Top
राजनीति

पार्टी में कुमार की पकड़ देख शांति से काम लेंगे केजरीवाल

Janjwar Team
9 July 2017 1:29 PM GMT
पार्टी में कुमार की पकड़ देख शांति से काम लेंगे केजरीवाल

कुमार ने बड़े ही चतुर तरीके से पार्टी के मूल सिद्धांतों की बात करके वालंटियर्स के एक बड़े तबके के बीच सॉफ्ट कार्नर तैयार कर लिया है...

दिल्ली से स्वतंत्र कुमार की रिपोर्ट

पार्टी सूत्रों के मुताबिक कुमार की वालंटियर्स के बीच ताकत का अंदाजा लगने के बाद पार्टी के बड़े नेता बैकफुट पर आ गए हैं। पार्टी ने कुमार को बाहर करने के फैसले पर फिलहाल विराम लगा दिया है।

कुमार के एक के बाद एक आ रहे वीडियो (प्रसिद्ध कवियों की कविताओं को आवाज़ देकर कुमार ने यूट्यूब पर वीडियो चलाए हैं) की लोकप्रियता देख पार्टी के नेताओं को ये अहसास हो गया है कि कुमार की पार्टी के बाहर भी यूथ के बीच काफी लोकप्रियता है। इसलिए पार्टी अगर अभी कुमार को बाहर का रास्ता दिखाती है तो बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है।

कुमार ने बड़े ही चतुर तरीके से पार्टी के मूल सिद्धांतों की बात करके और वालंटियर्स को प्राथमिकता देने जैसे मुद्दों को उठाकर अपने लिए पार्टी के वालंटियर्स के एक बड़े तबके के बीच सॉफ्ट कार्नर तैयार कर लिया। जिसका एहसास पार्टी को भी हो गया।

एक के बाद एक लगातार चुनाव हारने के बाद टूट—फूट चुकी आम आदमी पार्टी के नेता और रिस्क लेना नही चाह रहे हैं। दूसरी और बीजेपी बड़े आक्रामक तरीके से दिल्ली की गलियो में घूम घूम कर लोगों को अपने पक्ष में करने की ज़ी तोड़ मेहनत कर रही है।

ऐसे में आम आदमी पार्टी सुप्रीमो ने राजनीति छोड़ कर सरकार के काम पर ध्यान देना शुरू कर दिया है। इतना ही नही आप के मुखिया जो कभी अपनी विधानसभा में जाकर देखते तक नही थे आजकल कई कई चक्कर काट कर रहे हैं और वहां के लोगों से मिल रहे हैं।

इसके अलावा पंजाब में जल्द स्थानीय निकाय के चुनाव भी होने हैं। आप दिल्ली का काम एक बार फिर पंजाब में दिखाकर वोट लेना चाहेगी। इन सब तथ्यों को ध्यान में रखते हुए कुमार से आप के नेताओं ने फोकस हटा लिया है। वहीं कुमार भी राजस्थान की जिम्मेदारी मिलने के बाद वहां की गतिविधियों में व्यस्त हैं।

अब यह लड़ाई 2017 के अंत में दिखाई देगी जब आप से कई सांसद चुनकर राज्यसभा जाएंगे, क्योंकि ये सारी लड़ाई राज्यसभा की कुर्सी की है, कुमार भी उनमें से एक हैं जो राज्यसभा जाना चाहते हैं।

Next Story
Share it