Top
अंधविश्वास

चंडीगढ़ में कर्फ्यू उल्लंघन पर 550 लोगों का चालान, 14 गाड़ियां भी जब्त

Prema Negi
24 March 2020 12:43 PM GMT
चंडीगढ़ में कर्फ्यू उल्लंघन पर 550 लोगों का चालान, 14 गाड़ियां भी जब्त

पंजाब में भी कर्फ्यू तोड़ने वालों से पुलिस सख्ती से निपट रही है। लोगों पर लाठियां बरसायी जा रही हैं। लोगों ने आरोप लगाया कि पुलिस पूरी तरह से मनमानी कर रही है...

जनज्वार ब्यूरो, चंडीगढ़। लॉकडाउन से बात नहीं बनी तो चंडीगढ़ में कर्फ्यू लगा दिया गया, लेकिन इससे भी लोग सड़कों पर निकलने से थम नहीं रहे हैं। पुलिस ने अभी तक कर्फ्यू का उल्लंघन करने पर 550 लोगों का चालान कर दिया है। 14 गाड़ियों को भी जब्त किया गया है। कर्फ्यू दौरान पुलिसकर्मियों को जो भी जहां मिल रहा है, उसे अपने अपने तरीके से सजा दी जा रही है।

सुबह से कर्फ्यू होने की वजह से लोगों को दूध और ब्रेड की किल्ल्त का सामना करना पड़ रहा है। प्रशासन की ओर से 31 मार्च तक कर्फ्यू लगाया गया है। अब प्रशासन की ओर से बताया गया कि कल से लोगों के घरों में दूध और जरूरी चीजों की आपूर्ति की जाएगी। इसके लिए वेंडर खुद लोगों के घरों में आएंगे। जरूरत का सामान घर पर ही उपलब्ध कराया जाएगा।

संबंधित खबर : पंजाब में कोरोना कर्फ्यू जारी, हरियाणा में लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर होगी 6 माह की सजा

मिश्नर केके यादव ने बताया कि वेंडर को एरिया वाइज कर्फ्यू पास दिये जाएंगे। इससे ही वेंडर लोगों के घरों में जा सकेंगे। उन्होंने दावा किया कि किसी भी चीज की कमी नहीं आने दी जाएगी। हम आज के कर्फ्यू की समीक्षा करेंगे। इसके बाद तय किया जाएगा कि आगे क्या कदम उठाये जाने हैं।

दूसरी ओर जो लोग अभी भी कर्फ्यू को नहीं मान रहे हैं, उन्हें पकड़ने के लिए पुलिस काम कर रही है। इसके लिए सेक्टर 16 के स्टेडियम को खुली जेल बना दिया गया है। इसके साथ ही पीसीए मोहाली स्पोट्र्स कॉम्प्लेक्स मनीमाजरा को खुली जेल में तब्दील कर दिया गया है।

पंजाब में भी कर्फ्यू तोड़ने वालों से पुलिस सख्ती से निपट रही है। लोगों पर लाठियां बरसायी जा रही हैं। लोगों ने आरोप लगाया कि पुलिस पूरी तरह से मनमानी कर रही है। यह जाने बिना कि वह किस मजबूरी में बाहर आए हैं, उन्हें लाठियों से पीटा जा रहा है।

दूसरी ओर पंजाब में तीन और लोग कोरोना वायरस से पॉजिटिव पाए गए हैं। यह लोग जालंधर के फिल्लोर के विर्क गांव के से हैं। यह लोग गांव के उस व्यक्ति के संपर्क में आए थे, जिसकी कोरोना से मौत हो गयी थी। अब गांव को पूरी तरह से सील कर दिया गया है।

इसे भी पढ़ें : पंजाब, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के सभी जिलों में सुबह से लॉकडाउन

पंजाब के दुग्ध सहकारी मिल्कफेड ने मंगलवार 24 मार्च को कहा कि यह कोरोनावायरस से निपटने के लिए राज्य-व्यापी कर्फ्यू के बावजूद लंबे समय तक रखा जाने वाले दूध की आपूर्ति करेगा।

मिल्कफेड के चेयरमैन हरमिंदर सिंह ने कहा कि राज्य में दूध की कोई कमी नहीं होगी। यदि उपभोक्ताओं को अपने क्षेत्रों में किसी भी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है, तो उन्हें बताया जाये। वह तुरंत लोगों के घरों तक दूध उपलब्ध करा देंगे।

धर हरियाणा में लॉकडाउन के दौरान कुछ जगह पर लोग घरों से बाहर निकले। करनाल, यमुनानगर अंबाला में पुलिस ने लोगों पर सख्ती बनाये रखी। माना जा रहा है कि यदि लोग अभी भी सहयोग नहीं करेंगे तो यहां भी कर्फ्यू लगाया जा सकता है। सीएम मनोहर लाल आज कोरोना के हालातों का जायजा लिया।

नोहर लाल ने आज राज्य के सभी राजनीतिक दलों के नेताओं से नोवल कोरोना वायरस के खिलाफ लडऩे के लिए एकजुट होने का आह्वान किया। स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि प्रदेश सरकार ने पहले ही कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए कई एहतियाती कदम उठाए हैं और आने वाले दिनों में लोगों की सुरक्षा के लिए और कई कदम उठाए जाएंगे।

Next Story

विविध

Share it