Top
उत्तर प्रदेश

फर्रुखाबाद में जमीन दलाली को लेकर भाजपाइयों में जूतमपैजार, पिटे ने कहा पीटने वाला गरम दल, हम उदार बड़े भाई

Janjwar Desk
6 Sep 2020 9:16 AM GMT
फर्रुखाबाद में जमीन दलाली को लेकर भाजपाइयों में जूतमपैजार, पिटे ने कहा पीटने वाला गरम दल, हम उदार बड़े भाई
x
फर्रुखाबाद में दो भाजपा नेताओं की बीच हुई मारपीट का मामला यूपी में चर्चा में है। यह मारपीट जमीन दलाली के लिए हुई है और पिटे नेता ने कहा है कि वे बड़े भाई हैं, परिवार का मामला है, छोटे को माफ करते हैं...

फर्रुखाबाद, जनज्वार। यूपी के फर्रुखाबाद जिले में जमीन की दलाली तथा विवाद में भाजपाइयों के बीच आपसी विवाद व मारपीट की नौबत आ गई। इस जूतमपैजार में विधायक के करीबी भाजपा के जिला पदाधिकारी के कपड़े तक फट गए। उनकी पार्टी के ही एक नेता ने जमकर धुनाई की, जिसका वीडियो वायरल हो गया है। साथ में मौजूद नगर पदाधिकारी उन्हें मुश्किल से बचाकर घर पहुंचाया। उन्हें पीटने वाले छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष हैं और शहर के आवास विकास काॅलोनी में उनका घर है। वे एक कैबिनेट मंत्री के करीबी बताये जाते हैं।

कुटे-पिटे भाजपा नेता ने पीटने वाले नेता को भारतीय जनता पार्टी परिवार के गर्म दल का सदस्य बताते हुए उदारतापूर्ण आचरण अपनाकर कोई कार्रवाई न करने की बात कही। शनिवार को भाजपा जिला कार्यालय पर दोपहर 12 बजे बैठक बुलाई गई थी। बैठक साढ़े तीन बजे खत्म हुई, तो शहर के विधायक के करीबी कहे जाने वाले जिला कार्यकारिणी पदाधिकारी बाइक से अपने घर डिग्गीताल जा रहे थे। उनके साथ भाजपा के एक नगर पदाधिकारी भी थे।

भाजपा जिला कार्यालय आवास विकास से लौटे सदर विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी के खासमखास एक जिला मंत्री ठंडी सड़क से डिग्गीताल वाले रास्ते पर जा रहे थे। इसी दौरान पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष व भाजपा नेता भी अपने एक साथी के साथ आ गये। दोनों में आपसी विवाद व गालीगलौच शुरू हो गई। पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष एक मंत्री के करीबी हैं। उन्होंने विधायक के करीबी पदाधिकारी की लात-घूंसों, डंडों से जमकर पिटाई कर दी। इस दौरान नगर पदाधिकारी बीच-बचाव करते रहे। आसपास के तमाम लोग तमाशबीन बने रहे। काफी मशक्कत के बाद नगर पदाधिकारी ने उन्हें बचाया। तब तक भाजपा नेता की शर्ट और बनियान फट चुकी थी। उन्हें घर पहुंचाया गया।

बताया जाता है कि पिटे जिला पदाधिकारी और पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष साथ-साथ प्रापर्टी की खरीद-फरोख्त करते हैं। दोनों में पिछले महीने हुई दलाली के पैसे को लेकर विवाद शुरू हुआ था, जो तल रहा है। इसी विवाद में पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष ने उनकी पिटाई कर दी। सत्तारूढ़ दल के नेताओं में सरेआम हुई जूतमपैजार को लेकर लोगों में खासी चर्चा है। मारपीट का एक वीडियो भी वायरल हुआ है।

आईटीआई चौकी प्रभारी रवेंद्र नाथ ने बताया कि अभी तक किसी पक्ष से तहरीर नहीं मिली है तहरीर आएगी, तो कार्रवाई करेंगे। वहीं जिला मंत्री अनुराग दुबे का कहना है कि परिवार की बात है। वे उलझना नहीं चाहते। चार भाइयों में एक गरम दल का होता है तो बड़े के नाते उदारवादी आचरण से उन्हें जवाब देना चाहते हैं। हां मेरे साथ अभद्रता का प्रयास जरूर किया गया है। तो जिलाध्यक्ष भूपेश गुप्ता ने कहा मामला संज्ञान में नहीं आया है। मारपीट हुई है तो प्रशासन से निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई करने की मांग करेंगे।

जनज्वार ने पूरी बात की सच्चाई जानने के लिए एडिशनल एसपी को फोन लगाया तो उन्होंने मामला सुनते ही बोलना बंद कर दिया फिर फोन काटकर उठाया ही नहीं। विधायक सुनील दत्त द्विवेदी को फोन भी लगाया पर रिसीव नहीं किया गया।

Next Story

विविध

Share it