शिक्षा

Pilibhit Crime News: महिला डिग्री कॉलेज में सेक्स रैकेट चला रहा था प्रोफेसर, ऐसे हुआ खुलासा

Janjwar Desk
22 Nov 2021 11:36 AM GMT
Pilibhit Crime News: महिला डिग्री कॉलेज में सेक्स रैकेट चला रहा था प्रोफेसर, ऐसे हुआ खुलासा
x
Pilibhit Crime News: उत्तर प्रदेश के जनपद पीलीभी में शहर में स्थित राम लुभाई साहनी राजकीय महिला महाविद्यालय में बरसों से चल रहे सेक्स रैकेट का एक पीड़ित छात्रा ने भंडाफोड़ कर दिया। महाविद्यालय का गणित का प्रोफ़ेसर इस सेक्स रैकेट का संचालक है।

Pilibhit Crime News: उत्तर प्रदेश के जनपद पीलीभी में शहर में स्थित राम लुभाई साहनी राजकीय महिला महाविद्यालय में बरसों से चल रहे सेक्स रैकेट का एक पीड़ित छात्रा ने भंडाफोड़ कर दिया। महाविद्यालय का गणित का प्रोफ़ेसर इस सेक्स रैकेट का संचालक है। यह प्रोफेसर पहले महाविद्यालय की छात्राओं को बरगला कर धूम्रपान नशीले पदार्थों का उपयोग करने का दबाव बनाता है फिर अश्लील बुक्स व सेक्सुअल ट्वायज देकर अश्लीलता प्रदर्शित करने के लिए मजबूर करता है। प्रोफ़सर अब तक सैकड़ों छात्राओं को अपनी हवस का शिकार बना चुका है। शिकार बन चुकी एक छात्रा ने पुलिस अधीक्षक से मिलकर पूरे मामले का खुलासा किया। एसपी के आदेश पर प्रोफ़ेसर के खिलाफ गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

प्रोफ़ेसर की हवस का शिकार बनी पीड़ित छात्रा ने जब पुलिस अधीक्षक से मिलकर से पूरे मामले का खुलासा किया तो उन्होंने पहले पूरे मामले की सीओ सिटी सुनील दत्त को जांच सौंप कर रिपोर्ट मांगी। सीओ सिटी राम लुभाई साहनी राजकीय महिला महाविद्यालय गए और उन्होंने अलग-अलग तमाम छात्राओं से बातचीत की। एसपी के आदेश पर कोतवाली पुलिस ने छात्रा की तहरीर पर महाविद्यालय के प्रोफेसर कामरान आलम खान के विरुद्ध आईपीसी की धारा 294, 376, 506 के तहत रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

दर्ज रिपोर्ट में छात्रा ने कहा कि वह राम लुभाई साहनी महाविद्यालय में बीएससी (जेडबीसी) की द्वितीय वर्ष की छात्रा है। विद्यालय के गणित के प्रोफेसर कामरान आलम खान एक अय्याश किस्म है। जिसका व्यवहार ठीक नहीं है। विद्यालय में भोली भाली लड़कियों को बरगला कर धूम्रपान, नशीले पदार्थों का उपयोग कराने का दबाव बनाया जाता है। बच्चों को टीचर द्वारा अश्लील बुक्स, सेक्सुअल ट्वायज देकर अश्लीलता पर मजबूर किया जाता है। विद्यालय की छात्राओं को कामरान आलम खान अपने निजी आवास मोहल्ला बड़ा खुदागंज में (पेंटाकोस्टल चर्च के सामने) पर बुलाकर अश्लील हरकत कर गलत संबंध बनाने को मजबूर कर देता है। छात्राओं का आरोप है कि प्रोफ़ेसर कामरान महाविद्यालय की काफी लड़कियों के साथ गलत संबंध बना चुका है। विद्यालय की सैकड़ों लड़कियों के साथ रिलेशन बनाए गए हैं और अश्लीलता की हद तक धकेला गया है।

