Top
राष्ट्रीय

बंगाल भाजपा अध्यक्ष बंगाल दिलीप घोष की विरोधियों को धमकी जूते मारेंगे, कपड़े उतारकर करेंगे पिटाई, पुलिस से भी कहा देख लेंगे

Janjwar Desk
7 Sep 2020 5:09 AM GMT
बंगाल भाजपा अध्यक्ष बंगाल दिलीप घोष की विरोधियों को धमकी जूते मारेंगे, कपड़े उतारकर करेंगे पिटाई, पुलिस से भी कहा देख लेंगे
x
दिलीप घोष ने पश्चिम बंगाल पुलिस को भी चेतावनी दी है और कहा है कि एक साल बाद भाजपा की सरकार बनने पर परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहें...

जनज्वार। पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने एक विवादित बयान दिया है। उन्होंने रविवार को उत्तरी 24 परगना जिले में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए विरोधियों की ओर इंगित करते हुए कहा, हम उन्हें जूते से मारेंगे, कपड़े उतार देंगे और फिर पिटाई करेंगे। दिलीप घोष का यह बयान पार्टी द्वारा शनिवार को शुरू किए गए गणतंत्र बचाओ अभियान के अगले दिन आया है।

दिलीप घोष ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि मैं आपको बता दूं कि दिलीप घोष जो बोलता है, वह करता है। उन्होंने कहा कि मैंने आपलोगों से कहा नहीं था कि टीएमसी 2019 में सिमट कर आधे पर आ जाएगी।

दिलीप घोष ने कहा कि पुलिस के बल पर आमलोगों को डराने धमकाने वाले को हम नहीं छोड़ेंगे। पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि हम हर रिकार्ड रख रहे हैं और सरकार बनने के बाद हम ब्याज के साथ सबकुछ चुकता कर देंगे।

मालूम हो कि पश्चिम बंगाल में अगले साल विधानसभा चुनाव है और ममता बनर्जी की सत्ताधारी तृणतमूल कांग्रेस के सामने भाजपा ने बड़ी राजनैतिक चुनौती खड़ी कर रखी है।

पुलिस को दी चेतावनी, बच्चे डाॅक्टर-इंजीनियर नहीं बनेंगे प्रवासी श्रमिक

दिलीप घोष ने पुलिस पर ममता व टीएमसी के इशारे पर काम करने का आरोप लगाते हुए कहा कि याद रखें कि एक साल बाद आपके साथ क्या होगा। उन्होंने बंगाल पुलिस पर आरोप लगाया कि वह फेसबुक पोस्ट पर भी लोगों को गिरफ्तार कर रही है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के भतीजे पर जो पोस्ट होते हैं, उस पर भी गिरफृतारी हो रही है। उन्होंने कहा कि आपके बच्चे अपनी शिक्षा पूरी करने में सक्षम नहीं होंगे। वे डाॅक्टर इंजीनियर नहीं बन पाएंगे। हम सुनिश्चित करेंगे कि वे प्रवासी श्रमिक बनें।

दिलीप घोष ने बंगाल में फिर से लोकतंत्र बहाल करने की बात करते हुए कहा कि बिना लोकतंत्र के सीपीएम, कांग्रेस या भाजपा कोई भी पार्टी यह टिक नहीं पाएगी। उन्होंने सीपीएम व कांग्रेस से आह्वान किया कि वे साथ मिलकर बदलाव के लिए आगे आएं।

वहीं, तृणमूल कांग्रेस के सांसद ने दिलीप घोष के बयान की तीखी आलोचना की। उन्होंने घोष को अशिक्षित व असभ्य इंसान बताया। उन्होंने दिलीप घोष को चुनौती देते हुए कहा कि अगर हिम्मत है तो उन्हें जूता मार कर दिखाएं।

Next Story

विविध

Share it