समाज

पानी की तलाश में नाले में गिरा तेंदुआ, घंटों की मशक्कत के बाद निकाला बाहर

Janjwar Team
25 May 2018 9:52 PM GMT
पानी की तलाश में नाले में गिरा तेंदुआ, घंटों की मशक्कत के बाद निकाला बाहर
x

बलरामपुर में नाले में गिरा तेंदुआ टूटी कमर, घंटों की मशक्कत के बाद निकाला वन विभाग की टीम ने निकाला बाहर

फरीद आरजू

बलरामपुर, जनज्वार। गर्मी का लगातार बढ़ रहा पारा इंसानों के साथ—साथ जीव जंतुओं की जिंदगी पर भी भारी पड़ता जा रहा है। बलरामपुर में पानी की तलाश में भटक रहा तेंदुआ पहाड़ी नाले में गिर गया, जिससे उसे काफी चोटें आईं। घंटों की मशक्कत के बाद उसे नाले से बाहर निकाला जा सका।

इस तरह की जो भी घटनाएं हो रही हैं, यानी वन्यजीव इंसानी बस्तियों की तरफ आ रहे हैं उसका कारण है तेजी से जंगलों के आसपास के क्षेत्रों के पेड़—पौधों का कटान। इस घटना पर भी वनरक्षकों का कहना है कि पानी और शिकार की तलाश में ही यह तेंदुआ जंगल से तकरीबन दो किलोमीटर बाहर आ गया।

इस घटना के मुताबिक एक तेंदुआ पानी की तलाश में भटक रहा था और नाले के पास जब उसने पानी पीने की कोशिश की तो गिर गया। टीले से गिरने के कारण तेदुएं को गम्भीर छोटे आयी हैं और वह चलने फिरने से असमर्थ हो गया।

घटना की जानकारी मिलते ही वन विभाग की टीम मौके पर पहुँच कर तेदुएं के बचाव में जुट गई।उत्तर प्रदेश के बलरामपुर स्थित सोहेलवा वन्य जीव प्रभाग के वनकटवा रेंज के हिंगहा नाले में पानी की तलाश में तेन्दुआ गिर गया, जिससे उसकी कमर की हड्डी टूट गयी, घायल अवस्था में पहाड़ी नाले में पड़ा तेंदुआ घंटों कराहता और दहाड़ता रहा।

वृहस्पतिवार, 24 मई की सुबह तेदुएं कराहने की आवाज सुनकर सैकड़ों की तादाद में ग्रामीण मौके पर पहुच गए और वन विभाग को सूचना दी। ग्रामीणों की सूचना पर डीएफओ सहित वनविभाग और एसएसबी की टीम मौके पर पहुँच कर तेदुएं के बचाव में जुट गई। गम्भीर रूप से घायल तेदुएं को टंकुलाइज करने के लिये लखनऊ से बुलाई गई टीम घंटों कड़ी मशक्कत के बाद लखनऊ लेकर रवाना हो गयी।

गौरतलब है कि इससे पहले 15 अक्टूबर, 2017 को भी एक तेंदुआ बलरामपुर के गांवों में घुस गया था। तब तेंदुए ने अतरपरी गांव की पांच वर्षीया मासूम रिंकी पर हमला किया था, जिससे बच्ची की मौत हो गई थी। ग्रामीणों के पीछा करने पर तेंदुआ बच्ची के शव को छोड़कर जंगल की तरफ भाग गया था। बाद में उसी रात पड़ोस के गांव रामडीह में घुसकर दहशत मचाई थी।

यहां भी तेंदुए ने घर के बाहर सो रही एक बूढ़ी महिला पर हमला किया, जिसमें महिला गम्भीर रूप से घायल हुई। महिला के शोर मचाने पर जब ग्रामीण उसकी तरफ आ तो तेंदुए वहां से भाग गया था।

Next Story

विविध