राष्ट्रीय

कौन हैं कानपुर की हर्षिता और नर्बदा जिनके खातों में पोर्न सम्राट 'राज कुंद्रा' भेजता था मोटी रकम?

Janjwar Desk
24 July 2021 3:47 AM GMT
कौन हैं कानपुर की हर्षिता और नर्बदा जिनके खातों में पोर्न सम्राट राज कुंद्रा भेजता था मोटी रकम?
x
शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा का कानपुर कनेक्शन सामने आया है.
इतनी लंबी रकम होने का कयास या भी लगाया जा रहा है कि यह लोग मॉडलिंग के नाम पर अथवा पोर्न फिल्मों में काम करने के नाम पर लड़कियों को फंसाने का काम करते थे...

जनज्वार, कानपुर। बालीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी (Shilpa Shetty) के अश्लील पति राज कुंद्रा की गिरफ्तारी के बाद मुंबई पुलिस ने उनके व उनके दर्जन भर सहयोगियों के 18 खातों को सीज कर दिया है। इन्ही सीज किए गये खातों में दो खाते कानपुर के निकले हैं। जिनमें लगभग ढ़ाई करोड़ रूपये की रकम जमा होने की बात कही जा रही है।

अमर उजाला में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक राज कुंद्रा (Raj Kundra) की कमाई का हिस्सा कानपुर भी आता था। यहां राज कुंद्रा के दो क्लाइंटों का हिस्सा कैंट और बर्रा में आता था, और तो यहां खुले खातों में दर्जनो बार लेन-देन की बात भी प्रकाश में आई है। शुक्रवार 23 जुलाई को क्राईम ब्रांच मुंबई के निर्देश के बाद खाते सीज कर दिए गये।

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक इन दोनो खातों में जिनमें एक खाता हर्षिता (Harshita) श्रीवास्तव के नाम तो दूसरा खाता नर्बदा (Narbada) श्रीवास्तव के नाम पर चल रहा था। हर्षिता का खाता बर्रा की पंजाब नेशनल बैंक (PNB) में था तो दूसरी यानि नर्बदा का खाता कैंट की भारतीय स्टेट बैंक (SBI) में खुला था।

हर्षिता के बर्रा स्थित बैंक खाते में दो करोड़ 32 लाख 45 हजार 2 सौ 22 रूपये तथा नर्बदा के खाते में 5 लाख 59 हजार 151 रूपये जमा पाए गये थे। इन दोनो खातों और जमा रकम को सीज कर दिया गया है। इसी के साथ राज कुंद्रा का कानपुर (Kanpur) कनेक्शन भी सामने आया है।

बताया जा रहा है कि ये लोग राज कुंद्रा के पोर्न एप (Porn App) हॉटशॉट्स के सब्सक्राइबर बढ़वाते थे। लेकिन इतनी लंबी रकम होने का कयास या भी लगाया जा रहा है कि यह लोग मॉडलिंग के नाम पर अथवा पोर्न फिल्मों में काम करने के नाम पर लड़कियों को फंसाने का काम करते थे।

बैंक के सूत्रों का कहना है कि शुक्रवार दोपहर लगभग तीन बजे सादे कपड़ों में कुछ लोग आये थे। यहां शाखा प्रबंधकों के साथ बेहद गोपनीय ढ़ंग से एक घंटे तक बातचीत हुई। जिसके बाद यह खाते सीज कर दिये गये। हालांकि बैंकों ने इसकी आधिकारिक पुष्टि करने से मना कर दिया।

Next Story
Share it