Top
उत्तर प्रदेश

फिर सामने आया UP पुलिस का खौफनाक चेहरा, युवक को पिलर से बांधकर बेरहमी से पीटा

Janjwar Desk
27 Oct 2020 8:43 AM GMT
फिर सामने आया UP पुलिस का खौफनाक चेहरा, युवक को पिलर से बांधकर बेरहमी से पीटा
x
जौनपुर में कई दिनों से एक विडियो वायरल हो रहा है, इस वीडियो में युवक को पिलर से तीन पुलिसकर्मी पकड़े हुए हैं और एक पुलिसकर्मी उसे बेरहमी से पीट रहा है, युवक बचाने की और न मारने की गुहार लगा रहा है....

संतोष देव गिरी की रिपोर्ट

जौनपुर। उत्तर प्रदेश की पुलिस पूरी तरह से ऐसे निरंकुश और बेरहम हो चली है कि जिसे न तो मानवाधिकार के नियमों का भय और न ही मानवता से कोई नाता है। दरअसल शराब के नशे में एक युवक को कथित तौर पर गाली देना इस कदर महंगा पड़ गया कि वह सपने में भी अब गाली देने की सोच नहीं सकता। जौनपुर पुलिस ने युवक को कथित तौर पर गाली देने के जवाब में पुलिस चौकी में बेरहमी से पीटा। हालांकि जब इस घटना का वीडियो वायरल हुआ तो जौनपुर के पुलिस अधीक्षक ने आरोपी पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर किया है।

जौनपुर जिले के थानागद्दी पुलिस चौकी में बीती रात में एक युवक की पिटाई का वीडियो वायरल हुआ जिसमें साफ साफ देखा जा रहा है कि चौकी इंचार्ज त्रिवेणी सिंह लाठी से युवक को बेरहमी से पीट रहे है। इसमें तीन पुलिसकर्मी युवक को पिलर से लगा के पकड़े हुए हैं। जिस युवक सईद शेख (पुत्र इस्माईल शेख की पिटाई हो रही है वह थानागद्दी बाज़ार का रहने वाला है। युवक गुहार लगाता रहा लेकिन चौकी इंचार्ज त्रिवेणी सिंह पिटाई करते रहे।

चौकी के अंदर पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद जौनपुर के पुलिस अधीक्षक राजकरन अय्यर ने त्रिवेणी सिंह को लाइन हाजिर कर दिया है। पुलिस अधीक्षक की इस कार्यवाही के बाद इस तरह की हरकत करने वाले पुलिसकर्मियों में हड़कंप मच गया है।

दरअसल, जौनपुर में कई दिनों से एक विडियो वायरल हो रहा था। इस वीडियो में युवक को पिलर से तीन पुलिसकर्मी पकड़े हुए हैं और एक पुलिसकर्मी उसे बेरहमी से पीट रहा है। युवक बचाने की और न मारने की गुहार लगा रहा है। उसकी चीख बाहर तक सुनाई दे रही है, लेकिन पुलिसवाला लाठियों से उसे पीटता जा रहा है। बाद में पता चला कि वायरल वीडियो थानागद्दी पुलिस चौकी का है।

पुलिस का आरोप है कि रात में नशे में धुत होकर चौकी के सामने खड़े होकर पुलिसकर्मियों गाली दे रहा था। इस पर पुलिस वालों ने उसे पकड़ा और पिटाई करने के बाद उसकी बाइक सीज कर दी और 151 में चालान कर दिया था। उसी रात किसी पुलिसकर्मी ने ही थानागद्दी चौकी में यह वीडियो बना लिया और वायरल कर दिया। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस अधीक्षक ने संज्ञान में लेते हुए चौकी इंचार्ज त्रिवेणी सिंह को तत्काल लाइन हाजिर कर दिया।

पुलिस उपाधीक्षक सुशील कुमार ने बताया कि त्रिवेणी सिंह की इस प्रकार की कई शिकायत मिल रही थीं। इसे संज्ञान लेते हुए उनको लाइन हाजिर कर दिया गया है। थानागद्दी कस्बे के लोगों का कहना है कि यदि युवक ने गुनाह किया था तो उसे कानूनी तौर पर सजा दी जानी चाहिए थी, चौकी प्रभारी ने वर्दी के गुरुर में जिस बेरहमी के साथ युवक को पिलर में बांधकर पिटाई की है वह मानवता के साथ-साथ मानवाधिकार नियमों के विरुद्ध उठाया गया कदम कहा जाएगा।

Next Story

विविध

Share it