Top
उत्तर प्रदेश

अब यूपी के CM योगी पर फूटा बेरोजगार युवाओं का गुस्सा, वीडियो को मिले LIKES से 55 गुना ज्यादा DISLIKES

Janjwar Desk
4 Sep 2020 1:04 PM GMT
अब यूपी के CM योगी पर फूटा बेरोजगार युवाओं का गुस्सा, वीडियो को मिले LIKES से 55 गुना ज्यादा DISLIKES
x
उत्तर प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यक्रम का वीडियो अपलोड किया तो कुछ ही घंटों में इसे बड़ी संख्या में डिसलाइक मिले, इस वीडियो में मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ पोषण कार्यक्रम के संबंध में बात कर रहे हैं....

लखनऊ। हाल ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रिय कार्यक्रम मन की बात को यू-ट्यूब पर यूजर्स ने खूब डिसलाइक किए थे। 'मन की बात' कार्यक्रम पीएमओ, नरेंद्र मोदी और भाजपा समेत कई आधिकारिक चैनलों पर अपलोड किया गया था। जिसको डिसलाइक करने वालों की संख्या लाइक करने वालों से दस गुना से ज्यादा थी। यही नहीं मन की बात के कार्यक्रम को जब समाचार चैनल एबीपी न्यूज ने अपने मास्टर स्ट्रोक कार्यक्रम में चलाया तो वहां भी इसे लाइक की तुलना में कई गुना ज्यादा डिसलाइक मिले।


इसके बाद भाजपा ने जब अपने राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा की प्रेस कॉन्फ्रेंस का वीडियो अपलोड किया तो उसे भी बड़ी संख्या में डिसलाइक मिले थे। ये सिलसिला अब लगातार चला आ रहा है जो चर्चा का विषय बन गया है। वहीं आज शुक्रवार को जब उत्तर प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यक्रम का वीडियो अपलोड किया तो कुछ ही घंटों में इसे बड़ी संख्या में डिसलाइक मिले। इस वीडियो में मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ पोषण कार्यक्रम के संबंध में बात कर रहे हैं।

इस वीडियो को अब तक 24528 लोग देख चुके हैं जिसमें 12000 लोगों ने इस वीडियो को डिसलाइक किया है। जबकि मात्र 2017 लोगों ने इस वीडियो को लाइक किया है। वीडियो में तीन हजार से ज्यादा लोगों ने कमेंट्स किए हैं जिनमें से अधिकांश युवक रोजगार का सवाल उठा रहे हैं। बड़ी संख्या में युवक 'मैं भी बेरोजगार' लिखकर कमेंट कर रहे हैं।




इसके अलावा कोरोना वायरस के संबंध में यूपी के अपर मुख्य सचिव, गृह व सूचना एवं अपर मुख्य सचिव, स्वास्थ्य की प्रेसवार्ता का वीडियो भी यूजर्स ने डिसलाइक किया है। इस वीडियो को मात्र 33 लाइक मिले हैं जबकि 3 हजार लोग इसे डिसलाइक कर चुके हैं।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज भी कुछ वीडियो अपलोड किए लेकिन इनमें डिसलाइक करने वालों की संख्या लाइक करने वालों की तुलना में अधिक है। उनके वीडियो को 23 हजार लाइक्स मिले हैं तो 32 हजार ने डिसलाइक किया है।


बता दें कि कोरोना लॉकडाउन से पहले भारत में बेरोजगारी दर बीते 45 सालों में सबसे अधिक थी। वहीं केंद्र सरकार के सांख्यिकी मंत्रालय के अनुसार 2020-21 वित्त वर्ष की पहली तिमाही यानी अप्रैल से जून के बीच विकास दर में 23.9 फ़ीसद की गिरावट दर्ज की गई है। एक ओर सरकार जहां बेरोजगारी के सवाल पर बचती हुई नजर आ रही है वहीं दूसरी ओर देश के युवा और विपक्षी राजनीतिक दल हमलावर हो चुक हैं।

आज कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने एक बार फिर मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कहा कि मोदी सरकार, रोज़गार, बहाली, परीक्षा के परिणाम दो, देश के युवाओं की समस्या का समाधान दो।


इससे पहले राहुल गांधी ने गुरुवार को भी अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर पीएम मोदी को घेरा था। उन्होंने एक और वीडियो जारी कर कहा था कि नोटबंदी हिंदुस्तान के गरीब, किसान, मजदूर और छोटे दुकानदार पर आक्रमण था। नोटबंदी हिंदुस्तान के असंगठित अर्थव्यवस्था पर आक्रमण था। 8 नवंबर 8:00 बजे 2016, प्रधानमंत्री जी ने नोटबंदी का निर्णय लिया। 500, 1000 का नोट रद्दी कर दिया। पूरा हिंदुस्तान बैंक के सामने जाकर खड़ा हुआ। आपने अपना पैसा अपनी आमदनी बैंक के अंदर डाली।"


Next Story

विविध

Share it