Begin typing your search above and press return to search.
आंदोलन

6 महीने का बकाया वेतन मांगा तो प्रांजल कंपनी मालिकान ने पिटवा दिया मजदूर को

Prema Negi
4 Nov 2018 6:37 AM GMT
6 महीने का बकाया वेतन मांगा तो प्रांजल कंपनी मालिकान ने पिटवा दिया मजदूर को
x

सेलरी मांग रहे बेचैन शर्मा को कंपनी मालिकान के गुंडों ने पहले बनाया बंधक, फिर लोहे की रॉड से ​बुरी तरह किया लहुलूहान...

फरीदाबाद। कुछ दिन पहले प्रांजल प्रोडक्ट कम्पनी में कार्यरत विश्वकर्मा समाज के प्रधान बैचेन शर्मा को हरीश भाटिया, विकास भाटिया, दीपक भाटिया और संजय त्यागी ने मिलकर बुरी तरह लोहे की रॉड से बंधक बनाकर पीटा था, जिनके खिलाफ हरियाणा के मुजेसर थाने में विभिन्न धाराओं में एफआईआर दर्ज की गई। अब कंपनी मालिकों को पुलिस तलाश रही है, लेकिन दोषी फ़रार हैं।

पीड़ित बेचैन शर्मा कहते हैं, मैं पिछले 12 वर्ष से प्रांजल प्रोडक्ट सेक्टर 24 में कार्यरत हूं लेकिन कंपनी मालिकों ने मेरी तनख्वाह पिछले 6 महीने से नही दी और जब मैंने अपना हिसाब मांगा तो कम्पनी मालिकों ने अपने पाले हुए बदमाशों से बुरी तरह पिटवाया और खुद भी बुरी तरह मारपीट की। जो भी मजदूर अन्याय के खिलाफ उठाता है उसे प्रांजल प्रॉडक्ट के मालिक डराते हैं और जब मैं पुलिस के पास मदद मांगने गया तो शेर मोहम्मद पुलिसकर्मी ने मुझे धमकाकर भगा दिया।

बेचैन शर्मा कहते हैं, इसके बाद प्रवासी नेता और भाजपा के राष्ट्रीय आईटी सेल व सोशल मीडिया इंचार्ज संतोष यादव ने हमारी मदद की और मुजेसर थाने के इंचार्ज अशोक कुमार से मुलाकात करके कम्पनी मालिक पर एफआईआर दर्ज करवाकर नकेल कसवाई।

इस मौके पर भाजपा के राष्ट्रीय नेता और प्रवासियों के बीच काम कर रहे संतोष यादव ने बताया कि जैसे ही बेचैन शर्मा का मामला संज्ञान में आया, मुजेसर थाने के पुलिस अधिकारी अशोक कुमार से मुलाकात की और अशोक कुमार ने तुरंत कार्यवाही करते हुए पुलिस को सख्त आदेश दिए और कंपनी मालिकों पर पुलिस ने कार्यवाही शुरू कर दी।

पुलिस अधिकारियों के भय से कंपनी मालिक और अन्य हमलावर फरार चल रहे हैं। हाल ही में प्रवासी नेता संतोष यादव ने सेक्टर 58 में कृष्णा कंपनी गेस सिलेंडर फटने से मारे गए मजदूर की भी पूरी मदद की और कम्पनी मालिकों पर सख्त कार्यवाही करवाई और एक पीड़ित परिवार को मुंहमांगा मुआवजा मौके पर दिलाया था।

संतोष यादव ने कहा कि किसी भी गरीब मजदूर के साथ अन्याय बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और जो भी भ्रष्टाचार और गुंडागर्दी करेगा, उस पर शासन—प्रशासन सख्त कार्यवाही करेगा।

Next Story