने वाला मामला है उत्तर प्रदेश के संभल जिले से, जहां बदायूं के फैजगंज बेहटा के रहने वाले एक एचआईवी पॉजिटिव युवक ने बीमारी छिपाकर दो साल पहले संभल जिले की महिला से शादी कर ली। जब महिला की हालत खराब हुई तो वह खुद और 11 माह के बेटे की जांच कराने अस्पताल पहुंची। जांच में दोनों की एचआईवी पाजिटिव आयी। इसके बाद से महिला सदमे में है।

इस मामले में पीडित महिला आइशा ने बीमारी छिपाने और धोखा देकर शादी करने के आरोप लगाते हुए संभल पुलिस अधीक्षक के पास अपने पति के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी है। महिला का आरोप है कि उनसे पैदा हुआ बच्चा भी एचआईवी पॉजीटिव है। महिला ने अपने ससुरालीजनों पर दहेज मांगने, मारपीट करने, धोखा देकर शादी करने जैसे गंभीर आरोप लगाते हुए अधिकारियों से न्याय गुहार लगायी है।

कथित रूप से पति के संपर्क में आकर आइशा हुई संक्रमित

सामने आयी जानकारी के मुताबिक कथित रूप से एचआईवी पीड़ित महिला संभल के हयातनगर थाना इलाके की है। आरोप के अनुसार करीब दो साल पहले बदायूं जनपद में उसकी शादी हुई थी। जब वह बीमार हुई तो जांच कराने पर एचआईवी पॉजीटिव पायी गई। यही नहीं उसका 11 माह का बेटा भी एचआईवी पॉजीटिव निकला। पीड़ित महिला का आरोप है कि जिस युवक से उसकी शादी हुई वह पहले से एचआईवी पॉजीटिव था। उसके पति और उसके घर वालों ने बीमारी छुपाकर शादी की थी। महिला के पति की हालत भी गंभीर बतायी जा रही है।

वहीं पीड़ित महिला आयशा के पिता का कहना है, जब से मेरी बेटी की शादी हुई है उसके साथ अत्याचार, मारपीट और बदतमीजी की जाती रही है। आयशा के पिता ने उसके देवर पर भी प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है, साथ ही तलाक की धमकी देने की भी बात कही है।'

एचआईवी संक्रमण के बारे में आयशा के पिता कहते हैं, बेटा पैदा होने के बाद से मेरी बेटी लगातार बीमार रहने लगी तो डॉक्टर से संपर्क किया तो एचआईवी संक्रमण की पुष्टि हुयी, और यह बीमारी उसे अपने पति के माध्यम से मिली। अब मेरी बेटी और नवासा दोनों एचआईवी के शिकार हो चुके हैं। एचआईवी संक्रमण की पुष्टि होने के बाद मेरी बेटी के ससुरालियों ने उसे 15 तारीख को घर से मार-पीटकर और डरा-धमकाकर बाहर निकाल दिया है और तरह तरह की धमकियां भी दी जा रही हैं।

महिला बेटे के साथ पहुंची एसपी के पास

पूरे मामले को लेकर पीड़ित महिला अपने 11 माह के बेटे के साथ इंसाफ मांगने पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्रा के पास पहुंची और पूरा वाकया बताया। महिला की शिकायत पर एसपी ने मामले की जांच का आदेश दे दिये हैं।

इस मामले में पुलिस अधीक्षक चक्रेश मिश्रा का कहना है, हमारे सामने जन शिकायत में एक महिला ने अपने पति के खिलाफ प्रार्थना पत्र दिया है, जिसमें एचआईवी पीड़ित महिला ने अपने ससुराल वालों पर दहेज और अन्य आरोप लगाये गये हैं। अब इस मामले की जांच महिला थाने द्वारा करायी जा रही है।

Next Story

विविध