दर्ज रिपोर्ट में छात्रा ने कहा कि उसके साथ भी कामरान आलम खान द्वारा जालसाजी से घर बुलाकर धोखे से दबाव बनाकर जबरन सेक्स किया गया। प्रोफेसर ने कहा कि मुझे काला जादू आता है। मैं तुम लोगों का दिमाग कंट्रोल कर लेता हूं। यह सुनकर मैं डर गई। मैंने कहीं जिक्र नहीं किया। बाद में मुझे यह भी कहा गया कि यदि किसी से राज खोला तो मैं तुम्हें विद्यालय से निकलवा दूंगा। मेरी विद्यालय के प्राचार्य दिनेश चंद्र से काफी घनिष्ठता है और उन्हें इस सारे कांड की जानकारी देता हूं और शामिल भी करता हूं। मेरा कुछ नहीं हो सकता है। प्रोफ़ेसर ने यह भी कहा और उसकी पत्नी शिप्रा आलम खान ने भी बताया और कहा कि उसके अंडर वर्ल्ड से कांटेक्ट है। वह कहीं से भी किसी को भी उठवा सकती है। छात्रा ने दर्ज रिपोर्ट में कहा कि उसे प्रोफेसर ने यह भी धमकी दी कि तुम्हारे परिवार के साथ कुछ भी करवा सकता हूं। पीड़ित छात्रा ने यह भी खुलासा किया कि विद्यालय की कुछ लड़कियां, प्रोफ़ेसर का साथ दे रही हैं और प्रोफ़ेसर उनसे जो चाहता है, वह अपने पक्ष में कहलवा लेता है। विद्यालय के प्रधानाचार्य भी कामरान से मिले हुए हैं, जिनकी शह पर महाविद्यालय में सेक्स रैकेट चल रहा है।

प्रोफ़ेसर की धमकियों से छात्रा खौफजदा

छात्रा ने एसपी को बताया कि वह बुरी तरह डरी हुई है। उसके परिवार के साथ कोई अनहोनी ना हो इसलिए इन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाए ताकि विद्यालय में चल रहे सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ हो। तथा विद्यालय में शामिल लड़कियां जो कामरान का साथ दे रही है जोकि उनका शिकार होकर कामरान के बस में आकर उनका ही साथ दे रही है। इन लोगों ने मुझे तोड़ने की कोशिश की, जिनके कॉल रिकॉर्ड मेरे पास हैं।

बाहर से लड़के बुलाकर प्रोफ़ेसर कराता है ग्रुप सेक्स

पीड़ित छात्रा का कहना है कि प्रोफेसर कामरान आलम खान रामपुर आदि कई जनपदों से लड़कों को बुलाकर छात्राओं के साथ ग्रुप सेक्स कराता है। उसके वीडियो बनाता है। शिकार होने के बाद कुछ छात्राएं अब प्रोफ़ेसर की एजेंट बन गई है। इन एजेंट छात्राओं के नाम भी पुलिस अधीक्षक को दिए गए हैं, जोकि प्रोफ़ेसर के लिए छात्राओं को इस दलदल में धकेलने के लिए दबाब बनाकर राजी करती है।

दिल्ली-मुंबई से लाकर रखे हैं सेक्स ट्वायज

प्रोफ़ेसर की सेक्सुअल उत्पीड़न का शिकार बनी छात्राओं का कहना है कि प्रोफ़ेसर के कमरे पर सेक्स ट्वायज और अश्लील साहित्य की भरमार है। करीब पिछले 15 वर्ष से यह प्रोफेसर महाविद्यालय में तैनात है।

महिला महाविद्यालय में सभी प्रोफ़ेसर पुरुष

पीलीभीत जिला मुख्यालय पर स्थित राम लुभाई साहनी महिला महाविद्यालय हालांकि सरकारी कॉलेज है लेकिन वर्तमान में पिछले कई वर्षों से अब इस महाविद्यालय में सभी पुरुष प्रोफ़ेसर है। महाविद्यालय की स्थापना की शुरुआत में जो 2-3 महिला प्रोफेसर थीं, जिनमें से कुछ सेवानिवृत्त हो गई और बाकी का ट्रांसफर हो गया। तब से लड़कियों की इस महाविद्यालय में प्रिंसिपल से लेकर चपरासी तक सारा का सारा स्टाफ पुरुष है।

Next Story

विविध

Share it