Top
समाज

पंजाब, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के सभी जिलों में सुबह से लॉकडाउन

Janjwar Team
23 March 2020 12:27 PM GMT
पंजाब, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के सभी जिलों में सुबह से लॉकडाउन
x

सीएम अमरिंदर सिंह ने बताया कि बीमारी के प्रकोप को रोकने के लिए यह कदम उठाया गया है। कर्फ्यू 31 मार्च तक जारी रहेगा। इस दौरान किसी को भी रियायत नहीं दी जाएगी। पंजाब की ओर जाने वाले सारे रास्ते सील कर दिये गये हैं...

चंडीगढ़ से मनोज ठाकुर की रिपोर्ट

जनज्वार ब्यूरो। कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए सरकार ने लॉकडाउन का निर्णय लिया है। सीएम मनोहर लाल ने कहा कि वायरस तेजी से फैल रहा है। इसे रोकने के लिये यह कदम उठाया गया है। दूसरी ओर हरियाणा में जैसे ही लॉकडाउन की घोषणा हुई तो तुरंत ही लोग आवश्यक वस्तुओं की खरीददारी में जुट गये। बाजार में लोगों की भीड़ जुटनी शुरू हो गयी है।

दूसरी ओर पंजाब में कर्फ्यू के आदेश जारी कर दिये गये है। सीएम अमरिंदर सिंह ने बताया कि बीमारी के प्रकोप को रोकने के लिए यह कदम उठाया गया है। कर्फ्यू 31 मार्च तक जारी रहेगा। इस दौरान किसी को भी रियायत नहीं दी जाएगी। पंजाब की ओर जाने वाले सारे रास्ते सील कर दिये गये हैं। इसके साथ ही सड़कों पर पुलिस गश्त कर ही है। कोरोनावायरस संक्रमण के 31 मामले सामने आने के बाद सरकार ने यह कदम उठाया है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सोमवार को पूरे पंजाब में 31 मार्च तक कर्फ्यू लागू कर दिया। अमरिंदर ने कहा कि कर्फ्यू में किसी भी तरह की रियायत नहीं दी जाएगी।

संबंधित खबर : कोरोना वायरस के डर से किराएदार डॉक्टरों को अपने घरों से खाली करवा रहे मकान मालिक

संक्रमण रोकने के लिए राज्य में धारा 144 लगाई गई थी, फिर लॉकडाउन कर दिया गया था, लेकिन इसका असर दिखाई नहीं दिया और नए केस सामने आते रहे। इसके बाद सरकार को यह कदम उठाना पड़ा। सोमवार सुबह पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टर अमरिंदर सिंह ने राज्य के मुख्य सचिव और प्रदेश के डीजीपी के साथ 3 घंटे की मैराथन मीटिंग की। इसमें यह चर्चा हुई कि लोग लॉकडाउन को नहीं मान रहे हैं, इसलिए कर्फ्यू लगाना जरूरी है। दूसरी वजह यह है कि प्रदेश में कई लोग विदेशों से लौटे हैं।

के 28 लाख लोग विदेश में रहते हैं। विदेश मंत्रालय के मुताबिक, दुनियाभर में 28 लाख 19 हजार 835 भारतीय बसे हैं। इनमें यूनाइटेड अरब अमीरात में 8 लाख, अमेरिका में 2.80 लाख, इंग्लैंड में 4.66 लाख, ऑस्ट्रेलिया में 1.32 लाख, इटली में 2.5 लाख, कनाडा में 6 लाख पंजाबी हैं। इन देशों से पिछले दिनों कई लोग लौटे, जो ट्रेस नहीं हो पा रहे हैं। इनमें से कई लोगों ने अपने पते और फोन नंबर भी गलत लिखवाए हैं। अकेले जालंधर में 13 हजार एनआरआई हैं।

पंजाब के अलावा आज हिमाचल प्रदेश में भी लॉकडाउन का ऐलान किया गया। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने विधानसभा में ऐलान किया कि कोरोना से लड़ने के लिए पूरे हिमाचल में लॉकडाउन का ऐलान किया जाता है। यह लॉकडाउन अगले आदेश तक जारी रहेगा। हालांकि इस दौरान जरूरी सामानों की दुकानें खुली रहेंगी।

संबंधित खबर : युवती कोरोना वायरस के संदेह में जांच कराने गई तो स्वाइन फ्लू का चला पता

धर हरियाणा में आठ जिलों में पहले लॉकडाउन का निर्णय लिया गया था। लेकिन सोमवार को सुबह से ही सरकार पूरे प्रदेश को लॉकडाउन करने पर विचार कर रही थी। शाम होते होते सरकार ने इस दिशा में घोषणा कर दी है।

भी बताया जा रहा है कि यदि इसके बाद भी लोग घरों में नहीं रहे तो कर्फ्यू भी लगाया जा सकता है। इधर अफवाहों की वजह से लोगों में डर का माहौल बना हुआ है। हर कोई वस्तुओं की जमाखोरी में लगा हुआ है। सीएम मनोहर लाल ने बताया कि किसी चीज की कमी नहीं है। बस लोग सहयोग करें।

Next Story

विविध

Share it