Top
समाज

गुजरात में दलितों की पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने किया मुख्य आरोपी को गिरफ्तार

Prema Negi
5 Nov 2019 5:38 PM GMT
गुजरात में दलितों की पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने किया मुख्य आरोपी को गिरफ्तार
x

दलित नेता और निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवानी ने ट्वीट कर पुलिस को किया था आगाह, मेरी आंख के नीचे दलितों के साथ ऐसी दादागीरी नहीं चलेगी, आज ही इन्हें गिरफ्तार करो वरना हम रास्ते पर प्रदर्शन करेंगे...

जनज्वार। केंद्र की मोदी सरकार देश के विकास के तमाम दावे-वादे करती है, कहा जाता है कि देश विकास के पथ पर अग्रसर है, समाज से जातियों का भेद मिट गया है। हमारे तमाम माननीय दलितों के घर खाना खाते मीडिया में दिखाई देते हैं मगर इस तथाकथित विकास का आईना हर रोज सामने आता रहता है। मोदी के गृहराज्य गुजरात में ही दलित युवाओं की मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है। इसमें एक युवक बुरी तरह घायल हो गया तो अन्य तीन को भी बहुत मारा गया है।

गुजरात के अहमदाबाद स्थित साबरमती इलाके में एक दलित युवा की पिटाई का सनसनीखेज मामला सामने आया। इस घटना में साबरमती इलाके में रविवार 3 नवंबर की रात को कुछ लोगों ने एक दलित व्यक्ति को बुरी तरह पीटा, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ।

ये घटना साबरमती इलाके के एक भोजनालय में घटी। यहां एक दलित युवक अपने कुछ दोस्तों के साथ एक रेस्तरां पर खाने के लिए गया था, जहां रेस्तरां मालिक के साथ दलित शख्स की किसी बात पर तू-तू, मैं-मैं हो गयी, जिसके बाद रेस्तरां मालिक के साथ मिलकर कुछ अन्य लोगों ने दलित लड़के और उसके साथियों को बुरी तरह पीट दिया।

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि जब ये दलित युवा जब ढाबे पर खाना खा रहे थे तो खाने की थाली नीचे गिर गयी, जिस पर ढाबा ​मालिक ​चीखने—चिल्लाने लगा और उसके बाद कुछ लोगों के साथ मिलकर दलित युवकों को पीट दिया। इस घटना का वीडियो किसी ने शूट कर लिया और सोशल मीडिया पर डाल दिया।

बाद में पुलिस ने मारपीट में बुरी तरह घायल प्रज्ञनेश परमार की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की। पुलिस के पास दर्ज कराई गई शिकायत में प्रज्ञनेश परमार ने कहा कि वह और उसके दोस्त खाना खाने के लिए महेश ठाकोर के भोजनालय गये थे, जहां गलती से उससे एक थाली गिर गई। इसके बाद महेश, जोगी ठाकोर और दो अन्य लोगों ने उसकी और उसके दोस्तों की पिटाई कर दी, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हुआ।

पिटाई के बाद एक दलित युवक प्रज्ञनेश परमार की हालत काफी खराब हो गयी थी, जबकि अन्य को भी खासी चोटें आयीं। अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में इन दलित युवाओं को इलाज के लिए भर्ती किया गया। दलित लडकों को पीटने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद दलित नेता और निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवानी ने भी इसे पोस्ट किया।

जिग्नेश मेवानी ने ट्वीटर पर यह वीडियो शेयर करते हुए लिखा है "अगर 24 घंटे के भीतर पुलिस ने दो युवा दलितों को पीटने वाले आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया तो मैं गुजरात बंद का ऐलान करूंगा, ऐसा मत समझिए की दलित डरपोक हैं, हम भी संविधान मानते हैं।"

जिग्नेश मेवानी ने ट्वीट कर कहा कि, 'मैंने इस मामले में पुलिस थाने में भी बात की है। मेरी आंख के नीचे दलितों के साथ एसी दादागीरी नहीं चलेगी, आज ही इन्हें गिरफ्तार करो वरना हम रास्ते पर प्रदर्शन करेंगे।'

ब इस मामले में कार्रवाई करते हुए दलित लड़कों की पिटाई करने वाले मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है, जिसकी सूचना खुद जिग्नेश मेवानी ने ट्वीटर पर साझा की है।

पने ट्वीटर हैंडल पर जिग्नेश मेवानी ने आज 5 नवंबर की रात को ट्वीट करते हुए लिखा है, मुझे बताया गया है कि मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस कार्रवाई के लिए गुजरात पुलिस को धन्यवाद। मुझे आशा है कि राज्य सरकार भविष्य के लिए यह सुनिश्चित करे कि आईंदा ऐसी कोई घटना दलितों और अन्य कमजोर समूहों के खिलाफ न हो।'

टनाक्रम के मुताबिक रेस्तरां में हुए विवाद मामले में दलित और ठाकोर समाज के लोगों के बीच मारपीट हुई थी। पुलिस ने इस मामले में 4 नवंबर की रात को एफआईआर दर्ज कर ली थी, साथ ही साबरमती थाना पुलिस के मुताबिक तभी एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया था, जबकि वीडियो के आधार पर दो आरोपियों की तलाश करने की बात पुलिस लगातार कर रही थी।

Next Story

विविध

Share it