उत्तर प्रदेश

प्रधानमंत्री जी! इन महिलाओं का दर्द सुनिए, क्या आपकी सभाओं में भीड़ जुटाने के लिए इतना गिर जाएगी सरकार? पूर्व IAS ने साझा किया Video

Janjwar Desk
18 Nov 2021 3:18 AM GMT
प्रधानमंत्री जी! इन महिलाओं का दर्द सुनिए, क्या आपकी सभाओं में भीड़ जुटाने के लिए इतना गिर जाएगी सरकार? पूर्व IAS ने साझा किया Video
x

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुलतानपुर रैली। 

मोदी जी की जनसभा में दूर-दूर से जो लोग गाड़ियों में भरकर लाए गए थे, उन्हें कार्यक्रम के दौरान न तो पानी पूछा गया और न ही कुछ खाने के लिए दिया गया। सुबह से शाम तक अन्न- जल के बिना भूखे और प्यासे रहने के लिए मजबूर हुए।

नई दिल्ली। सियासी दलों द्वारा जनसभाओं में येन-केन तरीके से भीड़ जुटा शक्ति प्रदर्शन करना भारतीय राजनीति के लिए कोई नई बात नहीं है। बात पीएम मोदी ( PM Narendra Modi ) की हो तो ऐसा करना संबंधित पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं के लिए एक तरह से प्रतिष्ठा का सवाल होता है। पूर्वांचल एक्सप्रेस के उद्घाटन के दिन यानि 16 नवंबर को सुलतानपुर में भी कुछ ऐसा ही नजारा था। पीएम नरेंद्र मोदी सुलतानपुर में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे ( Purvanchal Expressway ) का उद्घाटन करने पहुंचे थे। तय कार्यक्रम के मुताबिक उन्होंने एक जनसभा को भी संबोधित किया। योगी सरकार और बीजेपी नेताओं ने भारी संख्या में भीड़ जुटाने का काम किया था।

पहली बार बोला अखिलेश पर निजी हमला

पीएम मोदी ने भी भीड़ में शामिल लोगों को निराश नहीं कियां। उन्होंने समाजवादी पार्टी की सरकार के कार्यकाल पर जमकर कटाक्ष किया। खासकर अखिलेश यादव पर पीएम ने पहली बार निजी हमला तक बोला। उन्होंने कहा था कि जब अखिलेख यूपी के सीएम थे तो मंच पर मेरे पास आने से भी डरते थे। यहां तक तो सबकुछ सही था।

गाड़ी में भरकर लाए, पानी के लिए भी नहीं पूछा

लेकिन ये क्या, मोदी जी की जनसभा में दूर-दूर से जो लोग गाड़ियों में भरकर लाए गए थे, उन्हें कार्यक्रम के दौरान न तो पानी पूछा गया और न ही कुछ खाने के लिए दिया गया। इस बात का खुलासा खुद जनसभा में दूर-दराज गांव से आए लोगों ने किया है। अब इससे जुड़ा वीडियो पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने अपने ट्विटर हैंडल से भी साझा किया है।

पीएम मोदी ( PM Modi ) की सभा में शामिल होने के लिए पंचायत सहायक अपने साथ 58 लोगों को लाई थीं। लेकिन सभा के खत्म होने के बाद उन्हें वहां से जाने तक का साधन नहीं मिला। इस बात को जाहिर करते हुए उन्होंने कहा हमें कुछ भी नहीं मिला, पानी तक नहीं पूछा गया। यहां तक कि बस भी गायब हो गई है। किसी से बात भी नहीं हो पा रही है। पंचायत सहायक ने इस बारे में बात करते हुए आगे कहा कि हमें कहा गया था कि नाश्ते की व्यवस्था है, लेकिन हमें तो वो भी नहीं मिला। हम सुबह आठ बजे से यहां आकर बैठे हुए हैं। एक महिला ने अपनी तकलीफें बयां करते हुए कहा कि न पानी मिला, न दाना। अब इस वीडियो को साझा करते हुए पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी पर तंज कसा।

योगी सरकार इस हद तक गिर जाएगी

अपने ट्विटर हैंडल से पूर्व आईएएस ने पीएम नरेंद्र मोदी को आड़े हाथों लेते हुए लिखा - "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी क्या यह आपकी जानकारी में है? लोग ढो कर लाए गए, नाश्ता पानी तक नहीं दिया गया और फिर छोड़ दिए गए। इन महिलाओं का दर्द सुनिए, क्या आपकी सभाओं में जबरदस्ती भीड़ जुटाने के लिए सरकार इस स्तर तक जाएगी?

चलिए कम से कम 58 वोट तो गए

यूपी कैडर के पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह के इस वीडियो पर सोशल मीडिया यूजर ने भी खूब कमेंट किए हैं। सत्य प्रकाश भारती नाम के यूजर ने पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह के ट्वीट का जवाब देते सीएम योगी से जुड़ा वीडियो साझा किया, जिसमें वह पीएम मोदी की कार के पीछे चलते हुए नजर आए। यूजर ने लिखा- योगी जी कर भी क्या सकते हैं। वापसी में उनको भी तो सवारी नहीं मिली। सचिन नाम के यूजर ने लिखा, "चलिए कम से कम 58 वोट तो गए।

Next Story
Share it