उत्तर प्रदेश

Pilibhit Gangrape News : छात्रा गैंगरेप हत्याकांड में कोतवाल व चौकी प्रभारी सस्पेंड, गैंगरेप के 5 दिन बाद योगी की पुलिस खाली हाथ

Janjwar Desk
19 Nov 2021 2:42 AM GMT
Pilibhit Gangrape News : छात्रा गैंगरेप हत्याकांड में कोतवाल व चौकी प्रभारी सस्पेंड, गैंगरेप के 5 दिन बाद योगी की पुलिस खाली हाथ
x

बरखेड़ा थाने के इंस्पेक्टर उमेश सिंह सोलंकी सस्पेंड। 

Pilibhit Gangrape News : गैंगरेप जिम्मेदार ठहराते हुए बरखेड़ा के इंस्पेक्टर उमेश सिंह सोलंकी ( Umesh Singh Solanki ) और चौकी प्रभारी सतविंदर सिंह ( Satvindara Singh ) को पुलिस अधीक्षक ने निलंबित कर दिया है।

Pilibhit Gangrape News : जनपद पीलीभीत के बरखेड़ा ( Barkheda ) थाना क्षेत्र में हुए गैंगरेप हत्याकांड ( Gangrape Case ) को अंजाम देने वाले दरिंदों का 5 दिन बीतने के बाद भी पूरे बरेली जोन की पुलिस सुराग लगाने में नाकाम साबित हुई। पुलिस अभी तक सिर्फ अंधेरे में हाथ पैर मार रही है। इलाके के जिन 36 युवकों के उठाकर पुलिस ने जमकर ठुकाई पिटाई की, उनसे पूछताछ करने के बाद नतीजा सिफर ही निकला। पूरे मामले के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए बरखेड़ा के इंस्पेक्टर उमेश सिंह सोलंकी ( Umesh Singh Solanki ) और चौकी प्रभारी सतविंदर सिंह ( Satvindara Singh ) को पुलिस अधीक्षक ने निलंबित ( Suspend ) कर दिया है।

पुलिस मार रही है इधर-उधर हाथ

Pilibhit Gangrape News : वारदात को 100 घंटे बीत चुके लेकिन इसके बाद भी पुलिस के हाथ खाली है। न तो दरिंदे पकड़े गए और न ही पुलिस को कोई ठोस सुराग हाथ लगा है। मालूम हो कि घर से कोचिंग में पढ़ने के लिए निकली बरखेड़ा थाना क्षेत्र के ग्राम डांडिया राझे की छात्रा को 13 नवंबर को दरिंदों ने रास्ते से अगवा कर लिया था। दरिंदों ने छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद उसकी हत्या कर दी। शव गन्ने के खेत में फेंक दिया था। दुष्कर्म के दौरान दरिंदों ने बीयर पार्टी करके जश्न भी मनाया था। गांव से 500 मीटर की दूरी पर नग्न अवस्था में गन्ने के खेत में उसका शव पड़ा मिला था। शरीर पर गंभीर चोटों के निशान थे। मुंह में कपड़ा घुसा हुआ था। गले में चुनरी कसी हुई थी। प्राइवेट पार्ट के खून निकला हुआ था।

आरोपियों को दबोचने के लिए पुलिस की 7 टीमें गठित

बरेली परिक्षेत्र के महानिरीक्षक रमित शर्मा बीते 5 दिन से बरखेड़ा में कैंप कर रहे हैं। बरेली जोन के अपर पुलिस महानिदेशक अविनाश चंद्र का कहना है कि यह घटना पूरे जोन, पूरे रेंज व पूरे जनपद की सर्वोच्च प्राथमिकता पर है। इस नाते वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शाहजहांपुर को भी इसमें लगाया गया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बरेली की टीम भी वर्कआउट के प्रयास में लगी है। स्वयं एसपी पीलीभीत की सात टीमें काम कर रही हैं। जल्द ही मामले को वर्कआउट कर लिया जाएगा।

इंस्पेक्टर और चौकी प्रभारी पर गिरी गाज




पांच दिन बाद भी छात्रा गैंगरेप हत्याकांड में पुलिस की हाथ खाली के खाली है। गुरुवार को पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार प्रभु ने बरखेड़ा थाने के इंस्पेक्टर उमेश सिंह सोलंकी व जिरौनिया पुलिस चौकी के प्रभारी सतविंदर सिंह को निलंबित कर दिया है।

Pilibhit Gangrape News : बरखेड़ा पुलिस पर इस प्रकरण में लगातार गंभीर आरोप लग रहे हैं। बरखेड़ा पुलिस ने आला अफसरों और फॉरेंसिक टीम के पहुंचने से पहले घटनास्थल का नामोनिशान मिटा दिया। परिजनों की गैरमौजूदगी में शव को उठवाकर पोस्टमार्टम को भिजवा दिया था। सांसद वरुण गांधी ने डीजीपी को चिट्ठी भेजकर और समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री हेमराज वर्मा ने सार्वजनिक रूप से बरखेड़ा पुलिस को आरोपों के कठघरे में खड़ा कर दिया। उन्होंने परिजनों की गैरमौजूदगी में बिना पुलिस अफसरों के आए छात्रा के शव को मौके पर से हटा देना और उसका सामान भी खेत से उठवा देने तथा घटनास्थल की पहचान हटा देने को लेकर बरखेड़ा थाने के इंस्पेक्टर उमेश सिंह सोलंकी और चौकी प्रभारी सतविंदर सिंह पर गंभीर आरोप लगाए थे।

Next Story

विविध

Share it