आदमी रोड एक्सीडेंट में मरे हुए जानवर का मांस खा रहा है. मरा हुआ जानवर कुत्ते जैसा लग रहा है. मरे हुए जानवर को खाते देख सड़क पर कार में जाता एक आदमी उसकी मदद के लिए आगे आता है और उसे मांस खाने से रोकता है….

जनज्वार। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल है. जिसमे साफ़ साफ़ देखा जा सकता हैं की एक आदमी रोड एक्सीडेंट में मरे हुए जानवर का मांस रहा है. मरा हुआ जानवर कुत्ते जैसा लग रहा है. मरे हुए जानवर को खाते देख सड़क पर कार में जाता एक आदमी उसकी मदद के लिए आगे आता है और उसे मांस खाने से रोकता है.

सके बाद वह व्यक्ति उससे कुछ बात करते हुए भी नजर आता हैं. जानवर का मांस खाते हुए व्यक्ति को कार वाले व्यक्ति सड़क के दूसरे पार बुलाकर उसे अपने गाडी से खाना देता हैं. उसे कहता हैं ये गन्दी चीज़े हैं इसे मत खाओ. वीडियो काफी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा हैं. इसकी जानकारी मीडिया रिपोर्ट्स से पता लगा की दिल्ली-जयपुर नेशनल हाइवे का वीडियो है. राजस्थान के शाहपुरा में हाइवे पर ये मजदूर भूख के चलते ऐसा कर रहा था.

गल्फ न्यूज़ के मुताविक जयपुर से लगभग 40 किलोमीटर दूर दिल्ली-जयपुर-अजमेर बायपास का ये वीडियो है. मांस खाने वाला व्यक्ति मजदूर है या नहीं. इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है. लेकिन भूख के कारण उसकी हालत इतनी बुरी थी कि जानवर की मांस खाने को मजबूर था. इस वीडियो को लेकर कई बड़ी हस्तियों ने भी ट्वीट किया हैं.

ही इसपर gulfnews.com विस्तार से अपने रिपोर्ट में लिखा हैं की ” उन्होंने बताया कि वो मजदूर है या नहीं. इस बारे में उन्हें ज्यादा जानकारी नहीं है. हमने पूछा कि कहीं ऐसा तो नहीं कि मेंटली अनस्टेबल होने के चलते वो व्यक्ति कच्चा मांस खा रहा हो. प्रधुम्न ने बताया कि उसकी बातों से ऐसा लग नहीं रहा था.

सने कुछ पैसे भी मांगे थे और बातों का जवाब भी दे रहा था. हालांकि उसके पहने कपड़े काफी अस्त-व्यस्त थे. लेकिन भूख के कारण उसकी हालत इतनी बुरी लग रही थी कि प्रधुम्न को खाना खिलाना ही प्राथमिकता लगी. उन्होंने अन्य बारीकियों पर गौर नहीं किया.

प्रधुम्न ने ये भी बताया कि वीडियो वायरल होने के बाद से उस व्यक्ति की तलाश जारी है. प्रशासन के स्तर पर भी उसे खोजे जाने की बात प्रधुम्न ने कही है. थानों और पुलिस के बड़े अफसरों ने उनसे संपर्क किया, प्रधुम्न को जानकारी थी, उन्होंने वो पुलिस को बताई भी.

सोशल मीडिया पर भी इस शख्स को खोजे जाने की बातें चल पड़ी हैं. आगे चलकर और अपडेट्स आ सकते हैं. तभी इस बारे में पूरी जानकारी मिलेगी कि क्या ये सच में प्रवासी मजदूर है.