Top
राजनीति

दो दिवसीय भारत दौरे पर आएंगे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, क्या दोनों देशों की बीच ट्रेड डील पर लगेगी मुहर?

Nirmal kant
5 Feb 2020 9:51 AM GMT
दो दिवसीय भारत दौरे पर आएंगे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, क्या दोनों देशों की बीच ट्रेड डील पर लगेगी मुहर?
x

23-26 जनवरी के बीच भारत दौरे पर आ सकते अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, दोनों देशों के बीच ट्रेड डील पर लग सकती है मुहर...

जनज्वार। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत दौरे पर आ सकते हैं। माना जा रहा है कि इस दौरान दोनों देशों के बीच ट्रेड डील पर बात होगी। ट्रेड डील पर दोनों देश हस्ताक्षर कर सकते हैं।

माचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक कई सूत्रों ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे के दौरान दोनों देशों के बीच ट्रेड डील हो सकती है। उन्होंने कहा कि भारत और अमेरिका के ट्रेड अधिकारी खास क्षेत्रों के लिए डील को अंतिम रूप दे सकते हैं।

ट्रंप 23 फरवरी से 26 फरवरी के बीच दो दिवसीय भारत दौरे पर आने वाले हैं। इस छोटे से दौरे के दौरान वह अधिकांश समय राजधानी दिल्ली में बिताएंगे। हालांकि वह दूसरे शहरों में भी जा सकते हैं। ट्रंप के दौरे के लिए जिन शहरों पर विचार किया जा रहा है उनमें आगरा और अहमदाबाद शामिल हैं।

संबंधित खबर : अमेरिका-ईरान तनाव के बीच भारत बयान तो दे रहा है, लेकिन कूटनीतिक दुनिया में उपेक्षित क्यों है हमारा देश

मेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के पहले भारत दौरे से पहले वॉशिंगटन की एक उच्च स्तरीय लॉजिस्टिक्स टीम ने पिछले सप्ताह तैयारियों को लेकर दौरा किया। एक सूत्र ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की यात्रा के दौरान व्यापार सहयोग और रक्षा सहयोग को बढ़ाने के लिए एक समझौते पर मुहर लगने की संभावना है।

ता दें भारत स्टील और एल्यूमिनियम के प्रोडक्ट्स पर लगाए गए टैरिफ को कम करने की मांग कर रहा है। भारत अमेरिका के बाजार में अपने उत्पादों जैसे ऑटोमोबाइल, ऑटोकंपोनेंट्स और इंजीनियरिंग आदि के लिए अधिक से अधिक पहुंच बनाने के लिए दबाव बना रहा है। वहीं दूसरी ओर अमेरिका भारत में अपने फार्म और विनिर्माण उत्पादों, डेयरी वस्तुओं और चिकित्सा उपकरणों के लिए अधिक बाजार पहुंच चाहता है।

में भारत अमेरिका को निर्यात 52 बिलियन था जबकि आयात 35.5 बिलियन था। व्यापार घाटा 2017-18 में 21.3 बिलियन था जबकि 2018-19 में 16.9 हो गया। भारत में साल 2018-19 में अमेरिका से प्रत्यक्ष विदेश निवेश यानि एफडीआई 3.13 बिलियन मिला जो कि साल 2017-18 की तुलना में 2 बिलियन अधिक था।

संबंधित खबर : अमेरिकी जनता नहीं करती राष्ट्रपति ट्रम्प पर भरोसा और मोदी हैं जुमलेबाज प्रधानमंत्री

भारत ने पिछले साल 2018 के गणतंत्र दिवस परेड में मुख्य अतिथि के रूप में डोनाल्ड ट्रंप को आमंत्रित किया था लेकिन तब समय की शेड्यलिंग के चलते नहीं आ सके। बीते साल 2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब अमेरिका का दौरा किया था। तब उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को भारत आने का न्यौता दिया था।

Next Story

विविध

Share it