समाज

शंभूलाल रैगर का जेल से आया वीडियो, फैली सनसनी

Janjwar Team
19 Feb 2018 6:51 PM GMT
शंभूलाल रैगर का जेल से आया वीडियो, फैली सनसनी
x

उठे वसुंधरा सरकार पर सवाल उनके राज्य में एक ऐसी जेल जिसमें खतरनाक कैदी बंद हैं, कोई वीडियो अपराधी शंभूलाल रैगर सोशल मीडिया पर डाल पाया...

जयपुर, जनज्वार। याद है न शंभूलाल रैगर, जिसने एक मुस्लिम अफराजुल की न सिर्फ नृशंसता से हत्या कर दी थी, बल्कि उसका लाइव वीडियो भी बनवाकर सोशल मीडिया पर लव जिहाद के नाम पर वायरल करवा दिया था। फिलहाल वह जेल में बंद है। अब यही मानसिक विकृति का शिकार शंभूलाल रैगर एक बार फिर चर्चा में है, इस बार फिर उसने एक वीडियो बनाया है, वह भी जेल की सलाखों के पीछे से। इसमें भी उसने हिंदू भावनाओं को भड़काने वाली ही बातें कही हैं।

वसुंधरा राज में एक दुर्दांत अपराधी जेल की सींखचों के पीछे वीडियो भी बना लेता है, मगर शासन—प्रशासन को कानोंकान खबर तक नहीं लगती। वीडियो भी उस जेल से बना लेता है, जहां की सुरक्षा व्यवस्था को बहुत कड़ी बताया जाता है। इस बार बनाये वीडियो में भी शंभूलाल ने हिंदू भावनाओं को कैश करने की कोशिश की है।

ये भी पढ़ें : मुस्लिम मजदूर के टुकड़े कर जलाने वाला सनकी गिरफ्तार

वीडियो में शंभूलाल कहते हुए सुनाई दे रहा है कि वह मरने से नहीं डरता, लेकिन जिहाद देश के लिए खतरा है। मुझे कोई अफसोस नहीं है कि मैंने अफराजुल को मारा। सारा मामला पुलिस जांच में सामने आ जाने के बावजूद वह वीडियो में कहता दिख रहा है कि उसने अफराजुल को लाइव मौत इसलिए दी क्योंकि जिहादियों यानी मुस्लिमों ने हिन्दू बेटियों पर जिहादी टिप्पणी की थी। उसकी के बाद उसने बंगाली मजदूर की हत्या की थी और इसका उसे कोई अफ़सोस नहीं है।

मगर जेल से वीडियो वायरल होने के बाद जोधपुर सेंट्रल जेल की सुरक्षा पर सवाल जरूर खड़े हो रहे हैं। सवाल इसलिए कि एक खतरनाक कैदी जो किसी को लाइव मौत दे सकता है, मोबाइल फोन से जेल में अपना वीडियो बनाकर उसे सोशल मीडिया पर डाल देता है और जेल प्रशासन को इसकी भनक तक नहीं लगती। जिस जेल में शंभूलाल बंद है, वहां कई बड़े कैदी कैद हैं। अगर यही हाल रहा तो ये शासन व्यवस्था के लिए बड़ा खतरा बन सकते हैं।

ये भी पढ़ें : हत्यारे को सांसद—मंत्री के ग्रुप में मिली शाबासी, एडमिन है भाजपा कार्यकर्ता

जेल से वायरल हुए रैगर के वीडियो पर वरिष्ठ पत्रकार सागरिका घोष ने ट्वीट किया है, 'प्रिय वसुंधरा बीजेपी एक आदमी जोकि नृशंस तरीके से एक हत्या को लाइव अंजाम देने के आरोप में जेल में बंद है, उसने फिर से नफरत फैलाने वाला वीडियो कैसे प्रसारित किया, उसकी इसे इजाजत कैसे मिली, क्या इससे सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े नहीं होते।'

गौरतलब है कि शंभूलाल रैगर ने एक मुस्लिम को लव जिहाद के नाम पर मारने की बात कह हिंदुओं की भावनाओं को न सिर्फ भुनाया था बल्कि कैश भी करवा लिया। 500 से ज्यादा कट्टर अंध समर्थकों ने उसकी सहायता के लिए रैगर के अकाउंट में पैसे डाले थे। पिछले साल 6 दिसंबर को उसने इस घटना को अंजाम दिया था।

ये भी पढ़ें : जिस हिंदू बहन के नाम पर की थी रैगर ने अफराजुल की हत्या, उसी का एक साल से कर रहा था बलात्कार

ये बात और है कि लव जिहाद केस के इस मुख्य आरोपी शंभूलाल रैगर ने अपने अवैध संबंध से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए राजसमंद में मुस्लिम मजदूर की नृशंसता से हत्या कर उसका शव जला दिया था। क्योंकि जिस जिस लड़की के नाम पर उसने मुस्लिम अफराजुल की हत्या की थी, उस नाबालिग लड़की का वह खुद एक साल से बलात्कार कर रहा था। उसने एक साल तक नाबालिग लड़की को जबरन अपने कब्जे में रखा था।

अपनी उस तथाकथित बहिन का सालभर तक न सिर्फ खुद बलात्कार किया था, बल्कि दूसरों के सामने भी उसे परोस दिया था। उस लड़की को जब कुछ रुपयों की ज़रूरत पड़ी तो शंभूलाल रैगर ने उसे एक बैंक मैनेजर के सामने परोस दिया। कहा, 'बैंक मैनेजर को ख़ुश कर दे तो तेरा काम फौरन हो जाएगा।' यह बात शंभूलाल रैगर की पत्नी सीता और नाबालिग लड़की ने पुलिसिया बयान में साझा की थी।

Next Story

विविध