Top
उत्तर प्रदेश

यूपी : खदान में ब्लास्टिंग से बने गढ्ढे में डूबे मजदूर के तीनों बच्चे, मौत

Janjwar Desk
18 July 2020 12:20 PM GMT
यूपी : खदान में ब्लास्टिंग से बने गढ्ढे में डूबे मजदूर के तीनों बच्चे, मौत
x
प्रकाश कोल निवासी सरिया मजदूरी करके अपना व अपने परिवार का भरण पोषण करता था। प्रकाश के कुल चार बच्चे है, शुक्रवार की सुबह तीन बच्चे खाना खाकर घर की बकरियों को चराने गए थे...

पवन जायसवाल की रिपोर्ट

मिर्जापुर। उत्तर प्रदेश के मिर्ज़ापुर के अहरौरा थाना क्षेत्र स्थित लालपुर अधवार गाँव के मौजा चिरइया मे हो रहे खनन से प्लिंथ लेबल से नीचे बने गढ्ढे में डूबकर एक ही घर के तीन बच्चों की मौत हो गयी। काफी मसक्कत के बाद ग्रामीणों की मदद से शव गहरे गड्ढे से बाहर निकाला गया, इस दौरान मौके पर ग्रामीणों समेत भारी पुलिस फोर्स मौजूद रही।

प्रकाश कोल निवासी सरिया मजदूरी करके अपना व अपने परिवार का भरण पोषण करता था। प्रकाश के कुल चार बच्चे है, शुक्रवार की सुबह तीन बच्चे खाना खाकर घर की बकरियों को चराने गए थे। पुत्र काजू (6 साल), राधिका (12 साल), खुशबू (5 साल) खदान में ब्लास्टिंग से बने गढ्ढे में नहाने चले गए, शुरू में गहरायी कम थी किन्तु कुछ आगे ही गहराई था और तीनों एक दूसरे को बचाने के चक्कर मे पानी मे समा गये।


जब देर शाम बच्चे घर नही आये तो माँ बाप बच्चो की खोजबीन करने लगे। काफी खोजने के बाद भी बच्चों का अता-पता नही चला। माँ बाप सुबह का इंतेजार करने लगे। भोर होते ही बच्चो के पिता अपने बकरियों और जिगर के टुकड़ों को ढूंढते हुए खदान पर पहुंच गया।

खोजते-खोजते खदान के पास पहुंचे पिता ने देखा बकरियां एक चट्टान पर बैठी गढ्ढे से भरी पानी को निहार रही थी, पिता का नजर भी पानी की तरफ गया तो देखा पुत्र काजू का शव पानी मे उतरा हुआ था, ये देखते ही पैरों तले जमीन खिसक गया और वही रोने चिल्लाने लगा। देखते ही देखते आस पास गांव के सैकड़ो ग्रामीणों की भीड़ जुट गयी, कुछ लोगों ने इस घटना की जानकारी अहरौरा पुलिस को दिया।


सूचना पर पहुची भारी पुलिस बल ने ग्रामीणों की मदद से भारी मसक्कत के बाद शव को पानी से बाहर निकाला। इस दौरान सीओ मड़िहान हितेन्द्र कृष्ण समेत थानाध्यक्ष बिमलेश सिंह, उप निरीक्षक तेजबहादुर राय, किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष सिद्धनाथ सिंह, ग्राम प्रधान पति संतोष पटेल मौजूद रहे।

Next Story

विविध

Share it